बिहार की राजनीति में बड़ा उलटफेर, 12 साल बाद यूपीए का साथ छोड़ एनडीए में शामिल हुए पासवान, सात सीट पर लड़ेंगे चुनाव

By: | Last Updated: Friday, 28 February 2014 2:42 AM
बिहार की राजनीति में बड़ा उलटफेर, 12 साल बाद यूपीए का साथ छोड़ एनडीए में शामिल हुए पासवान, सात सीट पर लड़ेंगे चुनाव

नई दिल्ली: लोकसभा चुनाव के लिए बिहार में बीजेपी का एलजेपी के साथ गठबंधन हो गया है. गठबंधन का एलान बीजेपी अध्यक्ष राजनाथ सिंह ने किया. रामविलास पासवान ने एनडीए का हिस्सा बनते ही मोदी की तारीफ की. उन्होंने कहा कि वह पहले भी एनडीए में रहे हैं और इसमें कोई नई बात नहीं है. बिहार में कुल 40 सीटें हैं जिसमें से सात सीटों पर एलजेपी अब बीजेपी के साथ चुनाव लड़ेगी .

गठबंधन की औपचारिक घोषणा करते हुए भाजपा अध्यक्ष ने कहा कि रामविलास पासवान नीत लोजपा ने भाजपा नीत राजग में शामिल होने का फैसला किया है. राजनाथ ने कहा कि पासवान राष्ट्रीय स्तर के एक दलित नेता हैं और भाजपा उनके फैसले का स्वागत करती है.

 

उन्होंने कहा कि पासवान ने यह महसूस करते हुए कि मौजूदा स्थिति में केवल राष्ट्रीय जन तांत्रिक गठबंधन (राजग) ही देश को सही नेतृत्व दे सकता है, हमारे साथ आने का फैसला लिया. उन्होंने यह भी कहा कि इससे पहले महाराष्ट्र के दलित नेता रामदास अठावले, जाने माने दलित नेता उदित राज भाजपा से हाथ मिला चुके हैं. सभी का मानना है कि राजग और इसके प्रधानमंत्री पद प्रत्याशी नरेंद्र मोदी ही देश को सही नेतृत्व दे सकते हैं.

 

सीटों के बंटवारे के सवाल पर राजनाथ ने कहा कि पार्टी की बिहार इकाई से सलाह मशविरे के बाद यह तय किया गया है कि लोजपा बिहार में सात सीटों पर चुनाव लड़ेगी.

 

 

हाजीपुर से रामविलास पासवान, जमुई से चिराग पासवान, वैशाली से रामा सिंह, समस्तीपुर से रामचंद्र पासवान लड़ेंगे, नालंदा और खगड़िया से नाम तय नहीं हैं. बीजेपी के साथ आने के बाद रामविलास पासवान मुजफ्फरपुर में तीन मार्च को होने वाली नरेंद्र मोदी की रैली में भी शामिल होंगे.

 

राजनाथ सिंह ने कहा है कि एलजेपी अब एनडीए का हिस्सा है. वहीं पासवान ने कहा कि अगली सरकार एनडीए की ही बनेगी. पासवान ने कहा कि एक अवसर आ गया था जब राजग के 18 दल धीरे-धीरे कम होते चले गए. राजनाथ सिंह के कुशल नेतृत्व के कारण राजग फिर से बढ़ रहा है और इसमें कहीं से भी संदेह नहीं है कि अगली सरकार राजग की बनेगी.

 

मोदी के सवाल पर उन्होंने कहा कि राजग ने मोदी को अपना प्रधानमंत्री घोषित कर रखा है अत: उस पर विचार का सवाल ही पैदा नहीं होता.