मायावती ने अखिलेश पर साधा निशाना, कहा ‘बाप से ज्यादा जहरीला है बेटा’

मायावती ने अखिलेश पर साधा निशाना, कहा ‘बाप से ज्यादा जहरीला है बेटा’

By: | Updated: 04 May 2014 03:49 PM
सोनभद्र..जौनपुर. बहुजन समाज पार्टी की मुखिया मायावती ने आज सपा मुखिया मुलायम सिंह यादव के बाद उनके पुत्र एवं प्रदेश के मुख्यमंत्री अखिलेश यादव पर वार करते हुए कहा कि बाप से अधिक जहर बेटे में है.

 

मायावती ने आज यहां एक चुनावी जनसभा को संबोधित करते हुए अखिलेश पर निशाना साधा और कहा, ‘‘बाप से अधिक जहर बेटे में है. यदि बाबा साहब भीमराव अम्बेडकर और संविधान नहीं होता तो वे (अखिलेश) मुख्यमंत्री नहीं बनते बल्कि सैफई में किसी जमींदार की भैंस चरा रहे होते.’’ भाजपा के प्रधानमंत्री पद के उम्मीदवार नरेन्द्र मोदी पर निशाना साधते हुए मायावती ने कहा, ‘‘जिसने मुख्यमंत्री रहते गोधरा कांड से अपना हाथ खून से रंगा है, वह यदि देश का प्रधानमंत्री बन जायेगा तो क्या होगा. इसका अंदाजा आप खुद लगा सकते हैं.’’ उन्होंने दलितों को आगाह करते हुए कहा कि भाजपा के सत्ता में आने पर वह संविधान की समीक्षा करने के बहाने अनुसूचित जातियों एवं अनुसूचित जनजातियों को मिलने वाला आरक्षण खत्म कर देगी.

 

साथ ही उन्होंने मुसलमानों को भी एकजुट होकर बसपा को वोट देने की सलाह देते हुए कहा कि अगर मुस्लिम वोटों का बिखराव हुआ तो भाजपा को सत्ता में आने से कोई नहीं रोक पायेगा. अगर ऐसा हुआ तो देश दंगों की आग में झुलसेगा.

 

मायावती ने कांग्रेस पर भी प्रहार किया और कहा कि उसने कोई विकास नहीं किया है और दस साल के संप्रग सरकार के कार्यकाल में केवल भ्रष्टाचार के मामले ही जनता के सामने आये हैं.

 

बसपा प्रमुख ने आरोप लगाया कि कांग्रेस की गलत नीतियों के कारण ही दलितों का उत्पीड़न किया गया, नतीजतन वे गलत रास्ते पर चल पड़े. उन्हें विकास कार्यो के जरिये सुधारने के बजाय उन्हें पकड़ने और मारने पर जोर दिया गया, परिणामस्वरूप वे नक्सलवादी बन गये. मायावती ने कहा कि उत्तर प्रदेश की बसपा सरकार ने एक विशेष अभियान चलाकर नक्सलवादियों को समाज की मुख्यधारा में शामिल किया. इससे नक्सलवादियों की संख्या में बढ़ोत्तरी पर रोक लगी.

 

उन्होंने देश की सारी समस्याओं के लिए कांग्रेस को जिम्मेदार ठहराते हुए कहा कि आजादी के बाद से सबसे अधिक कांग्रेस ने राज किया, लेकिन विकास कुछ भी नहीं हुआ है.

 

बसपा सुप्रीमो ने कहा कि प्रदेश ने कई प्रधानमंत्री दिये हैं लेकिन वह आज सबसे पिछडा है, क्योंकि कांग्रेसी सरकारों ने सारी नीतियां पूंजीपतियों को लाभ पहुंचाने के बनायीं, सर्व समाज की समस्याओं को दूर करने के लिए नहीं.

 

उन्होंने दावा किया कि बसपा ही सर्व समाज की हितैषी है और वही सभी सर्व समाज के लोगों के हितों की रक्षा भी कर सकती है.

फटाफट ख़बरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर और डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App
Web Title:
Read all latest India News headlines in Hindi. Also don’t miss today’s Hindi News.

First Published:
Next Story घोटाले के बाद नीरव मोदी का पहला बयान, कहा- पीएनबी का बकाया नहीं चुका सकते