नार्थ कोरिया में हत्या, कैद, रेप, जबरन गर्भपात जैसी जघन्य मानवाधिकार उल्लंघन की घटनएं हो रही हैं: बान की मून

By: | Last Updated: Wednesday, 19 February 2014 5:45 AM
नार्थ कोरिया में हत्या, कैद, रेप, जबरन गर्भपात जैसी जघन्य मानवाधिकार उल्लंघन की घटनएं हो रही हैं: बान की मून

संयुक्त राष्ट्र: संयुक्त राष्ट्र महासचिव बान की मून ने संयुक्त राष्ट्र की अनिवार्य जांच का हवाला देते हुए उत्तर कोरिया में मानवाधिकार उल्लंघन की ‘‘चिंताजनक’’ स्थिति पर ‘‘गहरी चिंता’’ जताई और उम्मीद जताई कि इस रिपोर्ट से अंतरराष्ट्रीय स्तर पर जागरूकता बढ़ेगी. जांच आयोग (सीओआई) ने उत्तर कोरिया पर इकट्ठा इस विस्तृत और व्यापक रिपोर्ट में प्योंगयोंग के अधिकारों के रिकॉर्ड, हत्या का विवरण, दासता, प्रताड़ना, कैद, बलात्कार, जबरन गर्भपात और अन्य यौन हिंसा को लेकर यह गंभीर आरोप पेश किए गए हैं.

 

एक बयान में बान ने देश के औपचारिक नाम डेमोक्रेटिक पिपुल्स रिपब्लिक ऑफ कोरिया (डीपीआरके) का प्रयोग करते हुए यहां होने वाले मानवाधिकार उल्लंघनों और मानवीय स्थिति पर गंभीर चिंता जताई. उन्होंने कहा, ‘‘डीपीआरके पर जांच आयोग द्वारा जारी इस तरह की रिपोर्ट के निष्कर्षों को जानकर उन्हें गहरा आघात पहुंचा है.’’ बान ने इस बात का उल्लेख करते हुए कहा कि संयुक्त राष्ट्र की स्वतंत्र संस्था मानवाधिकार परिषद द्वारा इस जांच आयोग का गठन किया गया है और उन्होंने यह भी कहा कि उन्हें उम्मीद है कि इस रिपोर्ट से डीपीआरके में मानवाधिकार उल्लंघन को लेकर अंतरराष्ट्रीय स्तर पर जागरूकता फैलेगी.

 

साथ ही उन्होंने उत्तर कोरियाई प्रशासन से भी आग्रह किया कि वे मानवाधिकार मामलों में प्रगति और अपनी जनता की वर्तमान स्थिति में सुधार के लिए अंतरराष्ट्रीय समुदाय से मेलजोल बढ़ाएं. उत्तर कोरिया ने आयोग के साथ सहयोग से इंकार किया है और यह दावा किया कि जांच आयोग द्वारा प्रस्तुत प्रमाण ‘‘शत्रु’’ बलों द्वारा ‘‘गढ़े’’ गए हैं.

India News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: नार्थ कोरिया में हत्या, कैद, रेप, जबरन गर्भपात जैसी जघन्य मानवाधिकार उल्लंघन की घटनएं हो रही हैं: बान की मून
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
First Published:

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017