महंगाई दर सितम्बर में बढ़ कर हुई 7.81 फीसदी

महंगाई दर सितम्बर में बढ़ कर हुई 7.81 फीसदी

By: | Updated: 15 Oct 2012 05:47 AM


नई
दिल्ली:
थोक मूल्य सूचकांक
पर आधारित देश की महंगाई दर
सितम्बर में बढ़कर 7.81 फीसदी
हो गई, जो अगस्त में 7.55 फीसदी
थी. शुक्रवार को जारी आंकड़ों
के मुताबिक आलोच्य अवधि में
दलहन, गेहूं, अनाज, आलू और डीजल
महंगा हुए.




ताजा महंगाई दर मौजूदा
कारोबारी साल में सर्वाधिक
है. सितम्बर 2011 में महंगाई दर
10.00 फीसदी थी.




आलोच्य अवधि में दलहन 29.28
फीसदी, गेहूं 18.63 फीसदी, अनाज 14.18
फीसदी, आलू 52.20 फीसदी और अंडे,
मांस तथा मछली 12.44 फीसदी महंगा
हुए.




आलोच्य अवधि में खाद्य
महंगाई दर 7.86 फीसदी रही, जो
पिछले साल सितम्बर में 9.62
फीसदी थी. प्राथमिक वस्तुओं
में महंगाई 8.77 फीसदी दर्ज की
गई. हाई स्पीड डीजल आलोच्य
अवधि में 8.94 फीसदी महंगा हुआ.




सरकार ने वित्तीय घाटा कम
करने और रेटिंग घटाए जाने से
बचने के लिए डीजल की कीमत में
एकाएक रिकार्ड पांच रुपये
प्रति लीटर या 12 फीसदी वृद्धि
कर दी है.




माना जा रहा है कि महंगाई में
वृद्धि के कारण आगामी 30
अक्टूबर को भारतीय रिजर्व
बैंक की मौद्रिक नीति
समीक्षा में दरों में कटौती
नहीं की जा सकती है, जिसकी
सम्भावना आर्थिक सुस्ती के
कारण बनती दिख रही थी.

प्रधानमंत्री
की आर्थिक सलाहकार समिति के
अध्यक्ष सी. रंगराजन ने कहा
कि महंगाई दर बढ़ने का कारण
ईंधन की कीमत में वृद्धि हो
सकती है. उन्होंने हालांकि
कहा कि आने वाले समय में
इसमें गिरावट आएगी.

उन्होंने
कहा, "मार्च 2013 तक यह सात फीसदी
के आसपास हो सकती है. यह इस
दौरान खाद्य कीमतों से भी
प्रभावित होंगी. इसलिए मैं
अभी इतना कह सकता हूं कि आने
वाले समय में इसमें गिरावट का
रुझान रहेगा."

उन्होंने
कहा, "तब तक सम्भवत: रिजर्व
बैंक महंगाई में नरमी के
संकेतों का इंतजार करेगा."

रिजर्व
बैंक के गवर्नर डी. सुब्बा
राव ने कहा कि महंगाई काफी
ऊंचे स्तर पर है इसलिए रिजर्व
बैंक दरों में कटौती नहीं कर
सकता है.








फटाफट ख़बरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर और डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App
Web Title:
Read all latest India News headlines in Hindi. Also don’t miss today’s Hindi News.

First Published:
Next Story योगी सरकार का बड़ा फैसलाः कानपुर, मेरठ और आगरा में चलेगी मेट्रो