वाराणसी के मतदाता 'प्रधानमंत्री' चुनेंगे या लखनऊ के वोटर?

By: | Last Updated: Friday, 18 April 2014 11:35 AM
वाराणसी के मतदाता ‘प्रधानमंत्री’ चुनेंगे या लखनऊ के वोटर?

लखनऊ. उत्तर प्रदेश के वाराणसी के साथ लखनऊ में भी इस बात की बहस तेज हो गई है कि मतदाता महज सांसद नहीं, प्रधानमंत्री चुनेंगे. लखनऊ में इस बहस को हवा दी है शिया धर्मगुरु मौलाना कल्बे जव्वाद ने. यहां बात भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के नेता नरेंद्र मोदी और पार्टी अध्यक्ष राजनाथ सिंह की हो रही है. मौलाना राजनाथ को प्रधानमंत्री बनाए जाने के पक्ष में नजर आते हैं. लखनऊ के लोगों ने भाजपा के कद्दावर नेता अटल बिहारी वाजपेयी को पांच बार चुना, वह तीन बार प्रधानमंत्री बने. लखनऊ से चुनाव लड़कर उन्हीं वाजपेयी की विरासत पर भाजपा अध्यक्ष राजनाथ सिंह ने दावा ठोंका है. समाजवादी पार्टी (सपा) के अध्यक्ष मुलायम सिंह यादव की बात पर गौर करें तो अंतिम समय में कुछ भी हो सकता है, भाजपा सर्वसम्मति बनाने के लिए मोदी के बजाय राजनाथ को आगे ला सकती है.

 

मुलायम ने एक जनसभा में कहा कि भाजपा के नेता ही नरेंद्र मोदी को प्रधानमंत्री नहीं बनने देंगे. भाजपा के वरिष्ठ नेता मुरली मनोहर जाशी का इशारा भी कुछ ऐसा ही है. उन्होंने एक चैनल पर कहा कि ‘देश में मोदी की नहीं, भाजपा की लहर है.’

 

इसी बीच राजनाथ सिंह की मुस्लिम धर्मगुरुओं से हुई मुलाकात हुई. यह मुलाकात शिया धर्मगुरु व इमाम-ए-जुमा मौलाना कल्बे जव्वाद नकवी और सुन्नी धर्मगुरु व ऐशबाग ईदगाह के इमाम मौलाना खालिद रशीद फिरंगी महली से उनके घर जाकर मुलाकात की थी. भाजपा अध्यक्ष ने उन्हें घोषणापत्र में मुस्लिमों के कल्याण के लिए किए गए वादों की जानकारी दी.

 

लखनऊ के भाजपा के मौजूदा सांसद लालजी टंडन और महापौर डा. दिनेश शर्मा भी उनके साथ मौजूद थे. इसी मुलाकात के बाद शिया मुस्लिम धर्मगुरु कल्बे जव्वाद ने कहा कि लखनऊ के मुसलमान राजनाथ सिंह को अटल बिहारी वाजपेयी की तरह प्रेम देना चाहते हैं, लेकिन भाजपा के प्रधानमंत्री पद के उम्मीदवार नरेंद्र मोदी से डरते हैं.

 

उन्होंने कहा कि गुजरात में हुई दहशतगर्दी से आज भी मुसलमान घबराते हैं और इसका असर राजनाथ सिंह पर पड़ सकता है, क्योंकि मुसलमान मोदी के नाम पर कभी भाजपा को वोट नहीं दे सकते.

 

मौलाना ने कहा कि राजनाथ की छवि साफ-सुथरी है, इसलिए मुसलमान उनसे जुड़ सकते थे, लेकिन मोदी के कारण उनको नुकसान होगा. मौलाना के कहने का आशय यह है कि मोदी के बजाय अगर राजनाथ प्रधानमंत्री पद के उम्मीदवार होते तो वे मुस्लिम वोट पा जाते.

 

मौलाना जव्वाद ने राजनाथ से मुलाकात पर सफाई भी दी है. उन्होंने कहा है कि इस मुलाकात के राजनीतिक मायने नहीं है. इससे पहले भी राजनाथ से उनकी मुलाकातें होती रही हैं. उन्होंने कहा, “जब वह प्रदेश के मुख्यमंत्री रहे तो हमसे मिलते रहे, ईद पर मुबारकबाद देने आते रहे. इस तरह से देखें तो हमारे पहले से ही रिश्ते रहे हैं. ये मुलाकात सियासी नहीं, व्यक्तिगत थी.”

 

वहीं, कांग्रेस के प्रवक्ता अमरनाथ अग्रवाल का कहना है कि भाजपा में यह बच्चे-बच्चे को मालूम है कि राजनाथ सिंह प्रधानमंत्री पद पर नजर गड़ाए हुए हैं. चुनाव के बाद मोदी का रास्ता रोकने की भूमिका तैयार हो रही है. भाजपा के कार्यकर्ता मतदाताओं के बीच इस मुद्दे को रख रहे हैं.

