शपथ लेने के बाद दिल्‍ली जाएंगे नरेंद्र मोदी

शपथ लेने के बाद दिल्‍ली जाएंगे नरेंद्र मोदी

By: | Updated: 20 Dec 2012 09:49 PM


अहमदाबाद:
गुजरात में हैट्रिक लगाने
वाले नरेंद्र मोदी 26 दिसंबर
को मुख्यमंत्री पद की शपथ
लेंगे. उनके थपथ ग्रहण में
बीजेपी के तमाम दिग्गज मौजूद
होंगे.

शपथ ग्रहण के दूसरे
दिन 27 दिसंबर को मोदी दिल्ली
आने वाले हैं.. 27 को दिल्ली आने
की बात मोदी ने खुद कही है,
लेकिन पीएम पद की दावेदारी पर
वो पहले की तरह खामोश रहे.

मोदी
ने कहा है, 'भाइयों-बहनों, अगर
आपकी इच्‍छा है तो मैं जरूर 27
तारीख को एक दिन के लिए
दिल्‍ली हो आऊंगा.'

जीत के
बाद गुरुवार को जब मोदी अपने
प्रशंसकों को संबोधित कर रहे
थे तब चारों ओर से पीए-पीएम की
आवाजें आ रही थीं, 'लेकिन मोदी
ने उन्‍हें अनसुना करते हुए
कहा, हम गुजरात को ऐसा प्रदेश
बनाएंगे कि अगर देश के किसी
कोने में कोई कमी हो तो
गुजरात उसे पूरा कर सके.'

मोदी
ने गुरुवार को एक और खास बयान
दिया है, जिसमें उन्‍होंने
कहा है, 'एक इंसान के नाते
मुझसे कहीं कोई कमी रह गई हो
और कहीं कोई गलती रह गई हो तो
मेरे छह करोड़ गुजराती
भाइयों और बहनों उसके लिए मैं
आप सबसे क्षमा मांगता हूं.'

मोदी
की इस माफी के बाद अटकलों का
बाजार गर्म है. विश्ललेषक इस
माफी के मायने तलाश रहे हैं.
सवाल उठ रहे हैं कि क्या
दिल्ली की राजनीति में दखल
देने से पहले मोदी अपनी
पुरानी छवि बदलना चाह रहे
हैं?

क्या मोदी माफी
मांगकर उन तबकों की तरफ
दोस्ताना हाथ बढ़ाना चाह रहे
हैं जो उऩके विरोधी माने जाते
हैं? क्या मोदी अपनी इस माफी
के जरिए केंद्र की राजनीति
में अपना दायरा बढ़ाने की
कोशिश कर रहे हैं?

सवाल
कुछ और भी हैं लेकिन फिलहाल
सटीक जवाब किसी के पास नहीं.
जिसके पास जवाब है वो हर सवाल
को अनसुना कर लोगों के दिल
जीतने में जुटा हुआ है.

जी
हां, जीत के बाद मोदी ने अपने
विरोधी केशुभाई पटेल से भी
आर्शीवाद लिया. गुजरात
परिवर्तन पार्टी के अध्यक्ष
केशुभाई पटेल कभी मोदी के
राजनीतिक गुरु हुआ करते थे.

देखा
जाए तो गुजरात से जो कुछ मोदी
को चाहिए था वो करीब-करीब मिल
चुका है, लेकिन उनके लिए अभी
दिल्ली दूर नजर आ रही है.




फटाफट ख़बरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर और डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App
Web Title:
Read all latest India News headlines in Hindi. Also don’t miss today’s Hindi News.

First Published:
Next Story अंग्रेजी मीडियम से पढ़ा, इंजिनियर है तौकीर कुरैशी, कई बम धमाकों में शामिल था ये मोस्ट वॉन्टेड आतंकी