भारतीय सॉफ्टवेयर बाजार 10 प्रतिशत बढ़कर 4.7 अरब डॉलर पहुंचा

भारतीय सॉफ्टवेयर बाजार 10 प्रतिशत बढ़कर 4.7 अरब डॉलर पहुंचा

By: | Updated: 10 Apr 2014 09:33 AM

नयी दिल्ली: भारत में सॉफ्टवेयर का बाजार 2013 में 10 प्रतिशत बढ़कर 4.76 अरब डॉलर पर पहुंच गया. अनुसंधान फर्म गार्टनर ने कहा कि सॉफ्टवेयर बाज़ार में तेजी की एक वजह क्लाउड या अभिदान आधारित सेवाओं का अपनाया जाना है. साल 2012 में भारत में साफ्टवेयर बाजार 4.334 अरब डॉलर का था.

 

गार्टनर के अनुसंधान निदेशक भाविष सूद ने एक बयान में कहा, ‘‘भारतीय सॉफ्टवेयर बाजार बहु-वर्षीय चक्रीय बदलाव के बीच है क्योंकि संगठन मौजूदा प्रणालीगत ढांचे को सहयोग देने के लिए प्रौद्योगिकियों पर निवेश कर रहे हैं.’’

 

उन्होंने कहा कि संगठन प्रतिस्पर्धी क्षमता बनाए रखने के लिए ऐसा कर रहे हैं. बीते साल 20 प्रतिशत बाजार हिस्सेदारी के साथ माइक्रोसॉफ्ट पहले पायदान पर रही और उसने 95.73 करोड़ डॉलर का कारोबार किया जो 2012 के मुकाबले 10.6 प्रतिशत अधिक है.

 

वहीं दूसरी ओर, 7.3 प्रतिशत बाजार हिस्सेदारी के साथ ओरैकल दूसरे पायदान पर रही और उसने करीब 50.5 करोड़ डॉलर का कारोबार किया. आईबीएम 44.66 करोड़ डॉलर के कारोबार के साथ तीसरे पायदान पर रही, जबकि सैप 32.43 करोड़ डॉलर के साथ चौथे पायदान पर रही.

फटाफट ख़बरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर और डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App
Web Title:
Read all latest India News headlines in Hindi. Also don’t miss today’s Hindi News.

First Published:
Next Story SSC CHSL Tier I: एसएससी ने जारी किया एडमिट कार्ड, ऐसे करें डाउनलोड