भारत के नए अटॉर्नी जनरल होंगे मुकुल रोहतगी

भारत के नए अटॉर्नी जनरल होंगे मुकुल रोहतगी

By: | Updated: 29 May 2014 04:22 AM

नई दिल्ली: सुप्रीम कोर्ट के वरिष्ठ अधिवक्ता मुकुल रोहतगी नए अटॉर्नी जनरल होंगे.

 

सुप्रीम कोर्ट के जानेमाने वकील रोहतगी ने पीटीआई से कहा कि सरकार के शीर्ष कानून अधिकारी के पद की पेशकश उन्हें की गयी है और उन्होंने इसके लिए हामी भर दी है.

 

उन्होंने कहा, "मैंने अपनी ओर से हामी भर दी है, लेकिन उसकी औपचारिक घोषणा होनी है." सरकार ने इसके साथ ही वरिष्ठ अधिवक्ता रंजीत कुमार को सोलिसिटर जनरल नियुक्त करने का फैसला किया है और माना जाता है कि उन्होंने अपनी सहमति दे दी है . वह कल इस्तीफा देने वाले मोहन परासरन का स्थान लेंगे .

 

अन्य विधि अधिकारियों में वरिष्ठ अधिवक्ता मनिन्दर सिंह को अतिरिक्त सोलिसिटर जनरल नियुक्त किया गया है.

 

राजग सरकार पिछली संप्रग सरकार की तरह ही किसी महिला को एएसजी नियुक्त करना चाहती है . पिछली सरकार में इंदिरा जयसिंह देश की पहली महिला कानून अधिकारी बनी थीं . एएसजी पद के लिए गुजरात के अतिरिक्त एडवोकेट जनरल तुषार मेहता का नाम भी चल रहा है जो संवेदनशील मामलों में नियमित रूप से शीर्ष अदालत में पेश होते रहे हैं .

 

रोहतगी वर्तमान अटॉर्नी जनरल जी. ई. वाहनवती का स्थान लेंगे . वह देश के 14वें अटॉर्नी जनरल बनेंगे. उन्होंने कहा कि पदभार संभालने के बाद उनकी पहली प्राथमिकता 'सुप्रीम कोर्ट में याचिकाओं को व्यवस्थित करना' होगी .

 

उन्होंने कहा, "मैं सुनिश्चित करूंगा कि उच्च अदालतें बेकार के मुकदमों से भरी न रहें." उन्होंने कहा कि वह पूरी कोशिश करेंगे कि सरकार अंतर-मंत्रालयी याचिकाओं में न उलझी रहे.

 

पिछली राजग सरकार में अतिरिक्त सॉलीसीटर जनरल के पद पर रह चुके मुकुल रोहतगी का कहना है, "मैं यह सुनिश्चित करूंगा और प्रयास करूंगा कि विभिन्न सरकारी विभाग आपस में ही याचिकाएं दायर करने में न उलझें."

 

दिल्ली उच्च न्यायालय के पूर्व न्यायाधीश अवध बिहारी रोहतगी के पुत्र मुकुल रोहतगी ने 2002 के गुजरात दंगों और बेस्ट बेकरी और जाहिरा शेख कांड सहित फर्जी मुठभेड़ हत्या कांड मामलों में सुप्रीम कोर्ट में गुजरात सरकार की पैरवी की है . बेहद जानेमाने कॉरपोरेट वकील रोहतगी ने अंबानी बंधुओं के बीच गैस को लेकर हुए विवाद में सुप्रीम कोर्ट में अनिल अंबानी के मुकदमे की पैरवी की थी .

 

केरल तट पर 2012 में दो भारतीय मछुआरों की हत्या के आरोपी दो इतालवी मरीन पर सुप्रीम कोर्ट में चल रहे मुकदमे में रोहतगी इटली के दूतावास के वकील हैं.

 

इनके अलावा रोहतगी 2जी घोटाला सुनवायी के मामले में कई बड़े कॉरपोरेट घरानों की ओर से पेश हो रहे हैं .

 

रंजीत कुमार से उनकी प्रतिक्रिया के लिए संपर्क नहीं हो सका . वह राष्ट्रीय राजधानी से बाहर हैं.

 

मनिन्दर सिंह ने पुष्टि की कि उन्हें कानून मंत्री रवि शंकर प्रसाद के कार्यालय की ओर से फोन आया है और उन्होंने अपनी सहमति दे दी है .

फटाफट ख़बरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर और डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App
Web Title:
Read all latest India News headlines in Hindi. Also don’t miss today’s Hindi News.

First Published:
Next Story विक्रम कोठारी मामला: रायपुर के बागड़िया ब्रदर्स पर ईडी का छापा, लेन-देन की हो रही है जांच