लोकसभा चुनाव: बिहार की राजनीति में होने वाला है बाहरी नेताओं का कब्जा

By: | Last Updated: Friday, 21 March 2014 8:54 AM
लोकसभा चुनाव: बिहार की राजनीति में होने वाला है बाहरी नेताओं का कब्जा

नयी दिल्ली: लोकसभा चुनाव के समर में जीत को प्राथमिकता देते हुए बिहार में हर राजनीतिक दल में बाहरी उम्मीदवारों को तवज्जो दी गई है. नीतिश की सत्तारूढ़ जेडीयू ने 13 सीटों पर बाहरी उम्मीदवार उतारे हैं, वहीं बीजेपी ने 10 सीटों पर, लालू की राजद ने चार, कांग्रेस ने दो और रामविलास की एलजेपी ने एक सीट पर बाहरी उम्मीदवार उतारा है.

 

बीजेपी उपाध्यक्ष सी पी ठाकुर ने इस विषय में पूछे जाने पर कहा कि पार्टी इस बार कई ऐसी सीटों पर चुनाव लड़ रही है जो पहले गठबंधन के तहत जेडीयू के खाते में थीं. इस बारे में विभिन्न विषयों पर विचार करते हुए उम्मीदवारों को चुना गया है.

 

एक दो स्थानों पर दिक्कत है लेकिन हम सब मिलकर सभी सीटों पर गठबंधन की जीत सुनिश्चित करेंगे. बिहार में सत्तारूढ़ जेडीयू राज्य की 40 में से 38 सीटों पर चुनाव लड़ रहा है और उसने 13 सीटों पर बाहरी उम्मीदवार उतारे हैं.

 

बीजेपी प्रदेश की 30 सीटों पर चुनाव लड़ रही है और उसने 10 सीटों पर बाहरी उम्मीदवार उतारे हैं. आरजेड़ी ने 27 सीटों में से चार पर बाहरी उम्मीदवार उतारे हैं जबकि 12 सीटों पर चुनाव लड़ने वाली कांग्रेस ने दो बाहरी उम्मीदवार खड़े किये हैं. सात सीटों पर चुनाव लड़ने वाली एलजेपी ने एक सीट पर बाहरी उम्मीदवार खड़ा किया है.

 

इस बारे में जदयू सांसद अली अनवर अंसारी ने कहा, ‘‘सभी दलों में यह चलन देखा गया है. जिताने वाले उम्मीदवार को ध्यान में रखते हुए पार्टियां ऐसा करती हैं.’’ बीजेपी ने जिन 10 बाहरी उम्मीदवारों को चुनावी समर में उतारा है, उनमें जेडीयू से आए पांच, दो निर्दलीय (सिवान से ओम प्रकाश यादव और बांका से पुतुल कुमारी) और आरजेडी और बीएसपी से आए एक-एक और पूर्व गृह सचिव आर के सिंह शामिल हैं.

 

जेडीयू ने जिन 13 बाहरी उम्मीदवारों को खड़ा किया है, उनमें आरजेडी से आए पांच, बीजेपी से आए चार, समाजवादी जनता दल (लोकतांत्रिक) से आए एक और फिल्म निर्माता (प्रकाश झा), एक पूर्व नौकरशाह (के पी रमैय्या) और एक बिल्डर शामिल हैं.

 

एक दल छोड़कर दूसरे दल में जाने वालों में राजद के रामकृपाल यादव और जेडीयू के सुशील सिंह प्रमुख हैं. रामकृपाल यादव को बीजेपी ने पाटलीपुत्र से लालू प्रसाद की पुत्री मीसा भारती के खिलाफ खड़ा किया है. जेडीयू से निष्कासन के बाद बीजेपी में आने वाले सुशील सिंह को बीजेपी ने औरंगाबाद से टिकट दिया है.

 

जेडीयू से निष्कासित और मुजफ्फरपुर के सांसद कैप्टन जय नारायण निषाद के पुत्र अजय निषाद को बीजेपी ने इसी सीट से टिकट दिया है. अजय निषाद ने कहा कि मुजफ्फरपुर में नरेंद्र मोदी की लहर है और बीजेपी यह सीट अपार जन समर्थन के साथ जीतेगी.

 

यह पूछे जाने पर कि अल्पसंख्यकों का कितना समर्थन मिल पायेगा, उन्होंने कहा कि अब सभी वर्ग के लोग समझने लगे हैं कि विकास मुख्य मुद्दा है. अल्पसंख्यक अब बीजेपी को अछूत नहीं मानते हैं.

India News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: लोकसभा चुनाव: बिहार की राजनीति में होने वाला है बाहरी नेताओं का कब्जा
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
और जाने: ????? ?????? ????? ??????? ele2014
First Published:

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017