 

पार्टी के एक वरिष्ठ नेता ने कहा कि राजनीति संभावनाओं का खेल है. राजनाथ सिंह को जिस तरह से नितिन गडकरी की कंपनियों पर पड़े छापों के बाद दूसरी बार पार्टी अध्यक्ष बनाया गया था, उसी तरह चुनाव के बाद परिस्थितियां अनुकूल बनीं तो राजनाथ सिंह प्रधानमंत्री हो सकते हैं.

India News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: वाराणसी के मतदाता ‘प्रधानमंत्री’ चुनेंगे या लखनऊ के वोटर?
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
और जाने: ele2014
First Published:

Related Stories

गोरखपुर ट्रेजडी: राहुल ने की मृतक बच्चों के परिजनों से मुलाकात, BRD अस्पताल भी जाएंगे
गोरखपुर ट्रेजडी: राहुल ने की मृतक बच्चों के परिजनों से मुलाकात, BRD अस्पताल भी...

गोरखपुर: उत्तर प्रदेश के गोरखपुर में पिछले दिनों बीआरडी अस्पताल में हुई बच्चों की मौत से मचे...

बड़ी खबर: जल्द बीजेपी में शामिल हो सकते हैं कांग्रेस के बड़े नेता नारायण राणे
बड़ी खबर: जल्द बीजेपी में शामिल हो सकते हैं कांग्रेस के बड़े नेता नारायण...

मुंबई: महाराष्ट्र की राजनीति में एक बड़ा भूकंप आने की तैयारी में है. महाराष्ट्र में कांग्रेस...

JDU की बैठक में बड़ा फैसला, चार साल बाद फिर NDA में शामिल हुई नीतीश की पार्टी
JDU की बैठक में बड़ा फैसला, चार साल बाद फिर NDA में शामिल हुई नीतीश की पार्टी

पटना: बिहार की राजनीति में आज का दिन बेहद अहम माना जा रहा है. पटना में नीतीश की पार्टी की जेडीयू...

यूपी: मदरसों को लेकर योगी सरकार का दूसरा बड़ा फैसला, अब जरुरी होगा रजिस्ट्रेशन
यूपी: मदरसों को लेकर योगी सरकार का दूसरा बड़ा फैसला, अब जरुरी होगा...

लखनऊ: उत्तर प्रदेश की योगी आदित्यनाथ सरकार ने एक अहम फैसले के तहत शुक्रवार से प्रदेश के सभी...

बाढ़ का कहर जारी: बिहार में अबतक 153  तो असम में 140 से ज्यादा की मौत
बाढ़ का कहर जारी: बिहार में अबतक 153 तो असम में 140 से ज्यादा की मौत

पटना/गुवाहाटी: बाढ़ ने देश के कई राज्यों में अपना कहर बरपा रखा है. बाढ़ से सबसे ज्यादा बर्बादी...

CM योगी का राहुल गांधी पर निशाना, बोले- 'गोरखपुर को पिकनिक स्पॉट न बनाएं'
CM योगी का राहुल गांधी पर निशाना, बोले- 'गोरखपुर को पिकनिक स्पॉट न बनाएं'

गोरखपुर: उत्तर प्रदेश के गोरखपुर में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने आज स्वच्छ यूपी-स्वस्थ...

नेपाल, भारत और बांग्लादेश में बाढ़ से ‘डेढ़ करोड़’ से अधिक लोग प्रभावित: रेड क्रॉस
नेपाल, भारत और बांग्लादेश में बाढ़ से ‘डेढ़ करोड़’ से अधिक लोग प्रभावित: रेड...

जिनेवा: आईएफआरसी यानी   ‘इंटरनेशनल फेडरेशन आफ रेड क्रॉस एंड रेड क्रीसेंट सोसाइटीज’ ने...

‘डोकलाम’ पर जापान ने किया था भारत का समर्थन, चीन ने लगाई फटकार
‘डोकलाम’ पर जापान ने किया था भारत का समर्थन, चीन ने लगाई फटकार

बीजिंग:  चीन ने शुक्रवार को जापान को फटकार लगाते हुए कहा कि वह चीन, भारत सीमा विवाद पर ‘बिना...

यूपी: मथुरा में कर्जमाफी के लिए घूस लेता लेखपाल कैमरे में कैद, सस्पेंड
यूपी: मथुरा में कर्जमाफी के लिए घूस लेता लेखपाल कैमरे में कैद, सस्पेंड

मथुरा: योगी सरकार ने साढ़े 7 हजार किसानों को बड़ी राहत देते हुए उनका कर्जमाफ किया है. सीएम योगी...

बिहार: सृजन घोटाले में बड़ा खुलासा, सामाजिक कार्यकर्ता का दावा- ‘नीतीश को सब पता था’
बिहार: सृजन घोटाले में बड़ा खुलासा, सामाजिक कार्यकर्ता का दावा- ‘नीतीश को सब...

पटना:  बिहार में सबसे बड़ा घोटाला करने वाले सृजन एनजीओ में मोटा पैसा गैरकानूनी तरीके से सरकारी...

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017