बस में गैंगरेप: थरूर के बयान पर नई बहस शुरू

By: | Last Updated: Tuesday, 1 January 2013 9:32 PM

नई
दिल्‍ली:
क्या दिल्ली
गैंगरेप पीड़ित की पहचान
नहीं छिपाई जानी चाहिए?

इस
सवाल पर नई बहस शुरू हो गई है
क्योंकि केंद्रीय मंत्री
शशि थरूर ने ट्वीट किया है कि
पीड़ित के परिवार की मर्जी हो
तो दिल्ली गैंगरेप पीड़ित
लड़की की पहचान बता दी जानी
चाहिए.

पिछले 15 दिनों से
इंसाफ की मांग को लेकर जनता
सड़क पर है. दिल्ली में
गैंगरेप की घटना और फिर
पीड़ित की मौत के बाद देश
गुस्से में है.

लोग नाम और
पहचान जानने की जरूरत भी नहीं
समझते क्योंकि मकसद उससे
बड़ा है. मकसद है
बलात्कारियों को सख्त सजा की
मांग.

लेकिन इस बीच
केंद्रीय मानव संसाधन राज्य
मंत्री शशि थरूर के एक ट्वीट
पर विवाद शुरू हो गया है. थरूर
ने ट्विटर पर लिखा है कि
परिवार की मर्जी से पीड़ित
लड़की का नाम बताया जाना
चाहिए.

थरूर ने ट्विटर पर
लिखा है, ‘पता नहीं क्यों मौत
के बाद भी दिल्ली गैंगरेप
पीड़ित लड़की का नाम और उसकी
पहचान को छिपाया जा रहा है. आप
उसे उसके नाम से सम्मानित
क्यों नहीं करते. अगर लड़की
के माता-पिता को एतराज न हो
बलात्कार के खिलाफ बनने वाले
कड़े कानून का नाम उसके नाम
पर रखा जाना चाहिए.’

थरूर
के इस बयान ने नई बहस शुरू कर
दी है, जहां पूर्व आईपीएस
किरन बेदी थरूर के बयान के
समर्थन में हैं वहीं विपक्षी
दल बीजेपी और राष्ट्रीय
महिला आयोग ने थरूर के बयान
का विरोध किया है.

बीजेपी
ही नहीं थरूर की पार्टी
कांग्रेस भी थरूर के बयान से
पल्ला झाड़ रही है. कांग्रेस
प्रवक्‍ता राशिद अल्‍वी के
मुताबिक, ‘यह शशि थरूर की निजी
राय है.’

वहीं, पीड़ित लड़की को
श्रद्धांजलि देने के लिए
महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री
के सामने कांग्रेस के ही
विधायक ने मांग रखी है.

मुंबई के विले पार्ले से
कांग्रेस विधायक कृष्णा
हेगडे ने महाराष्ट्र के
मुख्यमंत्री को चिट्ठी
लिखकर ‘मिलन सबवे’ फ्लाईओवर
का नाम गैंगरेप पीड़ित के नाम
पर करने की मांग की है.

विधायक कृष्ण हेगड़े ने कहा
है, ‘मैं जल्द तैयार होने वाले
मिलन ‘सब-वे फ्लाईओवर’ का नाम
‘निर्भय’ रखने की सलाह देने
चाहता हूं. ये दिल्ली गैंगरेप
पीड़ित के लिए हमारी एक
श्रृद्धांजलि भी होगी.
‘निर्भय’ का अर्थ भी होता है
साहसी, जो हमारी आने वाली
पीढ़ी को भी प्रेरणा देगा.’

शशि
थरूर ने जो लिखा है उस पर
सहमति, असहमति या बहस हो सकती
है लेकिन जरूरी ये है कि आखिर
इस मामले पर कानून क्या कहता
है.

क्या कहता है आईपीसी
228-ए?

इस मामले में आईपीसी
की धारा 228-ए के मुताबिक अगर
पीड़ित और उसके परिवार की
सहमति के बिना कोई बलात्कार
पीड़ित की पहचान जाहिर करता
है तो उसे दो साल तक की सजा और
जुर्माना हो सकता है.

लेकिन
अगर पीड़ित जिंदा है और लिखित
में सहमति दे तो नाम और पहचान
बताई जा सकती है. दूसरी
स्थिति में अगर बलात्कार
पीड़ित की मौत हो चुकी है तो
परिवार की सहमति पर ही नाम और
पहचान बताई जा सकती है.

इसके
अलावा अगर पुलिस को जांच में
मदद के लिए नाम और पहचान
जाहिर करने की जरूरत पड़े तो
जांच अधिकारी की लिखित इजाजत
के बाद नाम और पहचान को
प्रकाशित किया जा सकता है.

हालांकि
इतिहास में ऐसे मामले में तो
पीड़ित के नाम पर पुरस्कार तक
का ऐलान किया गया है.

