लोकसभा चुनाव के तीसरे चरण में 91 सीटों पर वोटिंग शुरू, जानें कितना अहम है ये चुनाव?

लोकसभा चुनाव के तीसरे चरण में 91 सीटों पर वोटिंग शुरू, जानें कितना अहम है ये चुनाव?

By: | Updated: 10 Apr 2014 12:58 AM
नई दिल्ली: आज दिल्ली की सात सीटों सहित देश के कुल 91 सीटों पर मतदान हो रहा है. लेकिन आज का चुनाव महज 91 सीटों का चुनाव नहीं हैं. आज के चुनाव में कई दिग्गजों की प्रतिष्ठा दांव पर लगी हुई है.

 

आइए देखते हैं कि आज का चुनाव आखिर इतना अहम क्यों है?

 

आज दिल्ली की सभी सातों सीट पर वोटिंग हो रही है. पिछले लोकसभा चुनाव में कांग्रेस ने दिल्ली की सभी सातों सीट पर जीत दर्ज की थी लेकिन इस बार उसे आप और बीजेपी से कड़ी टक्कर मिल रही है.

 

दिल्ली के चुनाव अरविंद केजरीवाल की प्रतिष्ठा भी दांव पर लगी हुई है. दिल्ली विधानसभा चुनाव में आप ने शानदार कामयाबी दर्ज की थी लेकिन बाद में केजरीवाल ने जिस तरह से दिल्ली की गद्दी छोड़ी उसके बाद नौबत यहां तक आ गई कि केजरीवाल को विज्ञापन देकर बताना पड़ा कि वो अपनी जिम्मेदारियों से भागते नहीं हैं. अब देखना है कि इस बदले माहौल में केजरीवाल क्या कुछ कर पाते हैं.

 

पश्चिमी यूपी की 10 सीटों पर चुनाव

 

आज पश्चिमी यूपी की मुजफ्फरनगर सहित 10 लोकसभा सीटों पर भी वोटिंग हो रही है. दंगों के बाद हो रहे इस चुनाव में राजनेताओं ने अपने नफे नुकसान को तौलते हुए बयानबाजी की है. अब देखना है कि इन विवादस्पद बयानों का मतदाताओं पर कितना असर पड़ता है.

 

हरियाणा की सभी 10 सीटों पर चुनाव

 

हरियाणा में मुख्यमंत्री भूपिंदर सिंह हुड्डा की प्रतिष्ठा दांव पर लगी हुई है. वाड्रा लैंड डील की वजह से भी उनकी खूब किरकिरी हुई है. राज्य की सभी 10 लोकसभा सीटों पर कांग्रेस को बीजेपी के साथ साथ आईएनएलडी से कड़ी टक्कर मिलने की बात कही जा रही है. खास बात है कि आईएनएलडी अध्यक्ष ओमप्रकाश चौटाला और उनके बेटे अजय चौटाला अभी जेल मे बंद हैं.

 

बिहार में किसको फायदा होगा?

 

बिहार में आज कुल 6 सीटों पर वोटिंग हो रही है. बीजेपी और जेडीयू के रिश्ता टूटने और राम विलास पासवान के एनडीए में शामिल होने के बाद ये पहला चुनाव है. ऐसे में देखना है कि बदले राजनीतिक समीकरण से किसे फायदा होता है, किसे नुकसान ?

 

महाराष्ट्र में राज फैक्टर का क्या असर होगा?

 

महाराष्ट्र की 10 लोकसभा सीटों पर यूपीए और एनडीए बढ़त पाने के लिए जोर लगाए हुए हैं, लेकिन बीच में राज ठाकरे यहां के मुकाबले को त्रिकोणीय बनाने की हर मुमकिन कोशिश कर रहे हैं.

 

ओडिशा में नवीन पटनायक का चलेगा जादू ?

 

ओडिशा की 10 लोकसभा सीटों के साथ साथ वहां पर विधानसभा के भी चुनाव हो रहे हैं. इस चुनाव में वहां के मुख्यमंत्री नवीन पटनायक की प्रतिष्ठा दांव पर लगी हुई क्योंकि उनके विश्वस्त प्यारी मोहन पटनायक के अलग होने के बाद उनके लिए ये पहला चुनाव हो रहा है.

 

केरल में क्या होगा ?

 

केरल की सभी 20 लोकसभा सीटों पर आज ही मतदान हो रहा है. पिछले लोकसभा चुनाव में कांग्रेस की अगुवाई वाली यूडीएफ ने 16 सीटों पर सीट दर्ज की थी जबकि लेफ्ट की अगुवाईवाली एलडीएफ के हिस्से में 4 सीट आयी थीं. लेकिन इस बार माहौल बदला हुआ है. अब तक केरल में खाता नहीं खोल सकी बीजेपी के लिए वोट मांगते हुए मोदी ने दावा किया है कि अब जल्दी की केरल के अच्छे दिन आनेवाले हैं. अब देखना है कि केरल के लोग उनके इस दावे पर कितना यकीन करते हैं.

फटाफट ख़बरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर और डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App
Web Title:
Read all latest India News headlines in Hindi. Also don’t miss today’s Hindi News.

First Published:
Next Story UAE के अखबार खलीज टाइम्स का दावा, ‘बाथटब में बेसुध गिरी पड़ी हुई थीं श्रीदेवी’