यूपी के विधायक डॉक्टरों से माफी मांगने को तैयार, क्या खत्म होगी डॉक्टरों की हड़ताल?

By: | Last Updated: Wednesday, 5 March 2014 3:51 AM

कानपुर: समाजवादी पार्टी विधायक पुलिस और जूनियर डाक्टरों के बीच संघर्ष के बाद गिरफ्तार कर जेल भेजे गये 24 मेडिकल छात्रों को कल शाम ही अदालत से जमानत मिल गयी थी लेकिन आज रात आठ बजे तक जेल से बाहर नही आये . यह डाक्टर इस बात पर अड़े है कि जब तक उनके खिलाफ लगाये गये आपराधिक मुकदमें वापस नही होते हैं, एसएसपी यशस्वी यादव को निलंबित नही किया जाता है तथा सपा विधायक इरफान सोलंकी के खिलाफ कार्रवाई नही की जाती है, वे जमानत होने के बाद भी जेल से बाहर नही आयेंगे.

 

वहीं दूसरी तरफ सपा विधायक इरफान सोलंकी ने कहा है कि जूनियर डॉक्टर हड़ताल खत्म कर दें तो वो माफी मांगने को तैयार हैं. कानपुर के एसएसपी ने कहा कि पीड़ित डॉक्टर अगर आरोपी विधायक इरफान सोलंकी के खिलाफ शिकायत देंगे तो कार्रवाई संभव है .

 

 

मुख्यमंत्री अखिलेश यादव से मिलने गये डाक्टरों की बाचतीत का कोई नतीजा नही निकला और डाक्टरों का कहना है कि उन्हें सिर्फ आश्वासन मिला है. मेडिकल कालेज समेत सभी प्राइवेट मेडिकल कालेजों में जूनियर डाक्टरों की हड़ताल आज पांचवे दिन भी जारी रही.

 

लखनउ से प्राप्त खबरों के अनुसार केजीएमसी मेडिकल कालेज लखनउ और प्रदेश के एक मात्र सुपर स्पेशलियटी हास्पिटल संजय गांधी पीजीआई के डाक्टर भी कानपुर के जूनियर डाक्टरों के समर्थन पर हड़ताल पर चले गये हैं .

 

जूनियर डाक्टरों और मेडिकल शिक्षकों ने दावा किया कि प्रदेश के सभी मेडिकल कालेज के डाक्टर हड़ताल पर है .