बाबा रामदेव के साथ नहीं टीम अन्‍ना: केजरीवाल

बाबा रामदेव के साथ नहीं टीम अन्‍ना: केजरीवाल

By: | Updated: 02 May 2012 09:04 PM


नई
दिल्‍ली:
भ्रष्टाचार के
खिलाफ लड़ाई लड़ रहे अरविंद
केजरीवाल
ने साफ कर दिया है
कि टीम अन्ना और बाबा
रामदेव
का कोई गठजोड़ नहीं
है. हालांकि 20 अप्रैल को अन्ना
हजारे और रामदेव ने एक दूसरे
का साथ देने की बात कही थी.

अरविंद
केजरीवाल ने बुधवार को स्टार
न्यूज के पत्रकार अरुणोदय
प्रकाश की किताब के विमोचन के
मौके पर ये कहकर सबको चौंका
दिया कि बाबा रामदेव के साथ
टीम अन्ना नहीं है.  वीडियो
देखें


भ्रष्टाचार और
काले धन के मुद्दे पर कुछ दिन
पहले ही बाबा रामदेव और टीम
अन्ना ने एक साथ आने का ऐलान
किया था. लेकिन अब अरविंद
केजरीवाल कह रहे हैं कि वो
बाबा रामदेव के साथ नहीं हैं.
वीडियो
देखें


अरविंद
केजरीवाल
के मुताबिक, 'मैं
यह साफ कर देता हूं कि टीम
अन्‍ना
का बाबा
रामदेव
के साथ कोई गठजोड़
नहीं है. बाबा रामदेव कालेधन
के खिलाफ आवाज़ उठा रहे हैं
और हम लोकपाल और भ्रष्‍टाचार
के खिलाफ लड़ाई लड़ रहे हैं.
बाबा रामदेव के साथ सिर्फ
इतनी सहमति है कि जब-जब वो
आंदोलन करेंगे हम उनका
समर्थन करेंगे और जब हम आवाज़
उठाएंगे तो वे हमें समर्थन
देंगे. बाबा रामदेव के साथ
सिर्फ मुद्दे पर आधारित
समर्थन है. इसके अलावा कोई
गठजोड़ और साझा मंच जैसी बात
नहीं है.'

अरविंद
केजरीवाल भले ही रामदेव के
साथ हर मुद्दे पर एक साथ होने
की बात से इनकार कर रहे हैं,
लेकिन कुछ दिन पहले जब टीम
अन्ना और रामदेव एक साथ आए थे
तो कहीं से भी ऐसा नहीं लगा था.

तब
बाबा रामदेव ने कहा था, 'तीन को
पिछली बार से भी बड़ा आंदोलन
होगा और अन्‍ना हजारे हमारे
साथ मंच पर आएंगे. सिर्फ तीन
जून को ही नहीं हम जब-जब
आंदोलन करेंगे वो हमारे साथ
होंगे और जब वो भ्रष्‍टाचार
के खिलाफ लड़ाई लड़ेंगे हम
उनका समर्थन करेंगे.'

इससे
पहले अन्‍ना ने भी बाबा
रामदेव का समर्थन करते हुए
कहा था, 'मैं एक मई को पूरे
महाराष्‍ट्र में घूमकर
भ्रष्‍टाचार के खिलाफ आवाज
उठाऊंगा और उसी समय बाबा
रामदेव पूरे देश में घूमकर
कालेधन के खिलाफ यात्रा
करेंगे. जून के पहले हफ्ते
में यह टूर खत्‍म हो जाएगा और
इसके बाद हम दोनों साथ मिलकर
देश के कई हिस्‍सों में
यात्रा करेंगे.'

कार्यक्रम
में केजरीवाल ने टीम अन्ना से
निकाले गए सदस्य शमून कासमी
पर स्टिंग ऑपरेशन करने का भी
इल्जाम लगाया. कासमी
को टीम अन्ना की कोर कमेटी की
बैठक में चोरी छिपे वीडियो
रिकॉर्डिंग करने के आरोप में
निकाल दिया गया था.

अरविंद
केजरीवाल के मुताबिक, 'मुझे
लगता है वो स्टिंग ऑपरेशन कर
रहे थे.'

स्टिंग के आरोप पर
तो फिलहाल शमून कासमी की
प्रतिक्रिया नहीं आई है,
लेकिन वे अभी भी अरविंद समेत
टीम अन्ना के बाकी सदस्यों के
खिलाफ आग उगलने में कोई कसर
नहीं छोड़ रहे हैं.

कासमी
के मुताबिक, 'ये चार लोगों
(अरविंद केजरीवाल, मनीष
सिसोदिया, प्रशांत भूषण और
किरण बेदी) ने कब्‍जा किया
हुआ है. ये ही इंडिया
अगेंस्‍ट करप्‍शन के
ट्रस्‍टी हैं. अन्‍ना हजारे
तो साइनिंग अथॉरिटी भी नहीं
है.'

अरविंद केजरीवाल के
इन खुलासों के बाद स्थिति साफ
होने की जगह और उलझ गई है.

उधर,
योग गुरु बाब रामदेव ने आज
कहा है कि उन्‍होंने अभी तक
अरविंद केजरीवाल का बयान
नहीं सुना है.

उन्‍होंने
कहा, 'मैंने अभी तक अरविंद का
बयान नहीं सुना है. लेकिन इस
मुहिम में अन्‍ना हजारे मेरे
साथ हैं.'




संबंधित खबरें




बाबा
रामदेव के साथ गठजोड़ नहीं:
केजरीवाल






बाबा
रामदेव को लेकर टीम अन्‍ना
में फूट






गले
की फांस बना बाबा रामदेव का
साथ






अन्‍ना-रामदेव
का साथ-साथ लड़ने का संकल्‍प










फटाफट ख़बरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर और डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App
Web Title:
Read all latest India News headlines in Hindi. Also don’t miss today’s Hindi News.

First Published:
Next Story ED ने पूर्व केंद्रीय मंत्री पी चिदंबरम के बेटे कार्ति चिदंबरम से 11 घंटे तक की पूछताछ