बीजेपी में आए रामकृपाल, कहा- चाय बेचने वाले को पीएम बनाने आया है दूध बेचने वाले का बेटा

By: | Last Updated: Wednesday, 12 March 2014 7:50 AM

नई दिल्ली: आरखिरकार आरजेडी के खिलाफ बग़ावत का परचम उठाने वाले रामकृपाल यादव ने बुधवार को राजनाथ सिंह के पैर छूकर बीजेपी का दामन थाम लिया.

 

रामकृपाल ने बीजेपी का दामन थामने के साथ ही मोदी का जमकर महिमामंडन किया और कहा कि ‘एक दूध बेचने वाले के बेटे का फर्ज़ बनता है कि वह एक चाय बेचने वाले के पीएम बनने की दौड़ में उसकी मदद करे.’

 

बीजेपी की गोद में जाने के बाद ही रामकृपाल अपने पुराने गॉडफादर लालू प्रसाद और बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार पर जमकर निशाना साथा.

 

रामकृपाल ने कहा, “आरजेडी में परिवार ही सब कुछ है. मैं बीते 35 साल तक एक कार्यकर्ता के तौर पर पार्टी में काम किया, लेकिन अब वहां घुटन हो रही थी. मुझे लगा कि एक परिवार को इंसाफ देने से सामाजिक न्याय के मिशन को आगे नहीं बढाया जा सकता. “

 

जेडीयू पर हमले करते हुए रामकृपाल ने कहा कि नीतीश की सरकार सिर्फ वोट की खातिर सेकुलरिज़्म की बात कर रही है, लेकिन मुसलमानों के विकास के लिए कोई काम नहीं कर रही है. उन्होंने दावा किया कि बिहार में मुसलमानों का विकास नहीं हुआ है.

 

रामकृपाल के बीजेपी में जाने पर लालू यादव ने उन्हें भस्मासुर कहा है.

 

आपको बता दें कि अब रामकृपाल यादव पाटलिपुत्रा से लोकसभा का चुनाव लड़ेंगे, जहां उनका मुकाबला लालू प्रसाद की बेटी मीसा भारती से होगा. जब आरजेडी ने रामकृपाल को इस सीट से टिकट नहीं दिया तो उन्होंने बग़ावत कर दी और अब बीजेपी की शरण में हैं.