मोदी के करीबी गौतम अदाणी ने एबीपी न्यूज से कहा- न तो मोदी को चुनाव का फंड दिया, न फ्री में हेलिकॉप्टर

By: | Last Updated: Tuesday, 29 April 2014 9:06 AM

नई दिल्ली: उद्योगपति गौतम अडाणी और बीजेपी के प्रधानमंत्री पद के उम्मीदवार नरेंद्र मोदी के करीबी होने को लेकर ‘आप’ के केजरीवाल और कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी तक हमले करते रहे हैं.

 

एबीपी न्यूज़ के एडिटर (गुजरात), ब्रजेश कुमार सिंह से बातचीत में गौतम अदाणी ने सभी विवादित सवालों के जवाब दिए हैं.

 

बातचीत के मुख्य अंश-

  • गौतम अदाणी ने कहा कि अदाणी ग्रूप ने देश विकास के लिये कितना काम किया ये आता नहीं है. सभी सरकार के समय हमे जमीन में कोई छुट नहीं मिली. सारी जमीनें नियमानुसार दिया गया है. कच्छ का इलाका देश के पिछड़े इलाको में से एक है. हमने निवेश कर वहां विकास किया. इलाके के किसान खुश है. हमने सरकारी जमीन ली. किसानो की जमीन नही ली फिर भी उनके जमीन के भाव बहुत अधिक हो गये.
     

  • गौतम अदाणी ने कहा कि किसी भी राज्य में किसी की भी सरकार हो उससे बातचीत किये बिना डेवलपमेंट नहीं कर सकते. स्टॉक का दाम बढना संयोग है.
     

  • गौतम अदाणी ने कहा कि राजस्थान में मुझे 20 रूपये प्रति वर्ग मीटर जमीन मिली. महाराष्ट्र में 25 रूपये प्रति वर्ग मीटर जमीन मिली. मेरा जमीन का कारोबार नहीं.
     

  • अदाणी पर यह भी आरोप लगते रहे हैं कि लोकसभा चुनावों के लिए मोदी के प्रचार प्रसार में उनके पैसों से किया जा रहा है. इस सवाल पर अदाणी का कहना है कि किसी के प्रचार में चंदा नहीं है और वह प्लेन मुफ्त में किसी को नहीं देते. हेलिकॉप्टर का बिल मिलता है.
     

  • 2009 में यूपीए अध्यक्ष सोनिया गांधी के दामाद रॉबर्ट वाड्रा से भी कारोबार के सिलसिले में गौतम अदाणी मिल चुके हैं. गौतम अदाणी ने इस पर सफाई देते हुए कहा कि रॉबर्ट वाड्रा से हुए मुलाकात को किसी अन्य नजरिये से नहीं देखा जाना चाहिये. अदाणी ने कहा कि रॉबर्ट वाड्रा से मेरे कोई खास रिश्ता नहीं है. एक मुलाकात को सिर्फ हाईलाइट किया जाता है.
     

  • राजनीति कारण से मेरे उपर आरोप लगाये गये हैं. महाराष्ट्र और राजस्थान में भी मैंने जमीन खरीदी. वाघेला , मेहत, केशुभाई के समय में भी जमीन मिली.

यहां देखें- पूरी बातचीत