फास्ट ट्रैक कोर्ट के गठन का दिया भरोसा: आमिर

फास्ट ट्रैक कोर्ट के गठन का दिया भरोसा: आमिर

By: | Updated: 09 May 2012 07:11 AM








जयपुर: अपने टेलीविजन
शो 'सत्यमेव जयते' से कन्या
भ्रूण हत्या के मुद्दे पर नई
बहस छेड़ने वाले अभिनेता
आमिर खान ने कहा है कि
मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने
फास्ट ट्रैक कोर्ट के गठन का
आश्वासन दिया है.




राजस्थान के मुख्यमंत्री
अशोक गहलोत से मुलाकात के बाद
साझा प्रेस कॉन्फ़्रेंस में
आमिर खान ने कहा,
"मुख्यमंत्री से कन्या भ्रूण
हत्या के दोषियों को सजा
दिलाने के लिए फास्ट ट्रैक
कोर्ट के गठन पर चर्चा हुई है.
मुख्यमंत्री इस सिलसिले में
चीफ जस्टिस से बात करेंगे."




आमिर ने कहा कि उन्हें पहले
से यह उम्मीद नहीं थी कि यह शो
इस कदर लोकप्रिय होगा और इसका
इतना व्यापक असर पड़ेगा. इस
शो के करने से उन्हें काफी
खुशी हो रही है.




आमिर ने साफ किया कि वह
एक्टिविस्ट नहीं है, बल्कि
बुनियादी तौर पर वह एक
इंटरटेनर ही हैं, लेकिन
अलग-अलग मुद्दों पर काम करते
हैं और यही उनकी फितरत भी है.




अभिनेता का कहना था कि
परिवर्तन एक दिन में होता है
और इसके लिए मानसिकता बदलने
की जरूरत है.




उन्होंने मीडिया की भी जमकर
तारीफ की और अपने मुलाकात को
काफी फायेमंद बताया.




दूसरी ओर मुख्यमंत्री अशोक
गहलोत ने आमिर की जमकर तारीफ
की और कहा कि उनका शो काफी
अच्छा है और इससे उन सामाजिक
मुद्दों पर काम करने का मौका
मिल रहा है जिससे हमारा समाज
ग्रस्त है.




उन्होंने कहा,"जो काम सरकार
नहीं कर सकती, विज्ञापन नहीं
कर सकता. संगठन नहीं कर सकते,
वह काम आमिर का शो सत्यमेव
जयते शो कर सकता है."





मुलाकात के पीछे




ग़ौरतलब है कि अपने टेलीविजन
शो 'सत्यमेव जयते'  के जरिए
देश की तस्वीर बदलने निकले
आमिर खान ने बुधवार शाम
राजस्थान के मुख्यमंत्री
अशोक गहलोत से मुलाकात की, जो
करीब आधे घंटे चली.




स्‍टार प्‍लस पर प्रसारित
'सत्‍यमेव जयते' के पहले
एपिसोड में अभिनेता आमिर खान
ने कन्या भ्रूण हत्या का
मुद्दा उठाया था.




इस मुलाकात के दौरान कन्या
भ्रूण हत्या पर हुए स्टिंग
ऑपरेशन से जुड़े सारे केस के
निपटारे के लिए आमिर ने सीएम
से फास्ट ट्रैक कोर्ट के गठन
की मांग रखी.




दरअसल, राजस्थान के दो
पत्रकारों मीना शर्मा और
श्रीपाल शक्तावत ने  2005 में कई
अस्पतालों और नर्सिंग होम का
स्टिंग ऑपरेशन किया था,
जिसमें डॉक्टरों को कन्या
भ्रूण की हत्या के बदले पैसे
लेते दिखाया गया था. इन दोनों
पत्रकारों का ये स्टिंग
ऑपरेशन रविवार को आमिर के शो
सत्यमेव जयते में भी दिखाया
गया था.




इस स्टिंग ऑपरेशन को दिखाए
जाने के सात साल बाद भी आज तक
किसी आरोपी को सजा नहीं सुनाई
गई. ये मामले अलग-अलग अदालतों
में चल रहे हैं और दोनों
पत्रकार आज भी कानूनी लड़ाई
में उलझे हुए हैं.




फटाफट ख़बरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर और डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App
Web Title:
Read all latest India News headlines in Hindi. Also don’t miss today’s Hindi News.

First Published:
Next Story मुंबई: बेबी मोशे के साथ नरीमन हाउस पहुंचे इजरायल के पीएम नेतन्याहू