बनारस में मोदी को चुनौती देंगे माफिया डॉन और किन्नर भी

बनारस में मोदी को चुनौती देंगे माफिया डॉन और किन्नर भी

By: | Updated: 30 Mar 2014 01:05 PM
लखनऊ: यदि आप सोचते हैं कि वाराणसी में भारतीय जनता पार्टी  बीजेपी के प्रधानमंत्री पद प्रत्याशी नरेंद्र मोदी को सिर्फ आम आदमी पार्टी (आप) के नेता अरविंद केजरीवाल से ही बड़ी चुनौती मिल रही है तो यहीं मत रुकिए.

 

देश में चर्चित इस सीट पर उतरने वालों की ताजा कड़ी में माफिया डॉन और एक किन्नर भी शामिल हो गए हैं. प्रत्याशी माफिया डॉन अभी जेल में बंद हैं. हत्या के एक मामले में पेशी भुगतने के दौरान उन्होंने बनारस से उतरने की घोषणा की.

 

मुख्तार अंसारी ने मोदी को कड़ी टक्कर देने का दावा किया. उनकी ताकत वाराणसी में 250,000 मुस्लिम मतदाता हैं. 2009 के चुनाव में मुख्तार ने भाजपा नेता मुरली मनोहर जोशी को कड़ी टक्कर दी थी और जोशी महज 17,000 मतों से चुनाव जीत पाए थे. लेकिन उस बार मुख्तार बहुजन समाज पार्टी (बसपा) के उम्मीदवार थे.

 

मुख्तार इस बार अपनी निजी पार्टी, कौमी एकता दल से हैं और मऊ विधानसभा क्षेत्र से विधायक हैं. इस सीट से वह चार बार विधायक बन चुके हैं.

 

 

 

उधर कमला किन्नर ने भी बाबा विश्वनाथ की नगरी में मोदी को चुनौती देने का फैसला लिया है.

 

 

 

कमला के प्रत्याशी बनने के बारे में गोरखपुर में प्रस्ताव पारित किया गया, और उत्तर प्रदेश, बिहार, ओडिशा, दिल्ली, मध्य प्रदेश और झारखंड के किन्नरों से कहा गया है कि वे आगामी सप्ताह वाराणसी पहुंचें और अपने प्रत्याशी के पक्ष में घर-घर प्रचार करें.

 

 

 

किन्नरों की राष्ट्रीय प्रवक्ता सोनम सिंह यादव ने कहा कि गुजरात के मुख्यमंत्री नरेंद्र मोदी के खिलाफ वाराणसी से प्रत्याशी उतारने का फैसला लेने के अलावा समुदाय के लोग मुलायम सिंह यादव को अगला प्रधानमंत्री बनाने के लिए प्रयास करेंगे.

 

उन्होंन कहा, "नेताजी (मुलायम) के बारे में विश्वास है कि वह देश के प्रधानमंत्री के रूप में बेहतर करेंगे."

फटाफट ख़बरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर और डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App
Web Title:
Read all latest India News headlines in Hindi. Also don’t miss today’s Hindi News.

First Published:
Next Story नसीमुद्दीन सिद्दीकी की 'घरवापसी' के बाद कांग्रेस में उठने लगे विरोध के स्वर