दरअसल,
1978 में संजय और गीता चोपड़ा
नाम के भाई-बहन का अपहरण हुआ
था. रंगा-बिल्ला नाम के
आरोपियों ने गीता चोपड़ा से
बलात्कार भी किया था और फिर
दोनों को मार डाला था.

साल
1982 में रंगा-बिल्ला को फांसी
हुई थी. इसके बाद बहादुरी के
लिए हर साल संजय चोपड़ा और
गीता चोपड़ा अवॉर्ड दिया
जाता है.

लेकिन दिल्ली
गैंगरेप मामले में ये याद
रखना होगा कि पीड़ित लड़की का
परिवार पहले भी साफ कर चुका
है कि उनकी निजता का सम्मान
होना चाहिए.

India News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: बस में गैंगरेप: थरूर के बयान पर नई बहस शुरू
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
First Published:

Related Stories

'सोनू' के तर्ज पर कपिल मिश्रा का 'पोल खोल' वीडियो, गाया- AK तुझे खुद पर भरोसा नहीं क्या...?
'सोनू' के तर्ज पर कपिल मिश्रा का 'पोल खोल' वीडियो, गाया- AK तुझे खुद पर भरोसा नहीं...

नई दिल्ली : दिल्ली सरकार में मंत्री पद से बर्खास्त किए गए कपिल मिश्रा ने सीएम अरविंद केजरीवाल...

एबीपी न्यूज पर दिनभर की बड़ी खबरें
एबीपी न्यूज पर दिनभर की बड़ी खबरें

1. रिश्तों में टकराव के लिए चीन ने पीएम नरेंद्र मोदी को जिम्मेदार ठहराया है. http://bit.ly/2vINHh4  मंगलवार को...

 'ब्लू व्हेल' गेम पर सरकार सख्त, रविशंकर प्रसाद ने कहा- इसे स्वीकार नहीं किया जा सकता
'ब्लू व्हेल' गेम पर सरकार सख्त, रविशंकर प्रसाद ने कहा- इसे स्वीकार नहीं किया...

नई दिल्ली: जानलेवा ‘ब्लू व्हेल’ गेम को लेकर केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद ने बुधवार को...

विपक्षी दलों के साथ शरद यादव कल करेंगे 'शक्ति प्रदर्शन'!
विपक्षी दलों के साथ शरद यादव कल करेंगे 'शक्ति प्रदर्शन'!

नई दिल्ली: जेडीयू के बागी नेता शरद यादव कल यानि गुरुवार को अपनी ताकत के प्रदर्शन के लिए सम्मेलन...

भगाए जाने के बाद बोला चीन, लद्दाख में टकराव की कोई जानकारी नहीं
भगाए जाने के बाद बोला चीन, लद्दाख में टकराव की कोई जानकारी नहीं

बीजिंग: चीन ने जम्मू-कश्मीर के लद्दाख में मंगलवार को दो बार भारतीय इलाके में घुसपैठ की कोशिश...

योगी राज में किसानों के 'अच्छे दिन'
योगी राज में किसानों के 'अच्छे दिन'

नई दिल्लीः यूपी के किसानों के लिए खुशखबरी का इंतजार खत्म हो गया है. कल सीएम योगी आदित्यनाथ 7 हज़ार...

दिल्ली में तेज रफ्तार ने ली 24 साल के हिमांशु बंसल की जान
दिल्ली में तेज रफ्तार ने ली 24 साल के हिमांशु बंसल की जान

नई दिल्ली: दिल्ली के कनॉट प्लेस इलाके में तेज रफ़्तार स्पोर्ट्स बाईक से एक्सिडेंट का बड़ा मामला...

कर्नाटक में राहुल ने लॉन्च की इंदिरा कैंटीन, ₹10 में खाना और ₹5 में नाश्ता
कर्नाटक में राहुल ने लॉन्च की इंदिरा कैंटीन, ₹10 में खाना और ₹5 में नाश्ता

बेंगलुरू: कर्नाटक में अगले साल विधानसभा के चुनाव होने हैं और इसकी तैयारी अब से शुरू हो गई है. इसी...

यात्रियों को सौगात, रेलवे ने शुरू की कई नई ट्रेनें, यहां है पूरी List
यात्रियों को सौगात, रेलवे ने शुरू की कई नई ट्रेनें, यहां है पूरी List

नई दिल्ली : भारतीय रेलवे ने बीते हफ्ते यात्रियों को नई सौगात देते हुए कई सारी नई ट्रेनों को शुरु...

गुजरात में स्वाइन फ्लू का कहर, रविवार को 11 तो इस साल अब तक 208 की मौत
गुजरात में स्वाइन फ्लू का कहर, रविवार को 11 तो इस साल अब तक 208 की मौत

अहमदाबाद शहर स्वाइन फ्लू से सबसे ज्यादा प्रभावित है. प्रशासन भरपूर कोशिश कर रहा है लेकिन...

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017