मेरा किसी से बैर नहीं, पोस्टरबाज़ी रुके: संजय जोशी

By: | Last Updated: Sunday, 17 June 2012 1:30 AM
मेरा किसी से बैर नहीं, पोस्टरबाज़ी रुके: संजय जोशी

नई दिल्ली: गुजरात के
मुख्यमंत्री नरेंद्र मोदी
ने भले ही भारतीय जनता पार्टी
के पूर्व संगठन महामंत्री
संजय जोशी को पार्टी से बाहर
करने के लिए कोई कोर कसर न
छोड़ी हो, लेकिन खुद जोशी का
कहना है कि उनका किसी से कोई
बैर नहीं है. उन्होंने दिल्ली
से लेकर गुजरात तक चले पोस्टर
वार पर भी अपना पक्ष साफ करते
हुए कहा है कि ऐसा करने वाले
भाजपा के शुभचिंतक नहीं हो
सकते.

दरअसल, संजय जोशी ने भाजपा
कार्यकर्ताओं के नाम एक अपील
जारी की है, जिसमें यह बातें
कही गई हैं. उन्होंने यह कहते
हुए कि उनके लिए दल और
विचारधारा सर्वोपरि है,
कार्यकर्ताओं से अपील की है
कि कोई भी ऐसा पोस्टर, पर्चा न
जारी करें और न ही कोई अभियान
चलाएं जो किसी एक नेता या
नेताओं के खिलाफ हो. यह ध्येय
के विरुद्ध होगा.

ग़ौरतलब है कि मोदी के दबाव
में भाजपा द्वारा पहले तो
संजय जोशी को कार्यकारिणी से
बाहर किए जाने और उसके बाद
उनका इस्तीफा स्वीकार कर लिए
जाने के बाद कई दिनों तक
दिल्ली से लेकर गुजरात और देश
के कई हिस्सों में उनके नाम
और तस्वीर के साथ पोस्टर
लगाने के घटनाएं सामने आई
थीं.

ऐसी घटनाओं को अंजाम देने
वालों को मोदी विरोधी और जोशी
समर्थक बताया जा रहा था. खुद
भाजपा ने इसे पार्टी विरोधी
असामाजिक तत्वों का हाथ करार
दिया था.

जोशी ने अपनी अपील में कहा है,
“इन घटनाओं पर मैं पहले भी
स्पष्ट कर चुका हूं कि ऐसा
करने वाले भाजपा के शुभचिंतक
नहीं हो सकते. यह कार्य
षड्यंत्रकारियों का है. मैं
पार्टी कार्यकताओं एवं
शुभचिंतकों से अपील करता हूं
कि न वे किसी प्रकार का
पोस्टर, पैम्पलेट जारी करें
और न ही मेरे पक्ष में कोई
अभियान चलाएं.”

उन्होंने कहा, “मैंने हमेशा
ही पार्टी के कर्तव्य को अपने
से बड़ा माना है. व्यक्ति का
महत्व दल के कारण है. मेरे लिए
दल और विचारधारा अहम है.
भाजपा है तभी हम है इसलिए
हमें ऐसा कोई कदम नहीं उठाना
चाहिए. जिससे भाजपा को नुकसान
हो. इस समय देश की जैसी हालत
है, उसमें पोस्टर या अन्य ऐसे
अभियानों का विरोधी फायदा
उठाने की कोशिश कर सकते हैं.
वे पार्टी और नेताओं को भी
बदनाम करने का षड्यंत्र रच
सकते हैं. इनसे बचने की जरूरत
है.”

जोशी की पार्टी से विदाई में
भले ही मोदी का हाथ हो लेकिन
खुद जोशी कहते हैं, “मैं
स्पष्ट करना चाहूंगा कि मेरा
किसी से बैर नहीं है. इसलिए
कोई भी ऐसा पोस्टर, पर्चा या
अभियान किसी एक नेता या
नेताओं के खिलाफ हो, यह ध्येय
विरुद्ध होगा. यह समय विवेक
और धैर्य से पार्टी हित में
काम करने का है.”

उन्होंने कहा कि आज देश
महंगाई और भ्रष्टाचार जैसे
विकट समस्यओं से जूझ रहा है
जिसका डटकर मुकाबला करने की
जरूरत है. ऐसे समय में
व्यक्तिगत रागद्वेष से ऊपर
उठकर हमें केन्द्र की उस
गूंगी बहरी सरकार के खिलाफ
अभियान को मजबूती देने की
जरूरत है जो आम आदमी के हितों
से बेपरवाह है.

