बुलडोजर पर ब्रेक: कोर्ट ने बताए ये उपाय, मंगलवार को अगली सुनवाई

By: | Last Updated: Wednesday, 13 November 2013 12:11 AM
बुलडोजर पर ब्रेक: कोर्ट ने बताए ये उपाय, मंगलवार को अगली सुनवाई

<p style=”text-align: justify;”>
<b>मुंबई:</b>
सुप्रीम कोर्ट ने कैंपाकोला
बिल्डिंग के खिलाफ 31 मई 2014 तक
कार्रवाई न करने का आदेश
दिया. इसके लिये खुद सुप्रीम
कोर्ट ने न्यूज रिपोर्ट के
आधार पर संज्ञान लेते हुए
फैसला दिया. इसके बाद से
कैंपाकोला सोसायटी में खुशी
की लहर है. और वहां के लोगों ने
सुप्रीम कोर्ट के प्रति आभार
प्रकट किया.
</p>
<p style=”text-align: justify;”>
कैंपा कोला मामले में
सुप्रीम कोर्ट में 2 बजे
सुनवाई हुई. कोर्ट ने अटॉर्नी
जनरल से पूछा कि क्या किया
जाए, मानवीय समस्या पैदा हो
गई है. अटॉर्नी जनरल ने कहा कि
एक समाधान ये है कि अवैध
निर्माण को तोड़ा जाए जिससे
कोर्ट और कानून की गरिमा
बरकरार रहे. लेकिन सोसायटी
में ही खाली जमीन पर नए
निर्माण की इजाज़त दी जाए
जहां तोड़े गए फ्लैट्स के लोग
अपने खर्चे पर दोबारा
निर्माण करा सकें. <br /><br />कोर्ट
ने कहा कि अटॉर्नी जनरल इसे
लिखित रूप में दें और सोसायटी
के लोगों से सलाह मशवरा कर
लें. अगर वो तैयार होते हैं तो
इस पर विचार किया जा सकता है.
अगली सुनवाई मंगलवार शाम 3
बजे है.<br />इससे पहले सुप्रीम
कोर्ट ने ही कैंपाकोला
बिल्डिंग में बने गैरकानूनी
फ्लैट के खिलाफ कार्रवाई
करने का आदेश दिया था और
फ्लैट खाली करने की अंतिम
तिथि 11 नवंबर दी थी. 12 नवंबर को
जब बीएमएसी और पुलिस के लोग
वहां पहुचें तो उन्हें वहां
के निवासियों का भारी विरोध
झेलना पड़ा. सवाल था कि वहां
रह रहे लोग कहां जायेंगे. यह
भी आवाज उठी कि जो लोग
गैरकानूनी तरीके से
बिल्डिंग बनाये हैं उनके
खिलाफ भी कार्रवाई की जाये. <br /><br />उल्लेखनीय
है कि कैपाकोला बिल्डिंग को
पांच मंजिला इमारत बनाने की
इजाजत थी कि ले बिल्डिंग उससे
ज्यादा 18 मंजिला बिल्डिंग
बना दी गई.
</p>
<p style=”text-align: justify;”>
मिलिंद देवड़ा ने बताया कि
सुप्रीम कोर्ट ने कार्रवाई
पर रोक लगाई है. अब कैम्पा
कोला बिल्डिंग में तोड़फोड़
रोकने के सुप्रीम कोर्ट के
आदेश के बाद कांग्रेस,
शिवसेना और बीजेपी नेता इसका
श्रेय लेने में लगे हैं.
हालांकि एनसीपी अद्यक्ष शरद
पवार इस मुद्दे पर खामोश हैं.<br />
</p>
<p style=”text-align: justify;”>
वर्ली में कैंपा कोला
बिल्डिंग को लेकर आज भी टकराव
जारी रहा. काफी हंगामा हुआ.
कैंपा कोला सोसायटी का गेट
तोड़कर पुलिस वाले अंदर
पहुंच चुके थे. बीएमसी ने गेट
तोड़कर जबरन लोगों को बाहर
निकाला.
</p>
<p style=”text-align: justify;”>
सुप्रीम कोर्ट के आदेश के बाद
मुंबई के वर्ली में
गैरकानूनी ढंग से बनी
कैंपाकोला बिल्डिंग में
बीएमसी की कार्रवाई आज भी
जारी था. गेट पर खड़े लोगों को
हिरासत में ले लिया गया है. कल
भारी विरोध के बावजूद आठ
फ्लैटों के बिजली काट कर दी
गई थी.
</p>
<p style=”text-align: justify;”>
<b>बिल्डर पर कार्रवाई क्यों
नहीं?</b><br />टाइम्स ऑफ इंडिया के
मुताबिक कैम्पा कोला
बिल्डिंग में जिस बिल्डर ने
अवैध फ्लोर बना डाले. उसे
करीब एक दशक पहले महज 600 से 2000
रुपये का जुर्माना लगाकर
छोड़ दिया गया. मुंबई की
कैम्पा कोला बिल्डिंग के
लोगों का रो-रो कर बुरा हाल है.
लोगों का कहना है कि
गैरकानूनी तौर पर बिल्डिंग
बनाने के दोषी बिल्डर पर
कार्रवाई की बजाय उन लोगों पर
कार्रवाई हो रही है.<br />
</p>
<p style=”text-align: justify;”>

</p>
<p style=”text-align: justify;”>
कैम्पा कोला बिल्डिंग में
रहने वाले लोग इसे खाली करने
को तैयार नहीं है. बीएमसी
कर्मचारियों को यहां आने से
रोकने के लिए लोग गेट पर खड़े
हो गये थें. इसके बाद पुलिस
वालों ने गेट पर खड़े लोगों
को गिरफ्तार कर लिया.<br />http://www.youtube.com/watch?v=wsubpLswrWA<br /><b>क्या
है मामला</b><br /><br />जिस समय इस
कैंपा कोला बिल्डिंग को
बनाने की इजाजत दी गई थी उस
समय उसे महज़ पांच फ्लोर तक
निर्माण की इजाजत दी गई,
लेकिन बिल्डर ने ज्यादा
मंजिले बना दीं. सुप्रीम
कोर्ट ने उस अवैध निर्माण को
गिराने का आदेश दिया है.
</p>
<p style=”text-align: justify;”>
http://www.youtube.com/watch?v=18SB78OeOL8<br />कल मुंबई
के वर्ली इलाके की कैम्पा
कोला बिल्डिंग में रहने वाले
लोगों का बीएमसी
कर्मचारियों और
पुलिसकर्मियों से टकराव हुआ
था. आज भी बिल्डिंग में रहने
वाले विरोध प्रदर्शन कर रहे
हैं.<br />सबसे बड़ा सवाल यह है कि
गैरकानूनी बिल्डिंग में
पानी और बिजली की सप्लाई कैसे
हो गई?<br />
</p>

India News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: बुलडोजर पर ब्रेक: कोर्ट ने बताए ये उपाय, मंगलवार को अगली सुनवाई
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
और जाने: ????? ????????? ??? ?????? person response
First Published:

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017