बिस्मिल्लाह खान के परिवार का मोदी का प्रस्तावक बनने से इनकार, छन्नूलाल मिश्र समेत 4 लोग होंगे मोदी के प्रस्तावक

By: | Last Updated: Monday, 21 April 2014 2:33 AM
बिस्मिल्लाह खान के परिवार का मोदी का प्रस्तावक बनने से इनकार, छन्नूलाल मिश्र समेत 4 लोग होंगे मोदी के प्रस्तावक

नई दिल्ली: मशहूर शहनाई वादक और भारत रत्न उस्ताद बिस्मिल्लाह खान के परिवार ने बीजेपी के प्रधानमंत्री पद के उम्मीदवार नरेंद्र मोदी का प्रस्तावक बनने से इनकार कर दिया है. मोदी 24 अप्रैल को वाराणसी से नामांकन भरने वाले हैं लेकिन उससे पहले उनको वाराणसी के सबसे प्रतिष्ठित परिवारों में से उस्ताद बिस्मिल्लाह खान के परिवार से झटका लगा है.
 

दरअसल, बीजेपी चाहती थी कि विस्मिल्लाह खान का परिवार नामांकन के लिए मोदी का प्रस्तावक बने लेकिन परिवार इसके लिए तैयार नहीं हुआ है. परिवार की दलील ये है कि उस्ताद बिस्मिल्लाह खान खुद कभी किसी पार्टी से नहीं जुड़े तो उनका परिवार कैसे जुड़ सकता है.

 

बिस्मिल्लाह खान के बेटे जामिन हुसैन का कहना है कि वह मोदी का प्रस्तावक बनकर अपने ‘अब्बा’ को नाराज नहीं कर सकते.

बिस्मिल्लाह खान के परिवार के इनकार के बाद बीजेपी ने वाराणसी में मोदी के प्रस्तावकों के नामों का एलान कर दिया है.वाराणसी में मोदी के प्रस्तावक होंगे-

छन्नू लाल मिश्र

गिरधर मालवीय

एक बूनकर और एक मल्लाह 

आपको बता दें कि मोदी इस लोकसभा चुनावों में गुजरात के वड़ोदरा और यूपी के वाराणसी दोनों जगह से अपनी किस्मत आजमा रहे हैं. मोदी पहले ही वडोदरा  में नामांकन भर चुके हैं. वाराणसी में मोदी को चुनौती दे रहे हैं आम आदमी पार्टी के नेता अरविंद केजरीवाल और कांग्रेस नेता अजय राय.

 

वाराणसी में मशहूर शास्त्रीय गायक छन्नू लाल मिश्र और पंडित मदन मोहन मालवीय के पोते और पूर्व जस्टिस गिरधर मालवीय मोदी के प्रस्तावक होंगे. इनके अलावा एक बुनकर और एक मल्लाह भी मोदी के प्रस्तावकों में शामिल होंगे .