मुलायम का दावा- बीजेपी के कुछ नेता उनके संपर्क में जो नहीं चाहते मोदी बनें पीएम

मुलायम का दावा- बीजेपी के कुछ नेता उनके संपर्क में जो नहीं चाहते मोदी बनें पीएम

By: | Updated: 17 Apr 2014 02:31 PM
इटावा, मैनपुरी. समाजवादी पार्टी :सपा: के प्रमुख मुलायम सिंह यादव ने आज दावा किया कि भारतीय जनता पार्टी के प्रधानमंत्री पद के उम्मीदवार नरेन्द्र मोदी चाहे जितनी कोशिश कर लें लेकिन वह वजीर-ए-आजम नहीं बन सकते क्योंकि भाजपा के कई नेता मुखालफत कर रहे हैं और उनकी ही पार्टी का एक होशियार नेता उनको किनारे लगाने में जुटा है.

 

यादव ने इटावा के जसवंतनगर में आयोजित चुनावी जनसभा में कहा, ‘‘मोदी जी आप चाहे जितनी मेहनत कर लें, आप 272 का आंकड़ा नहीं बना पाएंगे. आप होशियार हो जाइये. पार्टी में ही आपके खिलाफ षड्यंत्र हो रहा है. आपने लालकृष्ण आडवाणी को किनारे किया. अब एक होशियार नेता आपको किनारे लगाने की साजिश कर रहा है. आप कितनी भी मेहनत कर लें, प्रधानमंत्री नहीं बन सकते.’’ उन्होंने कहा, ‘‘भाजपा के तमाम बड़े नेता भी नहीं चाहते कि मोदी प्रधानमंत्री बनें. भाजपा के कई नेताओं ने हमसे सम्पर्क करके कहा है कि आप ही मोदी को देश का प्रधानमंत्री बनने से रोक सकते हैं. मैं उन नेताओं को विश्वास दिलाना चाहता हूं कि हम मोदी को रोकेंगे.’’ यादव ने कहा कि भाजपा के तमाम नेता मोदी से दुखी हैं. गुजरात दंगों के बाद तत्कालीन प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी मोदी को मुख्यमंत्री पद से हटाना चाहते थे लेकिन उस समय आडवाणी ने उन्हें बचा लिया था. आज मोदी ने आडवाणी जैसे वरिष्ठ नेता को किनारे कर दिया. इसे देखकर भाजपा के तमाम बड़े नेता डर गये हैं. इसलिये वे नहीं चाहते कि मोदी देश के प्रधानमंत्री बनें.

 

 

यादव ने किशनी में आयोजित चुनावी सभा में कहा कि उत्तर प्रदेश में सपा को मोदी से कोई खतरा नहीं है. मोदी को जो उठान दी जा रही है, वह मीडिया की देन है जबकि सचाई इसके विपरीत है.

 

उन्होंने कहा कि भाजपा की सिर्फ पांच प्रदेशों में सरकार है, बाकी मुल्क में उसका कोई आधार नहीं है. उसे लोकसभा चुनाव में इतनी सीटें नहीं मिलेंगी कि केन्द्र में सरकार बना ले. जिन मीडिया सर्वेक्षणों में भाजपा को बहुमत दिलाया जा रहा है, वे दरअसल उसके मैनेजमेंट की देन हैं. उसका यह प्रचार जनता की अदालत में फलदायी नहीं होगा.

 

सपा प्रमुख ने कहा कि कांग्रेस एक मरती हुई शक्ति है. भ्रष्टाचार और रोजमर्रा की चीजों की बढ़ती कीमतों से पस्त जनता लोकसभा चुनाव में कांग्रेस को उसकी सही जगह दिखा देगी.

 

लोकसभा चुनाव के बाद तीसरे मोर्चे की सरकार बनने का दावा करते हुए उन्होंने कहा कि समान विचारधारा वाली पार्टियों द्वारा काफी विचार-विमर्श के बाद तय किया गया है कि चुनाव के बाद ही तीसरे मोर्चे के नेता का चुनाव किया जाएगा.

 

यादव ने कहा कि कांग्रेस के अनेक नेताओं ने विदेशी बैंकों में अकूत कालाधन जमा कर रखा है. यह बात कांग्रेस के ही एक नेता ने स्वीकार की थी. तीसरे मोर्चे की सरकार बनने पर वह कालाधन देश में वापस लाया जाएगा.

 

उन्होंने कहा कि देश में किसानों के पसीने से उपजा अनाज गोदामों में सड़ जाता है. उच्चतम न्यायालय के सुझाव के बावजूद केन्द्र की कांग्रेसनीत सरकार ने उसे गरीबों में नहीं बांटा. तीसरे मोर्चे की सरकार बनने पर देश में अनाज के भंडारण की उचित व्यवस्था प्राथमिकता के आधार पर की जाएगी.

फटाफट ख़बरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर और डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App
Web Title:
Read all latest India News headlines in Hindi. Also don’t miss today’s Hindi News.

First Published:
Next Story जम्मू कश्मीर में आतंकी हमला, दो पुलिसकर्मी शहीद