फैसले लेने से हिचकें नहीं नौकरशाह: पीएम

फैसले लेने से हिचकें नहीं नौकरशाह: पीएम

By: | Updated: 21 Apr 2012 01:20 AM


नई
दिल्‍ली:
प्रधानमंत्री
मनमोहन सिंह ने प्रशासनिक
अधिकारियों से कहा है कि वो
फैसले लेने में किसी तरह की
हिचक महसूस न करें.

सिविल
सर्विस डे पर आयोजित समारोह
में प्रधानमंत्री ने कहा कि
नौकरशाहों को किसी तरह के
राजनीतिक दबाव में नहीं आना
चाहिए.

उन्‍होंने कहा,
'हमारे देश के सिविल
सर्वेंट्स इस डर से फैसला
नहीं ले पाते कि कहीं कुछ गलत
न जो जाए और उनको इसका
खामियाजा न उठाना पड़े.'

प्रधानमंत्री
ने यह भी कहा कि भ्रष्टाचार
खत्म करने के नाम पर किसी
सरकारी अफसर को फंसाया नहीं
जाना चाहिए. उन्‍होंने कहा कि
अगर किसी सरकारी अफसर से
फैसला लेने में गलती होती है
लेकिन फैसले के पीछे उसकी गलत
मंशा न हो तो सरकार ऐसे
कर्मचारियों के हितों का
ध्यान रखेगी. वीडियो
देखें


प्रधानमंत्री के
मुताबिक, 'हमारे पास ऐसी
ब्‍यूरोक्रेसी नहीं है जो
फैसला लेने के लिए शत-प्रतिशत
जोखिम उठाने के लिए तैयार
हों. हमें निर्भिकता से फैसला
लेने वालों के उस फैसले को
प्रोत्‍साहित करना चाहिए.
लेकिन उस फैसले का मकसद सही
और कानून सम्‍मत होना चाहिए.'


प्रधानमंत्री का यह बयान
देश के मुख्य आर्थिक सलाहकार
कौशिक बसु के बयान के बाद आया
है. दरअसल, बसु ने शुक्रवार को
बयान दिया था कि देश में बढ़
रहे घोटालों की वजह से
नौकरशाह फैसला लेने से
हिचकते हैं.

कौशिक के इस
बयान के बाद बहस शुरू हो गई है
कि इस सरकार को 2014 तक रहने का
क्या हक है? 

गौरतलब है कि
कौशिक बसु ने वॉशिंगटन में
बयान दिया था कि घोटाले और
गठबंधन सरकार की मजबूरियों
की वजह से यूपीए सरकार आर्थिक
सुधारों को लागू नहीं करा पा
रही है.

उन्होंने उम्मीद
जताई है कि लोकसभा चुनाव के
बाद गठबंधन की सरकार का दौर
खत्म होगा और तब आर्थिक
सुधारों को प्रभावी तरीके से
लागू किया जा सकता है. लेकिन
सवाल उठता है कि देश अपने
विकास के लिए 2014 तक का इंतजार
क्यों करें?





संबंधित खबरें




कांग्रेस
के लिए ममता बनर्जी नाम की
मजबूरी!
| गठबंधन
धर्म की खातिर भारत ने खोया
दोस्‍त
  |'सरकार
को सत्ता में रहने का हक नहीं'

|सरकार
की नियत में खोट: रामदेव
|दिक्‍कत
में है सरकार: वेणुगोपाल
|
जल्‍द
पास होंगे लंबित बिल: सिब्‍बल

| यूपी
गूंगी-बहरी सरकार है: लेफ्ट





फटाफट ख़बरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर और डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App
Web Title:
Read all latest India News headlines in Hindi. Also don’t miss today’s Hindi News.

First Published:
Next Story योगी सरकार का बड़ा फैसलाः कानपुर, मेरठ और आगरा में चलेगी मेट्रो