पटना में परिवर्तन रैली कर लालू ने दिखाई ताकत

By: | Last Updated: Wednesday, 15 May 2013 8:54 AM

पटना: राष्ट्रीय
जनता दल (आरजेडी) के अध्यक्ष
लालू प्रसाद ने बुधवार को
यहां के गांधी मैदान में
आयोजित पार्टी की परिवर्तन
रैली में कहा कि वह जनता के
सामने नतमस्तक हैं.

मुख्यमंत्री
नीतीश कुमार को राष्ट्रीय
स्वयंसेवक संघ (आरएसएस) का
‘तोता’ बताते उन्होंने कहा कि
अब बिहार में नीतीश सरकार का
पतन तय है.

रैली में भारी
भीड़ जुटी. लोगों को संबोधित
करते हुए लालू ने कहा कि उनकी
सरकार सत्ता में आते ही सबसे
पहले अनुबंध पर कार्य कर रहे
शिक्षकों को नियमित करेगी.
उन्होंने आरोप लगाया कि
नीतीश के राज में शिक्षकों की
अनदेखी हुई है. हक देने के
बजाय उन्हें लाठी मारी जा रही
है. इसलिए नीतीश सरकार की
विदाई का समय आ गया है.

लालू
ने कहा, “हमारा बेटा लालटेन
नहीं थामेगा तो क्या कमल और
तीर थामेगा!”

नीतीश पर
तानाशाही का आरोप लगाते हुए
कहा उन्होंने कहा कि आज बिहार
में अधिकारी जनप्रतिनिधि की
बात नहीं सुनते. नीतीश तो
दावे सुशासन की करते हैं, मगर
राज्य में ऊपर से नीचे तक
भ्रष्टाचार का बोलबाला है.

पूर्व
रेल मंत्री ने मुख्यमंत्री
पर निशाना साधते हुए कहा कि
नीतीश की सभा में काला कपड़ा
पहनने वालों को नहीं आने दिया
जाता है.”

उन्होंने अपने
चिर-परिचित अंदाज में कहा, “हम
काले हैं तो क्या हुआ दिलवाले
हैं, अब हम तुमको बिहार से
भगाने वाले हैं.” लालू ने अपने
संबोधन में नीतीश सरकार की
कमियां गिनाईं और कहा कि
सवर्ण जाति के जिन लोगों ने
नीतीश को वोट दिया था, वे अब
पछता रहे हैं.

उन्होंने
पिछली और वर्तमान सरकार की
तुलना करते हुए कहा, “हमारे
राज में बेटी-बहनों की अस्मत
नहीं लुटती थी, लेकिन आज रेप
की घटनाएं बढ़ रही हुई हैं.
लालू के राज में बच्चे स्लेट
लेकर स्कूल जाते थे, अब प्लेट
लेकर जाते हैं.” लालू ने यह भी
कहा कि जो जनता माला पहनाती
है, वह जूता मारना भी जानती है.

उन्होंने कहा कि बिहार
में विकास कम हो रहा है,
ढिंढोरा ज्यादा पीटा जा रहा
है. नीतीश की दलाली करने वाले
कहते हैं कि बिहार अमेरिका से
आगे निकल गया है, जबकि हकीकत
कुछ और है.

लालू ने कहा, “आज
बिहार में अल्पसंख्यकों पर
जुल्म हो रहा है. उन्हें
आतंकवादी के नाम पर गिरफ्तार
किया जा रहा है, मगर सरकार चुप
है. नीतीश आरएसएस का तोता हैं,
वह भाजपा और आरएसएस की गोद
में बैठकर सरकार चला रहे हैं.”

आरजेडी अध्यक्ष ने
परिवर्तन रैली में आए लोगों
को धन्यवाद दिया. रैली को
लालू की पत्नी एवं पूर्व
मुख्यमंत्री राबड़ी देवी,
सांसद रघुवंश प्रसाद सिंह,
पूर्व मंत्री रघुनाथ झा सहित
कई नेताओं ने संबोधित किया.

 रैली
के मंच पर लालू के दोनों बेटे
तेजस्वी और तेजप्रताप लोगों
का अभिवादन करते देखे गए.

पूरा
बिहार है हमारा परिवार:
राबड़ी

 
बिहार की पूर्व
मुख्यमंत्री और राष्ट्रीय
जनता दल (आरजेडी) की नेता
राबड़ी देवी ने बुधवार का कहा
कि पूरा बिहार उनका परिवार
है. वह अपने परिवार को छोड़कर
बिहार से कहीं नहीं जाएंगी.
पटना के गांधी मैदान में
आरजेडी की परिवर्तन रैली को
संबोधित करते हुए राबड़ी ने
कहा, “आज कुछ लोग आरोप लगा रहे
हैं कि हम दिल्ली भाग गए हैं
लेकिन हम आपके साथ हैं. पूरा
बिहार हमारा परिवार है.”

उन्होंने
रैली में आए लोगों का आह्वान
करते हुए कहा, “आप सभी के
समर्थन से हम नीतीश सरकार को
उखाड़ फेंकेंगे.” पूर्ववर्ती
आरजेडी सरकार की उपलब्धियों
की चर्चा करते हुए उन्होंने
कहा कि आरजेडी शासन में
गरीबों को जुबान मिली थी.

राबड़ी
ने कहा कि अब नीतीश को बिहार
की जनता छोड़ने वाली नहीं है.
पूरे राज्य में लूट,
भ्रष्टाचार और घोटाला है.
उन्होंने लोगों से कहा, “रैली
में आने के लिए आप सभी को
धन्यवाद देती हूं, आपके
उत्साह को देखते हुए मैं भी
उत्साहित हूं.”

उन्होंने
नीतीश पर प्रहार करते हुए
कहा, “नीतीश कुमार आरजेडी की
परिवर्तन रैली के डर से
दिल्ली भाग गए. बिहार की जनता
लावारिस नहीं है, यहां की
जनता के साथ हम हैं.”

India News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: पटना में परिवर्तन रैली कर लालू ने दिखाई ताकत
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
और जाने: ???? ?????? ????
First Published:

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017