बिहार की पूर्व सीएम राबड़ी देवी के खिलाफ सगे भाई साधु यादव लड़ सकते हैं चुनाव

By: | Last Updated: Tuesday, 25 March 2014 6:47 AM

पटना:  बिहार से चौंकाने वाली खबर आ रही है. खबर है कि बिहार की पूर्व मुख्यमंत्री राबड़ी देवी के सगे भाई साधु यादव उनके खिलाफ चुनाव लड़ सकते हैं.

 

हमारे संवाददाता प्रकाश कुमार का कहना है कि राबड़ी के सगे भाई साधु यादव सारण सीट से बहन के खिलाफ चुनाव मैदान में उतर सकते हैं.

 

बताया जाता है कि इस चुनावी बेला में बहन भाई के रिश्तों में अचानक कड़वाहट बढ़ गई है. खबरें थीं कि साधु की आरजेडी में वापसी हो सकती है, लेकिन बात नहीं बनी. माना जाता है कि बात नहीं बनने के बाद ही भाई ने बहन के खिलाफ चुनाव लड़ने का मन बनाया है.

 

आपको बता दें कि साल 2009 से साधु आरजेडी से अलग हैं. पिछले लोकसभा चुनाव के दौरान साधु आरजेडी के टिकट पर लोकसभा का चुनाव लड़ना चाहते थे, लेकिन टिकट नहीं मिला तो उन्होंने पार्टी से बग़ावत कर दी और कांग्रेस के टिकट पर चुनाव लड़ा, लेकिन हार का सामना करना पड़ा.

 

साधु को राजनीति के मैदान में लाने का श्रेय बहनोई लालू प्रसाद को जाता है. एबीपी न्यूज़ के खास कार्यक्रम घोषणापत्र में जब लालू से आरजेडी के विघटन में साले के रोल को लेकर सवाल किया गया तो लालू ने इसका अपने अंदाज़ में जवाब दिया और माना कि साले को बिवी के अगल बगल में ही बैठाना होता है.

 

लालू ने कहा, “सत्ता में रहने के दौरान साले ताकत का मिस यूज़ करते हैं. कोई घर हो साला हर घर में प्रधान होता है. ये घर घर की कहानी है.”

 

ये लोकसभा चुनाव लालू के लिए बड़ी चुनौती बनकर सामने आ रहा है. लालू ने जैसे ही पाटलिपुत्र सीट से बेटी मीसा भारती को उम्मीदवार बनाया, उनके सबसे करीबी और विश्वासपात्रो में एक रामकृपाल यादव ने बग़ावत की. अब रामकृपाल आरजेडी को छोड़ बीजेपी से टिकट पाकर मीसा के खिलाफ चुनावी मैदान में हैं. इधर साधु बहन को चुनावी मैदान में बदला लेने की कोशिश में हैं.

 

नीचे के वीडियो में 32.30वें मिनट पर आप देख सकते हैं कि साधु यादव को लेकर लालू क्या कह रहे हैं.