मोदी को 'बोटी-बोटी' करने वाले के बचाव में आए राहुल गांधी

मोदी को 'बोटी-बोटी' करने वाले के बचाव में आए राहुल गांधी

By: | Updated: 29 Mar 2014 10:39 AM
गाजियाबाद: कांग्रेस के उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने सहारनपुर से कांग्रेस प्रत्याशी और बीजेपी के पीएम उम्मीदवार नरेंद्र मोदी पर अपशब्द बोलने वाले नेता इमरान मसूद का बचाव किया है. राहुल ने कहा की ये भाषण मसूद ने तब दिया था जब वह कांग्रेस में शामिल नही थे औप ये भाषण छह महीने पहले का है.

 

राहुल ने ये भी कहा की कांग्रेस सबको प्यार करना सिखाती है दंगा करना नही. इसके बाद राहुल ने ये साफ किया की वो सहारनपुर में रैली के लिए जा रहे हैं. पहले ये कयास लगाए जा रहे थे की शायद राहुल सहारनपुर नहीं जाए.

 

मोदी पर अभद्र टिप्पणी करने वाले इमरान मसूद को आज सुबह ही कोर्ट ने 14 दिन की न्यायिक हिरासत में भेजा है.

 

दूसरी तरफ इससे पहले कांग्रेस पार्टी ने भी बीजेपी के प्रधानमंत्री पद के उम्मीदवार नरेन्द्र मोदी के खिलाफ आपत्तिजनक टिप्पणी करने के आरोप में गिरफ्तार सहारनपुर लोकसभा सीट से अपने प्रत्याशी इमरान मसूद का बचाव किया है.

 

उत्तर प्रदेश कांग्रेस के उपाध्यक्ष सत्यदेव त्रिपाठी ने बातचीत में कहा कि मसूद की जिस वीडियो क्लिपिंग पर विवाद खड़ा हुआ है वह 18 सितम्बर 2013 को एक मोबाइल फोन से रिकार्ड की गयी थी. उस वक्त वह सपा में थे. वह इस साल आठ मार्च को कांग्रेस में शामिल हुए थे.

 

उन्होंने दलील दी कि वीडियो क्लिपिंग में मसूद के पास शेर सिंह नामक व्यक्ति खड़ा है जिसकी पिछले साल चार दिसम्बर को मृत्यु हो चुकी है. इस क्लिपिंग को जब उस समय स्थानीय प्रशासन को दिखाया गया था तब उनके खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं हुई थी, क्योंकि तब वह सत्तारूढ़ दल में थे.

 

त्रिपाठी ने कहा कि कांग्रेस का प्रत्याशी बनने के बाद मसूद ने ऐसी कोई आपत्तिजनक बात नहीं कही है. उस वक्त जब वह कांग्रेस में ही नहीं थे, तब के बयान पर पार्टी उनके खिलाफ कार्रवाई कैसे कर सकती है.

 

उन्होंने इस मामले को मसूद की छवि खराब करने की भाजपा, सपा तथा प्रशासन की साजिश का नतीजा करार देते हुए कहा कि इस प्रकरण से आचार संहिता का कोई उल्लंघन नहीं हुआ है, क्योंकि आचार संहिता चुनाव घोषित होने के साथ ही लागू होती है, उससे पहले नहीं.

 

त्रिपाठी ने कहा कि वह राज्य के मुख्य निर्वाचन अधिकारी उमेश सिन्हा से मुलाकात करके उन्हें प्रकरण की असलियत बताएंगे.

 

भाजपा द्वारा मसूद की आलोचना किये जाने पर त्रिपाठी ने कहा कि इस भगवा दल को यह याद रखना चाहिये कि कैसे उसके नेता वरुण गांधी को पीलीभीत में भड़काउ भाषण देने पर जेल भेजा गया था और बाहर आने पर उन्हें कैसे सिर-आंखों पर बैठाया गया था. इसके अलावा उसके विधायकों संगीत सोम और सुरेश राणा ने खुलेआम भड़काउ भाषण दिये. उन्होंने कहा कि इससे भाजपा का दोहरा चरित्र उजागर होता है. इसके अलावा सपा मसूद से इसलिये नाराज हो गयी है क्योंकि उन्होंने उसका साथ छोड़ दिया है.

 

कांग्रेस राज्य मुख्यालय परिसर में कल बुंदेलखण्ड अधिकार सेना के कार्यकर्ताओं द्वारा किये गये हमले के बारे में त्रिपाठी ने कहा कि वह वारदात पूर्व सांसद गंगा चरन राजपूत के इशारे पर अंजाम दी गयी थी.

 

उन्होंने बताया कि पार्टी ने उस वारदात के बाद मुख्यालय भवन की अतिरिक्त सुरक्षा की मांग की है.

फटाफट ख़बरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर और डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App
Web Title:
Read all latest India News headlines in Hindi. Also don’t miss today’s Hindi News.

First Published:
Next Story JNU Entrance Exam के नतीजे घोषित, ऐसे देखें रिजल्ट