भारत ने एक्सो-ऑटमोसफेरिक मिसाइल इंटरसेप्टर का किया सफल परीक्षण

भारत ने एक्सो-ऑटमोसफेरिक मिसाइल इंटरसेप्टर का किया सफल परीक्षण

By: | Updated: 27 Apr 2014 11:00 AM
भुवनेश्वर: भारत ने पहली बार ओडिशा में एक रक्षा केंद्र से रविवार को एक्सो-एटमोसफेरिक मिसाइल इंटरसेप्टर का सफल परीक्षण किया. रक्षा विभाग के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि यह इंटरसेप्टर मिसाइल वायुमंडल के कार्य कर सकती है और इस मिसाइल का निर्माण दुश्मन की ओर से सौ किलोमीटर से अधिक ऊंचाई से दागी गई मिसाइल हमले से बचाव के लिए किया जा सकता है.

 

एडवांस एयर डिफेंस (एएडी) की देश में निर्मित पहली इंटरसेप्टर मिसाइल का ओडिशा की राजधानी भुवनेश्वर से 170 किलोमीटर दूर भद्रक जिले में धमरा बंदरगाह के करीब ह्वीलर द्वीप पर परीक्षण किया गया.

 

प्रक्षेपित मिसाइल सामने से छोड़ी गई बैलिस्टिक मिसाइल को नष्ट करने में कामयाब रही, जिसे ह्वीलर द्वीप से 70 किलोमीटर दूर बालासोर जिले में चांदीपुर परीक्षण केंद्र से छोड़ा गया था.

 

परीक्षण रेंज के निदेशक एम. वी. के. वी. प्रसाद ने आईएएनएस को बताया, "परीक्षण सफल रहा.

 

रक्षा अनुसंधान एवं विकास संगठन (डीआरडीओ) के प्रवक्ता रवि कुमार गुप्ता ने आईएएनएस को बताया कि यह परीक्षण 120 किलोमीटर की ऊंचाई पर एक्सो-एटमॉस्फेरिक इंटरसेप्शन की क्षमता को परखने के लिए किया गया और परीक्षण सफल रहा. उन्होंने यह भी बताया कि परीक्षण के लिए नई इंटरसेप्टर और बैलिस्टिक मिसाइलों का प्रयोग किया गया

फटाफट ख़बरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर और डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App
Web Title:
Read all latest India News headlines in Hindi. Also don’t miss today’s Hindi News.

First Published:
Next Story मुंबई: डॉक्टरों की निगरानी में हैं गोवा के सीएम पर्रिकर, हालत सामान्य