यूपी चुनाव के पांचवें दौर में दागियों की भी कमी नहीं

यूपी चुनाव के पांचवें दौर में दागियों की भी कमी नहीं

By: | Updated: 22 Feb 2012 10:08 PM


लखनऊ: उत्तर
प्रदेश में पांचवें चरण के
विधानसभा चुनाव में आपराधिक
छवि वाले उम्मीदवार भी मैदान
में हैं. खास बात ये कि हर बड़ी
पार्टी ने आपराधिक छवि वाले
उम्मीदवारों को टिकट दिया है.


पांचवें चरण के चुनाव में
आपराधिक छवि वाले
उम्मीदवारों की कमी नहीं है.
गैर राजनीतिक संगठन
एसोसिएशन फॉर डेमोक्रेटिक
रिफॉर्म्स यानि एडीआर ने
यूपी में पांचवें चरण के
चुनाव में 49 सीटों पर अपनी
किस्मत आजमा रहे
उम्मीदवारों में से 248
उम्मीदवारों के शपथपत्रों
का अध्ययन किया.

इस
अध्ययन से ये पता चला कि 76
उम्मीदवारों ने अपने खिलाफ
आपराधिक मामलों की पुष्टि की
है. करीब हर बड़ी पार्टी ने
आपराधिक छवि वाले
उम्मीदवारों को टिकट दिया है.


बीएसपी के 12 आपराधिक छवि
के उम्मीदवार हैं यानि
बीएसपी ने करीब 25 फीसदी
आपराधिक छवि वाले
उम्मीदवारों को टिकट दिया है.


समाजवादी पार्टी के 24
आपराधिक छवि के उम्मीदवार
हैं यानि समाजवादी पार्टी ने
करीब 50 फीसदी आपराधिक छवि
वाले उम्मीदवारों को टिकट
दिया है. 

वहीं बीजेपी के 13
उम्मीदवार आपराधिक छवि वाले
हैं यानि बीजेपी में करीब 28
फीसदी आपराधिक छवि वाले
उम्मीदवार हैं. कांग्रेस में
14 उम्मीदवार आपराधिक छवि
वाले हैं यानि कांग्रेस के
करीब 29 फीसदी उम्मीदवार
आपराधिक छवि वाले हैं.

यानि
इन चार बड़ी पार्टियों में
बीएसपी ने सबसे कम और
समाजवादी पार्टी ने सबसे
ज्यादा आपराधिक छवि वाले
उम्मीदवारों को टिकट दिया है.




प्रमुख दागी




एटा की अलीगंज सीट से
समाजवादी पार्टी के
उम्मीदवार रामेश्वर सिंह के
खिलाफ सबसे ज्यादा 27 मामले
दर्ज हैं. फिरोजाबाद की
जसराना सीट से समाजवादी
पार्टी उम्मीदवार राम वीर
सिंह के खिलाफ 18 मामले दर्ज
हैं.

फिरोजाबाद की
सिरसागंज सीट से समाजवादी
पार्टी उम्मीदवार हरि ओम के
खिलाफ 16 मामले दर्ज हैं. इटावा
की जसवंतनगर सीट से बीएसपी
उम्मीदवार मनीष यादव के
खिलाफ 15 मामले दर्ज हैं.

फिरोजाबाद
सीट से समाजवादी पार्टी के
उम्मीदवार अजिम भाई के खिलाफ
14 मामले दर्ज हैं. हमीरपुर
विधानसभा सीट से पीस पार्टी
के उम्मीदवार अशोक कुमार
सिंह पर नौ मामले दर्ज हैं.

झांसी
की बबीना सीट से समाजवादी
पार्टी के उम्मीदवार
चंद्रपाल सिंह यादव के खिलाफ
आठ मामले दर्ज हैं. हमीरपुर
से कांग्रेस उम्मीदवार केशव
बाबू के खिलाफ छह मामले दर्ज
हैं.

झांसी की गरौठा सीट
से समाजवादी पार्टी के
उम्मीदवार दीपनारायण सिंह
के खिलाफ छह मामले दर्ज हैं.
मैनपुरी की भोगांव सीट से
बीजेपी उम्मीदवार स्वामी
सच्चिदानंद हरि के खिलाफ
पांच केस दर्ज हैं




फटाफट ख़बरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर और डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App
Web Title:
Read all latest India News headlines in Hindi. Also don’t miss today’s Hindi News.

First Published:
Next Story ओम प्रकाश रावत होंगे नए मुख्य चुनाव आयुक्त, 23 जनवरी से संभालेंगे कामकाज