मोदी के रथ को रोकने के लिए 'दो दुश्मन' हो सकते हैं 'एक'!

मोदी के रथ को रोकने के लिए 'दो दुश्मन' हो सकते हैं 'एक'!

By: | Updated: 12 Apr 2014 02:15 PM
नई दिल्ली. वाराणसी की सियासत में गर्मी बढ़ती जा रही है. बीजेपी के पीएम उम्मीदवार नरेंद्र मोदी के रथ को रोकने के लिए सियासत के हर दांव लगाए जा रहे हैं.

 

मुख्तार अंसारी के भाई और कौमी एकता दल के राष्ट्रीय अध्यक्ष अफजाल अंसारी ने एबीपी न्यूज से कहा कि उन्होंने मायावती और मुलायम दोनों को पत्र लिखा है कि वे अपने कैंडिडेट वापस ले लें. मोदी को हराने के लिए उम्मीदवार वापस लेने के लिए पत्र लिखने का दावा कर रहे हैं. उन्होंने यहां तक कहा कि कि अरविंद केजरीवाल या अजय राय में से किसी एक को समर्थन देंगे. जिसकी स्थिति मजबूत रहेगी.

 

इधर कांग्रेस के उम्मीदवार अजय राय ने एबीपी न्यूज से खास बातचीत में कहा कि पार्टी के स्तर पर चाहे जो भी हो. मैं व्यक्तिगत रूप से अंसारी भाईयों से समर्थन नहीं मांगने जाउंगा. मैं खुद ही यहां की जनता के दिल में रहता हूं.

 

अजय राय की मुख्तार अंसारी से पुरानी अदावत है. मुख्तार अंसारी पर अजय राय के भाई अवधेश राय की 1991 में उनके घर के सामने हत्या करने का आरोप है. 

 

उधर केजरीवाल ने पहले तो समर्थन लेने का इशारा किया लेकिन बाद में आम आदमी पार्टी के प्रवक्ता आशुतोष ने किसी भी तरह का मुख्तार से समर्थन लेने से इनकार कर दिया.

 

अब आगे देखना होगा कि मोदी को रोकने के लिए अंसारी बंधु किसका समर्थन करते हैं. गौरतलब है कि अजय राय और मुख्तार अंसारी में दुश्मनी गहरी है. लेकिन अब संभावना जताई जा रही है कि चूकि अजय राय वाराणसी में मोदी के खिलाफ मजबूत उम्मीदवार हैं इसलिए अंसारी इनका समर्थन कर दें. लेकिन वाराणसी की लड़ाई दिलचस्प होती जा रही है.

फटाफट ख़बरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर और डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App
Web Title:
Read all latest India News headlines in Hindi. Also don’t miss today’s Hindi News.

First Published:
Next Story जम्मू कश्मीर में आतंकी हमला, दो पुलिसकर्मी शहीद