वैवाहिक जीवन में तनाव से होता है अवसाद

वैवाहिक जीवन में तनाव से होता है अवसाद

By: | Updated: 26 Apr 2014 04:12 PM
न्यूयार्क: यदि आप अविवाहित युवा हैं तो आपके पास विवाह करने का साहस न कर पाने के कई कारण हो सकते हैं. इनमें से एक अवसाद भी है. एक हालिया अध्ययन में पता चला है कि वैवाहिक जीवन का तनाव लागों को आसानी से अवसाद की तरफ धकेल सकता है.

 

यूनिवर्सिटी ऑफ विस्कसिन (यूडब्ल्यू) मेडिसन के शोधकर्ताओं का कहना है कि जिन लोगों का वैवाहिक जीवन तनाव भरा होता है, वह जिंदगी में सकारात्मक बातों का अनुभव नहीं कर पाते हैं, जो कि अवसाद में फंसने का संकेत है. ऐसे लोगों में अवसाद के दूसरे लक्षण भी देखे जाते हैं.

 

यूडब्ल्यू के वैसमैन सेंटर में स्वस्थ दिमाग की जांच के संस्थापक रिचर्ड डेविडसन ने कहा, "अवसाद को वैवाहिक जीवन के तनाव का एकमात्र नतीजा नहीं माना जा सकता, लेकिन यह महत्वपूर्ण है, क्योंकि विवाह के बाद जीवन में होने वाले बदलावों का इससे संबंध हो सकता है."

 

शोधकर्ताओं ने अध्ययन के दौरान विवाहित लोगों से जीवन में तनाव के स्तर से संबंधित प्रश्नावलियां भरवाईं. उनसे पूछा गया कि कितनी बार साथी द्वारा उनको नीचा दिखाया जाता है या कितनी बार उनके साथी उनकी आलोचना करते हैं.

 

इसके अलावा सभी प्रतिभागियों को कुछ तस्वीरें दिखाई गईं, जिसमें नकारात्मक, सकारात्मक और मिली-जुली तस्वीरें शामिल थीं.

 

शोधकर्ताओं ने पाया कि जिन लोगों का वैवाहिक जीवन अपेक्षाकृत अधिकत तनावग्रस्त है, उन्होंने सकारात्क तस्वीरों की तरफ उत्साहजनक प्रतिक्रिया नहीं दी.

 

यह अध्ययन जर्नल ऑफ साइकोफिजियोलॉजी में प्रकाशित हुई है.

फटाफट ख़बरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर और डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App
Web Title:
Read all latest India News headlines in Hindi. Also don’t miss today’s Hindi News.

First Published:
Next Story मुंबई: डॉक्टरों की निगरानी में हैं गोवा के सीएम पर्रिकर, हालत सामान्य