वे कायर हैं, रात को मेरे परिवार के बार में लिखी गंदी किताबें फेंकते हैं: प्रियंका गांधी

By: | Last Updated: Saturday, 3 May 2014 2:58 AM

अमेठी: कांग्रेस की स्टार प्रचारक प्रियंका गांधी ने आज कहा कि अमेठी में ऐसी पुस्तिकाएं फेंकी जा रही हैं जिनमें उनके परिवार के प्रति ‘गलत और आपत्तिजनक’ बातें की गई हैं.

 

अमेठी में अपने भाई राहुल गांधी के लिए प्रचार कर रहीं प्रियंका ने बीजेपी के प्रधानमंत्री पद के उम्मीदवार नरेंद्र मोदी पर सीधा हमला करते हुए कहा कि देश में एक ऐसा नेता है जो अपने लिए सत्ता चाहता है और खुद को मजबूत करने की बार बार मांग करता है.

 

प्रियंका ने गौरीगंज विधानसभा क्षेत्र के शाहगढ़ स्थित शहीद चौक पर आयोजित जनसभा में आरोप लगाया ‘‘मुझे मालूम हुआ है कि जहां मेरी जनसभाओं का आयोजन होना होता, वहां उससे ऐन पहले की आधी रात को मेरे परिवार के बारे में फिजूल बातें लिखी पुस्तिकाएं फेंकी जाती हैं.’’

उन्होंने कहा ‘‘उस किताब में बहुत ही गंदी और झूठी बातें लिखी हैं. ये हरकत करने वाले लोग बहुत ही कायर हैं. वे अगर कुछ कहना चाहते हैं तो मुंह पर कहें, मेरे सामने आकर बात करें. यह विचारधारा की लड़ाई है. आधी-आधी रात को ऐसी हरकतें करना उचित नहीं है.’’

 

गौरतलब है कि ‘राहुल की रावणलीला’ शीषर्क वाली उस किताब में कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी, राहुल और उनके परिवार की निजी जिंदगी के बारे में तमाम दावों को अश्लीलतापूर्ण तरीके से पेश किया गया है. इस किताब में प्रकाशक के स्थान पर ‘संस्कृति रक्षक दल’,शास्त्री नगर, नई दिल्ली लिखा है .

 

प्रियंका ने कहा ‘‘देश में चुनाव प्रचार का स्तर बहुत गिर चुका है . राजनीति को सेवा भावना की नजर से देखा जाता है ,लेकिन देश के कुछ नेता इस बारे में नहीं सोचते. राहुल जी की राजनीति मांगने की नहीं बल्कि सेवाभावना की है. वह आपको ताकत देना चाहते हैं. सत्ता भी आपको ही देना चाहते हैं.’’

 

प्रियंका ने कहा कि चुनाव सिद्धांतों पर लड़े जाते हैं. उन्होंने कहा कि राजनीति को सेवा के भाव से देखा जाता है, लेकिन देश के कुछ नेता इस बारे में नहीं सोचते हैं. उन्होंने कहा कि कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी की राजनीति की राजनीति मांग की नहीं, बल्कि सेवा की भावना की है.

 

मोदी पर निशाना साधते हुए प्रियंका ने कहा, ‘‘वह आपको ताकत देना चाहते है. वह आपको सत्ता देना चाहते हैं. परंतु देश में एक ऐसा नेता हैं जो अपने लिए सत्ता चाहते हैं. वह खुद को ताकतवर बनाने के लिए मांग करते रहते हैं.’’

अपने पिता राजीव गांधी द्वारा अमेठी में किये गये विकास कार्यो का जिक्र करते हुए कहा ‘‘मेरे पिता की दूरदर्शी सोच थी. राहुल गांधी ने भी उन्हीं से सीखा है. अमेठी में विकास का पैमाना और रणनीति 35 साल पहले राजीव गांधी जी ने तैयार की थी, यही कारण है कि आज यहां पर उसर नजर नहीं आता.’’

उन्होंने कहा ‘‘मैं वोट नहीं मांगूंगी. मैं आपका स्नेह चाहती हूं. जो देश के लिये और आपके लिये सोचता हो, जो आपको ताकत दे रहा हो, उसे वोट दीजिये.’’

India News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: वे कायर हैं, रात को मेरे परिवार के बार में लिखी गंदी किताबें फेंकते हैं: प्रियंका गांधी
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
और जाने: ????? ?????? ???????? ???????? ????? ele2014
First Published:

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017