मोदी से इंटरव्यू में हल्के सवालों के आरोप पर मधु किश्नर की सफाई- कहा पूरे रिसर्च के साथ पूछे हर तरह के सवाल

By: | Last Updated: Monday, 31 March 2014 11:04 AM

नई दिल्ली. चुनाव के मैदान में भले ही बीजेपी के पीएम उम्मीदवार नरेंद्र मोदी घूम-घूम कर विरोधियों पर हमले कर रहे हैं. कांग्रेस पर सवालों की बौछार कर रहे हैं. लेकिन क्या मोदी खुद सवालों की बौछार से बचते हैं?

 

यह सवाल इसलिए उठ रहा है क्योंकि नरेंद्र मोदी का इंटरव्यू लेने वाली पत्रकार मधु किश्वर का सामना इन आरोपों से हो रहा है कि उन्होंने इंटरव्यू में मोदी से काउंटर सवाल नहीं किये. मोदी से उन्होंने वही सवाल पूछे जिसका जवाब मोदी ने आसानी से दिया. जब इस तरह के आरोप उठने लगे तो इन आरोपों पर मधु किश्वर की सफाई आई है.

 

मधु किश्वर ने सफाई देते हुए कहा है कि पूरे रिसर्च के साथ हर तरह के सवाल पूछे गये हैं.

मधु किश्वर के मुताबिक उन्होंने मोदी पर किताब लिखी है जिसका नाम है ‘मोदी, मुस्लिम और मीडिया’ और इसी किताब के सिलसिले में मोदी का इंटरव्यू लिया गया है. इंटरव्यू का जो पहला हिस्सा दिखाया गया उसमें उनके सीएम बनने की कहानी से लेकर सीएम की कुर्सी पर बैठकर मिली चुनौतियों का जवाब मोदी ने दिया.

 

कौन हैं मधु किश्वर ?

 

समाजशास्त्री और सीएसडीएस में प्रोफेसर मधु किश्वर पिछले 35 सालों से मानुषी पत्रिका का संपादन कर रही हैं और मानुषी संगठन की संस्थापक अध्यक्ष हैं जो मानवाधिकार और महिलाओं के लिए काम करती है. लेकिन पिछले साल मधु किश्वर तब सुर्खियों में आई जब उनकी पत्रिका की वेबसाइट पर मोदीनामा की पहली तीन किश्तों में मोदी की तारीफ छपी. मोदीनामा में चुन चुन कर ऐसे लोगों की कहानी बताई गयी है जो मोदी को मुसलमानों का सबसे बड़ा रहनुमा बताते हैं.