मोदी की रैली को सुरक्षित बनाने में जुटी यूपी पुलिस

By: | Last Updated: Monday, 28 October 2013 11:55 PM
मोदी की रैली को सुरक्षित बनाने में जुटी यूपी पुलिस

<p style=”text-align: justify;”>
<b>नई
दिल्ली:</b> यूपी के बहराइच में
आठ नवंबर को मोदी की रैली है.
इस रैली ने यूपी पुलिस और
इंटेलीजेंस के होश उड़ा रखे
हैं. पुलिस जहां सुरक्षा चाक
चौबंद रखने की पूरी तैयारी कर
रही है वहीं इंटेलीजेंस ने भी
अभी से टोही रुख अपना लिया है.
</p>
<p style=”text-align: justify;”>
एसपी बहराइच मोहित गुप्ता ने
बताया कि,”स्थानीय
इंटेलीजेंस पूरी तरह हर चीज़
पर निगाह रखे हुए है, हालांकि
अभी ये तय नहीं किया गया है कि
रैली के दौरान कितने
पुलिसकर्मी चैनात रहेंगे.”
</p>
<p style=”text-align: justify;”>
उन्होंने बताया कि पटना जैसे
हादसे की पुनरावृति न हो इसके
लिए हमारी पूरी तैयारी है और
हम हर स्तर पर इस रैली के लिए
तैयार हैं.
</p>
<p style=”text-align: justify;”>
गौरतलब है कि बहराइच, नेपाल
बॉर्डर से सटा हुआ यूपी का एक
जिला है जो काफी संवेदनशील
माना जाता है. बहराइच के
नजदीकी जिलों में लखीमपुर,
फैज़ाबाद और बस्ती आदि शामिल
हैं.
</p>
<p style=”text-align: justify;”>
कानपुर में मोदी की रैली काफी
सफल रही थी ऐसे में यूपी
बीजेपी की पूरी कोशिश होगी कि
बहराइच रैली भी इतनी ही सफल
रहे. इस रैली के माध्यम से
बीजेपी की कोशिश पूर्वांचल
के जिलों में भगवा ध्वज
फहराने की है.<br /><br />पटना में
हुए हादसे के बाद यूपी में
हाई अलर्ट जारी कर दिया गया
है. सार्वजनिक जगहों जैसे
रेलवे स्टेशन, बस स्टेशन, मॉल
और तमाम भीड़ वाले इलाकों में
कड़ी चौकसी बरती जा रही है.<br /><br />एडीजी
राजकुमार विश्वकर्मा के
मुताबिक आठ नवंबर को बहराइच
में होने वाली मोदी की रैली
स्थल पर पीएसी के कैंप लगाने
के निर्देश दे दिये गये हैं.<br /><br />बीजेपी
के राष्ट्रीय सचिव डॉक्टर
अनिल जैन ने एबीपी न्यूज़ से
बातचीत में कहा कि,” इस तरह की
रैलियों में सुरक्षा की पूरी
जिम्मेदारी केंद्र और राज्य
सरकारों की होती है. मोदी की
लहर से विरोधी पार्टियां
बेहाल हैं. मोदी की रैलियां
रोकने की कोशिश की जा रही है
लेकिन देश का लोकतंत्र इस
आतंक की साजिश का मुंहतोड़
जवाब देगा.” <br /><br /><b>मोदी की
रैलियों के लिए अलर्ट </b><br /><br />पटना
में मोदी की रैली के दौरान
हुए सीरियल ब्लास्ट के बाद
जांच एजेंसियां अपने काम में
जुट गई हैं. इस बीच खबर आई है
कि 24 सितंबर को तमाम राज्यों
को अलर्ट भेजा गया था कि जहां
भी मोदी का कार्यक्रम हो वहां
सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम
किए जाएं. <br /><br />खबर के मुताबिक
हमले के बड़े खतरे का अलर्ट
दिया गया था और इसी वजह से
एनएसजी सुरक्षा भी दोगुनी की
गई थी.<br /><br />ब्लास्ट के पीछे
कौन है इसका पता तो जांच के
बाद ही चल पाएगा लेकिन मोदी
की रैलियों में सुरक्षा
पुख्ता हो इसकी जिम्मेदारी
राज्य सरकारों पर बढ गई है. <br /><br /><b>मोदी
की सुरक्षा का प्रोटोकॉल </b><br /><br />गुजरात
के सीएम नरेंद्र मोदी जेड
प्लस सुरक्षा के घेरे में
रहते हैं. एनएसजी की एडवांस
टीम के 36 जवान उनकी सुरक्षा
में मुस्तैद रहते हैं. दो
पायलट कार, दो एस्कॉर्ट कार,
बुलेटप्रूफ कार उनके काफिले
में शामिल हैं. <br /><br />वे जहां
रैली करते हैं वहां डॉग
स्क्वाड से सैनिटाइजेशन
किया जाता है. बॉम्ब
डिस्पोज़ल स्क्वाड वहां
तैनात होता है, जैमर लगे होते
हैं, मेटल डिटेक्टर लगे होते
हैं और साथ ही एंबुलेंस भी
मौजूद रहती है.<br />
</p>

India News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: मोदी की रैली को सुरक्षित बनाने में जुटी यूपी पुलिस
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
और जाने: ???? ?????
First Published:

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017