भारत-चीन युद्ध के 50 साल, शहीदों को श्रद्धांजलि

भारत-चीन युद्ध के 50 साल, शहीदों को श्रद्धांजलि

By: | Updated: 19 Oct 2012 08:48 PM


नई
दिल्‍ली:
एशिया की दो बड़ी
शक्तियों यानी भारत और चीन के
बीच हुए युद्ध के आज 50 साल
पूरे हो रहे हैं. भारत-चीन के
बीच 1962 में हुए इस युद्ध में
भारत को काफी नुकसान हुआ था.
दोनों देशों के बीच ये युद्ध
करीब एक महीने तक चला था.




इस मौके पर भारतीय रक्षा
मंत्री ए.के एंटनी ने 'अमर
जवान ज्योति' पर श्रद्धांजली
अर्पित की. इस दौरान उनके साथ
तीनों सेनाओं के प्रमुख और 1962
की जंग में हिस्सा लेने वाले
एकमात्र जीवित बचे भारतीय
वायुसेना के अधिकारी फील्ड
मार्शल अर्जुन सिंह मौजूद थे.




आज से ठीक 50 साल पहले यानी 20
अक्टूबर 1962 को इस युद्ध की
शुरूआत हुई थी. एक महीने तक
चले इस युद्ध में दोनों देशों
का जान और माल का बहुत नुकसान
हुआ. लेकिन जो सबसे बड़ी चीज
दोनों देशों ने गंवाई वो है
आपसी विश्वास.




इन 50 सालों में दोनों देशों ने
विश्वास बढ़ने के लाख दावे
किए हों, लेकिन न तो सीमा पर
सेना के जमावड़े में कोई कमी
आई और न ही सीमा विवाद खत्म
हुआ. सीमा विवाद से शुरू हुआ
युद्ध तो खत्म हो गया, लेकिन
सीमा विवाद खत्म नहीं हुआ.

इस
युद्ध में भारत के 1383 सैनिक
मारे गए थे, जबकि 1047 घायल हुए
थे. 1696 सैनिक लापता हो गए थे और
3968 सैनिकों को चीन ने
गिरफ्तार कर लिया था.

वहीं
चीन के कुल 722 सैनिक मारे गए थे
और 1697 घायल हुए थे. 14 हजार फीट
की ऊंचाई पर लड़े गए इस युद्ध
में भारत की तरफ से महज 12 हजार
सैनिक चीन के 80 हजार सैनिकों
के सामने थे.

इस युद्ध में
भारत ने अपनी वायुसेना का
इस्तेमाल नहीं किया जिसके
लिए तत्कालीन प्रधानमंत्री
जवाहरलाल नेहरू की कड़ी
आलोचना भी हुई.

आजादी के 15
साल बाद लड़ी गई इस जंग में
भारत भले हार गया हो, लेकिन इस
युद्ध से मिली सीख ने भारत को
सामरिक तौर पर मजबूत कर दिया
था.




http://www.youtube.com/watch?v=u6bJZnPwPug




फटाफट ख़बरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर और डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App
Web Title:
Read all latest India News headlines in Hindi. Also don’t miss today’s Hindi News.

First Published:
Next Story यूपी में पूर्व मुख्यमंत्रियों को बंगला देने का मामला, SC ने सभी राज्यों से पक्ष रखने को कहा