उल्लेखनीय है कि मोदी के दबाव
में जोशी को पहले तो
कार्यकारिणी से बाहर का
रास्ता दिखाया गया और फिर बाद
में पार्टी की ओर से कहा गया
है कि उन्होंने पार्टी
छोड़ने का आग्रह किया था,
जिसे अध्यक्ष नितिन गडकरी ने
स्वीकार कर लिया. इसके बाद
जोशी ने हालांकि कहा था कि
उन्होंने पार्टी नहीं बल्कि
उत्तर प्रदेश की जिम्मेदारी
से मुक्त किए गए जाने का
आग्रह किया था न कि पार्टी से.

बहरहाल, जोशी ने भाजपा के
लेटरहेड पर यह अपील जारी की
है.

India News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: मेरा किसी से बैर नहीं, पोस्टरबाज़ी रुके: संजय जोशी
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
First Published:

Related Stories

20 महीने तक चला महागठबंधन का कार्यकाल, हुए ये 6 बड़े बवाल...!
20 महीने तक चला महागठबंधन का कार्यकाल, हुए ये 6 बड़े बवाल...!

नई दिल्ली: नीतीश कुमार के सीएम पद से इस्तीफे के साथ ही बिहार में जेडीयू, आरजेडी और कांग्रेस के...

नीतीश कुमार के इस्तीफे को कांग्रेस ने बताया निराशाजनक
नीतीश कुमार के इस्तीफे को कांग्रेस ने बताया निराशाजनक

नई दिल्ली: कांग्रेस पार्टी ने बुधवार को बिहार के मुख्यमंत्री के रूप में नीतीश के इस्तीफे पर...

बीजेपी संसदीय बोर्ड में बड़ा फैसला, गुजरात से राज्यसभा जाएंगे अमित शाह और स्मृति ईरानी
बीजेपी संसदीय बोर्ड में बड़ा फैसला, गुजरात से राज्यसभा जाएंगे अमित शाह और...

नई दिल्ली: दिल्ली में आज बीजेपी संसदीय बोर्ड की बैठक में बड़ा फैसला लिया गया. बीजेपी ने पार्टी...

महागठबंधन को बचाने के लिए लालू का फॉर्मूला, विधायक दल के सदस्य करें नए CM का चुनाव
महागठबंधन को बचाने के लिए लालू का फॉर्मूला, विधायक दल के सदस्य करें नए CM का...

पटना: मुख्यमंत्री पद से नीतीश कुमार के इस्तीफे के बाद आरजेडी के अध्यक्ष लालू प्रसाद ने नीतीश के...

एबीपी न्यूज़ पर दिनभर की बड़ी खबरें
एबीपी न्यूज़ पर दिनभर की बड़ी खबरें

एबीपी न्यूज़ पर दिनभर की बड़ी खबरें 1. *बिहार के सीएम नीतीश कुमार ने आज राज्यपाल को अपना इस्तीफा...

बिहार में मध्यावधि चुनाव के पक्ष में नहीं बीजेपी : सुशील मोदी
बिहार में मध्यावधि चुनाव के पक्ष में नहीं बीजेपी : सुशील मोदी

पटना: बिहार के पूर्व उपमुख्यमंत्री और बीजेपी के वरिष्ठ नेता सुशील कुमार मोदी ने मुख्यमंत्री...

जानें नीतीश कुमार के इस्तीफे के पीछे की दस बड़ी वजहें
जानें नीतीश कुमार के इस्तीफे के पीछे की दस बड़ी वजहें

नई दिल्ली: बिहार की राजनीति पिछले कुछ दिनों से गरमायी हुई थी. सियासी पारा तब और ज्यादा चढ़ गया जब...

यहां पढ़ें: नीतीश के इस्तीफा देने के बाद अब बिहार में क्या होगा?
यहां पढ़ें: नीतीश के इस्तीफा देने के बाद अब बिहार में क्या होगा?

नई दिल्ली: बिहार के सियासत में अचानक ही सियासी पारा चढ़ गया है. बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश...

निजता पर सरकार का रुख थोड़ा नरम, सुप्रीम कोर्ट ने पूछा- क्या बंद कर दें सुनवाई?
निजता पर सरकार का रुख थोड़ा नरम, सुप्रीम कोर्ट ने पूछा- क्या बंद कर दें...

नई दिल्ली : केंद्र सरकार ने आज ये माना कि निजता के कुछ पहलू मौलिक अधिकार के दायरे में हैं....

हमारे पास 132 विधायकों का समर्थन, सुबह 10 बजे होगा शपथ ग्रहण: सुशील मोदी
हमारे पास 132 विधायकों का समर्थन, सुबह 10 बजे होगा शपथ ग्रहण: सुशील मोदी

नई दिल्ली: बिहार में चार साल बाद बीजेपी की सत्ता में वापसी होगी. महागठबंधन टूटने के बाद नीतीश...

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017