मैकुलम के तिहरे शतक से खुश हुई थी टीम इंडिया!

By: | Last Updated: Friday, 21 February 2014 11:28 AM
मैकुलम के तिहरे शतक से खुश हुई थी टीम इंडिया!

(फोटो एएफपी)

नई दिल्ली: न्यूजीलैंड क्रिकेट ने 84 साल के लंबे इंतजार के बाद अपने किसी खिलाड़ी को एक ही पारी में तिहरा शतक लगाते देखा था. कप्तान ब्रैंडन मैकुलम के बल्ले से निकले इस तिहरे शतक ने कुछ नए रिकॉर्ड बनाए. नए रिकॉर्ड बनने से कुछ पुराने रिकॉर्ड भी टूटे. रिकॉर्ड भी ऐसा जिसे कोई टीम अपने नाम नहीं करना चाहेगा क्योंकि इस रिकॉर्ड के बनने से टीम के बल्लेबाजों के खिलाफ कई सवाल उठ जाते हैं. 

 

यह अनोखा रिकॉर्ड था सबसे अधिक टेस्ट मैचों के इंतजार के बाद पहले तिहरा शतक का. मैकुलम न्यूजीलैंड की तरफ से तिहरा शतक जड़ने वाले पहले बल्लेबाज तो बने लेकिन इस तिहरे शतक तक पहुंचने के लिए न्यूजीलैंड को 391 टेस्ट मैचों का इंतजार करना पड़ा. यह टेस्ट मैचों के लिहाज से तिहरे शतक के लिए किसी भी टीम का सबसे लंबा इंतजार है. इससे पहले सबसे अधिक टेस्ट मैचों तक इंतजार का रिकार्ड भारत के नाम पर था. वीरेंद्र सहवाग 29 मार्च 2004 को पाकिस्तान के खिलाफ मुलतान में जब तिहरा शतक जड़ने वाले पहले भारतीय बल्लेबाज बने थे तो वह भारत का 372वां मैच था.

 

भारत की तरफ से टेस्ट क्रिकेट में पदार्पण के 71 साल नौ महीने और पांच दिन के बाद पहला तिहरा शतक लगा जबकि न्यूजीलैंड ने इससे अधिक 84 साल एक महीने और नौ दिन तक इंतजार किया. वैसे तिहरे शतक के लिये सबसे लंबी अवधि तक इंतजार करने का रिकार्ड दक्षिण अफ्रीका के नाम पर है. हाशिम अमला ने 22 जुलाई 2012 को इंग्लैंड के खिलाफ ओवल में नाबाद 311 रन बनाकर दक्षिण अफ्रीका का 123 साल चार महीने और 11 दिन से चला आ रहा इंतजार खत्म किया था. यह दक्षिण अफ्रीका का 367वां मैच था.

 

पाकिस्तान टीम के लिए हनीफ मोहम्मद मे पहला तिसरा शतक वेस्टइंडिड के विरूद्ध किंग्स्टन में 1958 में लगाया था. वेस्टइंडीज के महान आलराउंडर गैरी सोबर्स ने भी इस श्रृंखला में तिहरा शतक जड़ा था. उन्होंने किंग्सटन में नाबाद 365 रन की रिकार्ड पारी खेली थी. यह वेस्टइंडीज का 69वां टेस्ट मैच था.

 

 कैरेबियाई टीम को हालांकि 29 साल आठ महीने और सात दिन का इंतजार करना पड़ा था जबकि श्रीलंका का 15 साल पांच महीने और 20 दिन बाद ही तिहरे शतक का इंतजार खत्म हो गया था. सनथ जयसूर्या ने भारत के खिलाफ पांच अगस्त 1997 को कोलंबो में जिस मैच में 340 रन की पारी खेली थी वह श्रीलंका को 75वां टेस्ट मैच था. टेस्ट क्रिकेट में सबसे पहला तिहरा शतक इंग्लैंड के एंडी सैंडहम ने चार अप्रैल 1930 को वेस्टइंडीज के खिलाफ किंग्सटन में लगाया था. उन्होंने 325 रन की पारी खेली थी.  यह इंग्लैंड का 179वां टेस्ट मैच था और उसे 53 साल 21 दिन तक इंतजार करना पड़ा था.

 

पहला टेस्ट मैच इंग्लैंड और आस्ट्रेलिया के बीच ही खेला गया था. इस तरह से आस्ट्रेलिया को भी पहले तिहरे शतक के लिये लंबा इंतजार करना पड़ा था. महान डान ब्रैडमैन ने 11 जुलाई 1930 को उसका यह इंतजार खत्म किया था. उन्होंने लीड्स में 334 रन की पारी खेली जो कि आस्ट्रेलिया का कुल 136वां टेस्ट मैच था. आस्ट्रेलिया ने इसके लिये 53 साल, तीन महीने और 27 दिन तक इंतजार किया. टेस्ट खेलने वाले दो अन्य देशों जिम्बाब्वे और बांग्लादेश की तरफ से अभी टेस्ट क्रिकेट में तिहरा शतक नहीं लगा है.

India News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: मैकुलम के तिहरे शतक से खुश हुई थी टीम इंडिया!
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
First Published:

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017