रोड शो करने के बाद नरेंद्र मोदी ने भरा नामांकन

By: | Last Updated: Wednesday, 9 April 2014 2:07 AM

वड़ोदरा: बीजेपी के प्रधानमंत्री पद के उम्मीदवार नरेंद्र मोदी ने वड़ोदरा लोकसभा सीट से अपना नामांकन दाखिल करने से पहले यहां अपना रोड शो किया और हजारों बीजेपी कार्यकर्ताओं तथा समर्थकों की भीड़ उन्हें देखने के लिए एकत्र हुई. मोदी सुबह करीब दस बजे शहर के हवाईअड्डे पर उतरे और सीधे रावपुरा इलाके के कीर्ति स्तंभ परिसर पहुंचे. वहां से उनका रोड शो ‘विजय विकास यात्रा’ आरंभ हुआ.

 

राज्य में नामांकन पत्र दाखिल करने का आज अंतिम दिन है. राज्य में 26 लोकसभा सीटों के प्रतिनिधि चुनने के लिए एक चरण में 30 अप्रैल को मतदान होगा. गुजरात के मुख्यमंत्री वाराणसी लोकसभा सीट से भी चुनाव लड़ रहे हैं जहां 12 मई को मतदान होगा.

 

मोदी के पक्ष में सीट खाली करने वाले बीजेपी सांसद बालकृष्ण शुक्ला डमी प्रत्याशी के तौर पर अपने दस्तावेज दाखिल करेंगे. मोदी के खिलाफ कांग्रेस ने अपने महासचिव मधुसूदन मिस्त्री को टिकट दिया है. कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी के करीबी मिस्त्री ने अपना नामांकन 5 अप्रैल को दाखिल कर दिया.

 

गुजरात के मुख्यमंत्री ने इस मौके पर मतदाताओं से अधिक से अधिक संख्या में मतदान केंद्र जा कर मतदान करने और बीजेपी के प्रतीक चिह्न कमल पर मुहर लगाने की अपील भी की. मोदी के खिलाफ कांग्रेस ने अपने महासचिव मधुसूदन मिस्त्री को टिकट दिया है. कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी के करीबी मिस्त्री ने अपना नामांकन 5 अप्रैल को दाखिल कर दिया.

 

लोकसभा चुनाव लड़ने के लिए वड़ोदरा संसदीय सीट का चयन करने के बाद पहली बार मोदी यहां आए हैं. मोदी के पक्ष में सीट खाली करने वाले बीजेपी सांसद बालकृष्ण शुक्ला डमी प्रत्याशी के तौर पर अपने दस्तावेज दाखिल करेंगे.

 

वाराणसी से कांग्रेस ने मोदी के खिलाफ अपने वर्तमान विधायक अजय राय को टिकट दिया है जबकि आम आदमी प्रत्याशी पार्टी के संयोजक अरविंद केजरीवाल खुद इस सीट से चुनाव लड़ रहे हैं.

 

मोदी सुबह करीब दस बजे शहर के हवाईअड्डे पर उतरे और सीधे रावपुरा इलाके के कीर्ति स्तंभ परिसर पहुंचे. वहां से उनका रोड शो ‘विजय विकास यात्रा’ आरंभ हुआ जो वड़ोदरा के विभिन्न भागों से होता हुआ कलेक्ट्रेट पहुंचा जहां मोदी ने अपने नामांकन दस्तावेज जमा किए.

 

 

मोदी ने कहा कि मुख्यमंत्री होने के नाते उन्होंने परिवीक्षा पर कार्यरत आईएएस, आईपीएस और आईएफएस अधिकारियों को महाराजा सयाजीराव गायकवाड़ पर लिखी पुस्तक ‘‘माइनर हिन्ट्स’’ पढ़ने की सलाह दी. उन्होंने संवाददाताओं को बताया ‘‘गायकवाड़ का बेहतर प्रशासन के लिए दृष्टिकोण आज भी हमारे लिए प्रेरणादायक है..मेरा जन्म वाडनगर में हुआ जो गायकवाड़ राज्य का हिस्सा है.’’ मोदी ने याद करते हुए बताया कि जहां उन्होंने अपना नामांकन पत्र दाखिल किया है, उस जगह से कभी वह सिर्फ 200 कदम दूर रहते थे. उन्होंने कहा कि वह इस बात को लेकर खुश हैं कि अब उन्हें लोगों के लिए काम करने का मौका मिला है.