बढ़ती जा रही है वीरभद्र सिंह की मुश्किलें, सवाल पूछने पर भड़के, बीजेपी ने की चुनाव आयोग से संपत्ति की गलत जानकारी देने की शिकायत

By: | Last Updated: Wednesday, 1 January 2014 7:48 AM

नई दिल्ली. वीरभद्र सिंह की मुश्किलें कम होने का नाम नहीं ले रही हैं. भ्रष्टाचार को लेकर हिमाचल के सीएम वीरभद्र सिंह पर बीजेपी ने हमला तेज कर दिया है. बीजेपी ने चुनाव आयोग से संपत्ति की गलत जानकारी देने की शिकायत की.

 

घोटाले के आरोपों से घिरे हिमाचल के मुख्यमंत्री वीरभद्र सिंह दिल्ली में हैं. कांग्रेस नेताओं से मुलाकात कर रहे हैं. और उनको अपनी स्थिति स्पष्ट कर रहे हैं.

 

वीरभद्र सिंह पर पैसे लेकर निजी कंपनी को फायदा पहुंचाने का आरोप लगा है. इस मसले पर जब उनसे पत्रकारों ने सवाल पूछा तो वह भड़क गये.

 

भाजपा ने की कार्रवाई की मांग, वीरभद्र जांच को तैयार

हिमाचल प्रदेश के मुख्यमंत्री वीरभद्र सिंह से भ्रष्टाचार के आरोपों को लेकर इस्तीफे की मांग करते हुए भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) की युवा शाखा के करीब 300 प्रदर्शनकारियों ने मंगलवार कांग्रेस के उपाध्यक्ष राहुल गांधी के आवास के बाहर प्रदर्शन किया. दिल्ली पुलिस ने प्रदर्शनकारियों को हिरासत में ले लिया. हिमाचल प्रदेश के मुख्यमंत्री ने आरोपों से इनकार करते हुए कहा कि ये आरोप राजनीतिक मंशा से प्रेरित हैं.

 

करीब दो घंटे तक चले प्रदर्शन के दौरान पुलिस ने प्रदर्शनकारियों को भगाने के लिए जलतोप का भी सहारा लिया. प्रदर्शनकारियों ने राहुल गांधी के आवास के बाहर बैरिकेड तोड़ने का प्रयास किया. बाद में पुलिस ने सभी को हिरासत से छोड़ दिया.

 

भाजपा के सांसद और युवा शाखा के अध्यक्ष अनुराग ठाकुर ने राहुल के आवास के बाहर कहा, “कांग्रेस वीरभद्र को मुख्यमंत्री पद से हटाए क्योंकि उन्होंने एक पनबिजली बनाने वाली कंपनी को राज्य में परियोजना लगाने के लिए अत्यधिक छूट दी है.”

 

दिल्ली पुलिस के एक अधिकारी ने कहा, “प्रदर्शनकारियों ने हटने से मना कर दिया जिससे बाध्य होकर हमने जलतोप से उन पर पानी छोड़ा.”

 

सोमवार को राज्यसभा में नेता प्रतिपक्ष अरुण जेटली ने प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह और कांग्रेस से वीरभद्र के खिलाफ जांच और कार्रवाई की मांग की थी.

 

जेटली ने आरोप लगाया था कि वीरभद्र सिंह ने वेंचर एनर्जी एंड टेक्नोलॉजी प्राइवेट लिमिटेड से 1.5 करोड़ रुपये और 2.4 करोड़ रुपये अपने और अपनी सांसद पत्नी के नाम से चेक के जरिए लिए.

 

उन्होंने कहा कि चूक होने के बावजूद कंपनी को जल विद्युत परियोजना में दो विस्तार दिए गए.

 

जेटली ने कहा, “पिछले दो दशकों में रिश्वत की ऐसी खुली घटना नहीं घटी.”

 

इस बीच वीरभद्र सिंह ने भाजपा पर उनके और उनके परिवार के खिलाफ निराधार आरोप लगाने का आरोप लगाया. उन्होंने कहा कि पूर्व की भाजपा सरकार में गैरकानूनी सौदों में कानूनी कार्रवाई होने से डरी भाजपा इस तरह के आरोप लगा रही है.

India News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: बढ़ती जा रही है वीरभद्र सिंह की मुश्किलें, सवाल पूछने पर भड़के, बीजेपी ने की चुनाव आयोग से संपत्ति की गलत जानकारी देने की शिकायत
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
First Published:

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017