वाराणसी में मोदी के खिलाफ चुनाव लड़ने का ऐलान किया केजरीवाल ने

By: | Last Updated: Wednesday, 26 March 2014 5:26 AM
वाराणसी में मोदी के खिलाफ चुनाव लड़ने का ऐलान किया केजरीवाल ने

यहां के ऐतिहासिक बेनिया बाग मैदान में हजारों की भीड़ के बीच करीब एक घंटे तक दिए गए अपने भाषण में केजरीवाल ने मोदी और कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांध को पराजित कर लोगों से 'क्रांति' की शुरुआत करने का आह्वान किया.

वाराणसी: आम आदमी पार्टी के नेता अरविंद केजरीवाल ने आज भाजपा के प्रधानमंत्री पद के उम्मीदवार नरेंद्र मोदी पर भ्रष्ट और औद्योगिक घरानों का एजेंट होने का आरोप लगाते हुए आगामी लोकसभा चुनाव में मंदिरों के इस शहर से उनके खिलाफ लड़ने का ऐलान किया .

 

मोदी से सीधी टक्कर लेने के विषय में कई सप्ताह से जारी भ्रम की स्थिति खत्म करते हुए केजरीवाल ने यहां एक रैली में घोषणा की, ‘‘मैं इस चुनौती का सामना करने को तैयार हूं लेकिन मुझे आपके समर्थन की जरूरत है. मेरे पास चुनाव लड़ने के लिए पैसे नहीं हैं. मदन मोहन मालवीय, जिन्होंने लोगों से चंदा मांगकर बनारस हिंदू विश्वविद्यालय की स्थापना की थी, मुझे भी वही करना होगा. ’’

 

दिनभर के रोड शो के बाद उन्होंने शहर के मध्य में बनिया बाग में रैली की जहां उनके साथ आप के शीर्ष नेता-मनीष सिसोदिया, सोमनाथ भारती, कुमार विश्वास, गोपाल राय और सुरेंद्र सिंह आदि थे. रोड शो के दौरान उन पर दो जगहों पर अंडे और स्याही फेंकी गयी.

 

मोदी को निशाना बनाते हुए आप प्रमुख ने कहा कि भाजपा के प्रधानमंत्री पद के उम्मीदवार 272 का आंकड़ा पार करने के लिए कुछ भी कर सकते हैं, सत्ता में आने के लिए लोकसभा में 272 से अधिक सीट जरूरी हैं.

 

केजरीवाल ने मोदी पर औद्योगिक घरानों का ‘एजेंट’ होने का आरोप लगाया और कहा कि यदि वह सत्ता में आ गए तो किसानों से जमीनें छीनकर अदानी और अंबानी को औने पौने दामों में दे दी जाएंगी. किसानों के पास आत्महत्या करने के अलावा कोई विकल्प नहीं रहेगा. मोदी पर निशाना साधते हुए उन्होंने कहा कि मीडिया के एक वर्ग ने गुजरात में विकास को लेकर भ्रम फैला रखा है जबकि हकीकत में मोदी अपने राज्य में किसानों की जमीन उद्योगपतियों को उपहारस्वरूप दे रहे हैं और उन्होंने ऐसी नीतियां अपनाई हैं जो छोटे कारोबारियों के खिलाफ हंै.

 

केजरीवाल ने कुछ दिन पहले कहा था कि मोदी जहां से चुनाव लड़ेंगे, वह उन्हें चुनौती देंगे.

 

उन्होंने राहुल गांधी पर भी निशाना साधा और कहा कि वह मोदी की तरह कांग्रेस के शहंशाह हैं.

 

दिल्ली के पूर्व मुख्यमंत्री ने रोड शो में अपने अंदाज में लोगों से राय लेने के बाद घोषणा की, ‘‘मैं आपसे पूछना चाहता हूं कि क्या मुझे नरेंद्र मोदी के खिलाफ वाराणसी से चुनाव लड़ना चाहिए. मैं इस चुनौती को स्वीकार करने के लिए तैयार हूं.’’ केजरीवाल ने कहा, ‘‘मैं वाराणसी से इसलिए चुनाव लड़ना चाहता हूं क्योंकि जब नेता चुनाव के लिए सुरक्षित सीट तलाशते हैं तो मैं उन्हें हराने के लिए मुकाबला करना चाहता हूं.’’

 

केजरीवाल ने संप्रग पर निशाना साधते हुए कहा कि दस साल के कार्यकाल में उसने देश को इतना लूट लिया जितना 200 सालों में अंग्रेजों ने भी नहीं लूटा था. आप नेता ने कहा कि भाजपा 272 सीटें हासिल करने के अपने मिशन में इतनी बेचैन है कि उसने बीएस येदियुरप्पा, श्रीरामुलू और रामविलास पासवान जैसे नेताओं के साथ हाथ मिला लिया.

 

उन्होंने कहा कि मोदी को मौका देने का मतलब निश्चित रूप से इन नेताओं को मौका देना होगा.

 

केजरीवाल ने महाराष्ट्र में शिवसेना से गठबंधन और मनसे से नजदीकी पर भी भाजपा से सवाल किया और पूछा कि क्या मोदी वहां उत्तर प्रदेश और बिहार के लोगों को संरक्षण प्रदान करेंगे.

 

उन्होंने रिलायंस इंडस्ट्रीज जैसी कंपनियों के ईंधन के दाम दोगुने करने की अधिसूचना चुनाव होने तक टालने के लिए चुनाव आयोग के सरकार को दिये निर्देश का स्वागत किया.

 

केजरीवाल ने जनता से कहा कि अगर सही लोगों को वोट नहीं देंगे तो महंगाई के लिए खुद जिम्मेदार होंगे.

India News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: वाराणसी में मोदी के खिलाफ चुनाव लड़ने का ऐलान किया केजरीवाल ने
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
और जाने: ele2014
First Published:

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017