यूपी में बत्ती गुल, पूरे राज्य में दो से 14 घंटे तक बिजली कटौती से गर्मी में लोगों का हाल बेहाल

यूपी में बत्ती गुल, पूरे राज्य में दो से 14 घंटे तक बिजली कटौती से गर्मी में लोगों का हाल बेहाल

By: | Updated: 28 May 2014 02:33 PM
नई दिल्ली. मई की गर्मी बदन झुलसा रही है और यूपी में घंटों की कटौती जनता को रुला रही है. उत्तर प्रदेश में बिजली कटौती से हाहाकार मचा है.

 

जनता भले ही नरेंद्र मोदी सरकार को कटघरे में खड़ा कर रही हो लेकिन सच ये है राज्य में बिजली आपूर्ति की जिम्मेदारी पूरी तरह राज्य सरकार की होती है केंद्र की नहीं. बीजेपी आरोप लगा रही है कि अखिलेश सरकार मोदी को वोट देने की सजा दे रही है.

 

बीजेपी ने तो बिजली कटौती के खिलाफ दो दिनों के आंदोलन का एलान कर दिया है. उत्तर प्रदेश के लगभग हर गांव मोहल्ले और शहर की यही कहानी है.

 

इन दिनों यूपी में 13 से 14 हजार मेगावाट बिजली की मांग है. जबकि आपूर्ति महज 11 हजार मेगावाट की हो रही है. राज्य में सरकारी और निजी क्षेत्रों से सिर्फ 5 हजार मेगावाट बिजली पैदा होती है. और बाकी बिजली खरीद कर या फिर सेंट्रल पूल से पूरी की जाती है. हालांकि उत्तरप्रदेश के मुख्यमंत्री अखिलेश यादव कहते हैं कि यूपी में कहीं कोई बिजली संकट नही है.

 

अखिलेश यादव आधा सच बोल रहे हैं. उनके गृह जिले इटावा में बिजली नहीं जाती. उनके पिता मुलायम सिंह यादव के दो लोकसभा क्षेत्र मैनपुरी और आजमगढ़ में भी 24 घंटे बिजली रहती है. मुलायम की बहू डिंपल यादव का संसदीय क्षेत्र कन्नौज भी बिजली से रौशन रहता है. लेकिन यूपी के बाकी हिस्से में दो से लेकर 14 घंटों तक की बिजली कटौती होती है.

 

वोट के चक्कर में चुनाव के दौरान बिजली बहुत कम जाती थी लेकिन अब जो जाती है तो आने का नाम नहीं लेती. स्थिति ये है कि आने वाले दिन में हालात और खराब हो सकते हैं क्योंकि बिजली की मांग बढ़ती जा रही है लेकिन उत्पादन बढ़ाने के बारे में किसी सरकार ने नहीं सोचा.

 

सीएम अखिलेश यादव अब कह रहे है की बिजलीघर बनाने पर काम होगा. मायावती की राज में बिजली उत्पादन को लेकर दस कंपनियों के संग एम ओ यू हुआ था.

फटाफट ख़बरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर और डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App
Web Title:
Read all latest India News headlines in Hindi. Also don’t miss today’s Hindi News.

First Published:
Next Story रजनीकांत ने किसी का नाम लिए बगैर प्रशंसकों से कहा, 'चुप रहो और सही समय पर शोर करो'