भारत में हैं दुनिया का सबसे उम्रदराज व्यक्ति!

By: | Last Updated: Tuesday, 18 February 2014 2:59 AM

छत्तीसगढ़: छत्तीसगढ़ के कोरबा जिले के तिल्हापताई गांव निवासी प्रेमसाय पटेल का दावा है कि उनका जन्म 11 मई 1896 को हुआ था. इस लिहाज से उनकी उम्र 117 साल 8 महीने पूरी हो गई है. पर रिकार्ड के मुताबिक सबसे अधिक उम्र 115 वर्ष जापान की महिला मिसाओ ओकावा की है. प्रेमसाय कोरबा से 35 किलोमीटर दूर करतला ब्लॉक के ग्राम तिल्हापताई में रहते हैं. उनका दावा है कि इस उम्र में भी वह चुस्त हैं और अपने सारे काम खुद करते हैं.

 

उनके तीन बेटों में सबसे बड़े बेटे इतवारी पटेल की उम्र 80 साल से अधिक है. दूसरे बेटे महेश पटेल व सबसे छोटे गणेशराम हैं. चार पीढ़ियों के इस परिवार में 50 से अधिक सदस्य हैं. पहली पत्नी के निधन के बाद उन्होंने दूसरी शादी बुधाबाई से की. सबसे बड़े परिवार के मुखिया होने के बाद भी वह खुद की कमाई पर निर्भर हैं.

 

उनके बेटे इतवारी ने बताया कि वह अपने पिता से आराम करने की गुजारिश कई बार कर चुके हैं, लेकिन वह खाली बैठना ही नहीं चाहते हैं. सब्जी की बाड़ी में उन्हें कुदाली चलाते हुए देखा जा सकता है. बाड़ी में केले के पेड़ों के अलावा टमाटर, सेम, लालभाजी व अन्य सब्जी की पैदावार कर सब्जी के थोक विक्रेताओं को बेचते हैं और इससे होने वाली आमदनी से ही उनका खर्च चलता है.

 

चौथी कक्षा तक पढ़े प्रेमसाय का जन्म सक्ती के ग्राम मोहंदीकला में हुआ था. उस जमाने में उनकी गिनती पढ़े-लिखे लोगों में होती थी और यही वजह है कि उन्हें 10 गांव के बच्चों के लिए खोले गए स्कूल में शिक्षक की नौकरी भी मिल गई थी. हालांकि 35-40 साल की उम्र में ही प्रेमसाय मूलग्राम मोहंदीकला को छोड़कर ग्राम तिल्हापताई आ गए.

 

 

प्रेमसाय के बेटे महेश ने बताया कि उनके पिता को किसी तरह की कोई बीमारी नहीं है. उन्हें कभी अस्पताल में भर्ती कराने की नौबत नहीं पड़ी है.

 

प्रेमसाय की याददाश्त भी कमजोर नहीं हुई है. काफी पुरानी बातें आज भी उन्हें याद है. उन्होंने बताया कि उन्होंने वह दौर भी देखा है जब 30 रुपए में एक तोला सोना मिलता था. 10 पैसे में एक पाव इलायची खरीदा करते थे. 4 पैसे के खरीदे गए लड्डू पूरे परिवार के सदस्य खाया करते थे. एक छड़ी के सहारे ही वह चल-फिर लेते हैं. सब्जी बेचने के बाद खुद ही हिसाब-किताब कर लेते हैं. बुलंद इरादों के साथ प्रेमसाय कहते हैं कि जब तक सांस चलेगी वह काम करते रहेंगे.

 

प्रेमसाय की उम्र के सत्यापन की बात करें तो उनके पास हाल ही में बनाए गए आधार कार्ड है, जिसमें जन्मतिथि 11 मई 1896 दर्ज है.

 

कोरबा जिला अस्पताल के सीएमएचओ डॉ. पीआर कुंभकार की माने तो किसी भी मनुष्य की आयु 117 साल या उससे अधिक हो सकती है. उम्र का सही पता बोन टेस्ट से किया जा सकता है.

 

अब जब प्रेमसाय के सर्वाधिक उम्र दराज व्यक्ति होने की बात सामने आ रही हैं तो प्रशासन भी उनके दावे को सत्यापित करने में लगा है.

India News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: भारत में हैं दुनिया का सबसे उम्रदराज व्यक्ति!
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
First Published:

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017