भारत की बढ़ी ताकत, अग्नि मिसाइल का पहली बार रात में सफल परीक्षण

By: | Last Updated: Saturday, 12 April 2014 5:36 AM

बालेश्वर: भारत ने परमाणु युद्ध-सामग्री ले जाने में सक्षम देश में विकसित अग्नि 1 बैलिस्टिक मिसाइल का ओड़िशा तट के पास रात के समय में पहली बार सफल परीक्षण किया. इसकी मारक क्षमता 700 किलोमीटर तक है.

 

सेना द्वारा उपयोगकर्ता परीक्षण के तहत इसका रात्रिकालीन परीक्षण किया गया. सतह से सतह से पर मार करने वाली एकल चरण की मिसाइल ठोस प्रणोदक से संचालित होती है.

 

रक्षा सूत्रों ने बताया कि यहां से करीब 100 किलोमीटर दूर व्हीलर द्वीप पर समन्वित परीक्षण रेंज (आईटीआर) से रात 11 बजकर 10 मिनट पर इसे एक मोबाइल लांचर से दागा गया.

 

रक्षा अनुसंधान एवं विकास संगठन के प्रवक्ता रवि कुमार गुप्ता ने बताया, ‘‘परीक्षण सफल रहा और मिशन के सारे उद्देश्य पूरे हो गए.’’ आईटीआर निदेशक एमवीकेवी प्रसाद ने बताया कि मिसाइल विशेष रूप से गठित सेना के सामरिक बल कमान ने उपयोगकर्ता परीक्षण के तहत दागी गई.

 

यह पहला मौका है जब अग्नि 1 रात के समय दागी गई. इसकी जरूरतों को ध्यान में रखकर और किसी भी स्थिति से निपटने की तैयारियों की जरूरत को लेकर एसएफसी ने यह फैसला किया.

 

गौरतलब है कि इससे पहले 18 फरवरी और 19 फरवरी को इसका रात्रिकालीन परीक्षण टाल दिया गया था.

 

12 टन वजनी और 15 मीटर लंबी अग्नि 1 मिसाइल 1,000 किलोग्राम तक पेलोड ले जा सकती है. इसे सेना में पहले ही शामिल किया जा चुका है.

India News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: भारत की बढ़ी ताकत, अग्नि मिसाइल का पहली बार रात में सफल परीक्षण
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
First Published:

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017