शरीफ का मनमोहन को भरोसा, मुंबई हमले के दोषियों के खिलाफ होगी कार्रवाई

By: | Last Updated: Sunday, 29 September 2013 8:24 AM

09.02 PM: जब एबीपी न्यूज़ के
संवाददाता आशीष कुमार सिंह
ने शिवशंकर मेनन ने सवाल किया
कि मुंबई हमले के दोषियों के
खिलाफ कार्रवाई को लेकर
पाकिस्तान ने क्या कहा थो…
शिवशंकर मेनन ने कहा कि
पाकिस्तान ने कार्रवाई का
भरोसा दिलाया.

08.59 PM:  अभी तय नहीं हो पाया है
कि कब दोनों देशों के
प्रधानमंत्री एक दूसरे देश
में जाएंगे. हालांकि, दोनों
ने एक दूसरे की दावत कबूल की
है.

08.55 PM:  जब एक पाकिस्तानी
पत्रकार ने शिवशंकर मेनन से
सवाल किया कि क्या भारत अपनी
तरफ से लचक दिखाएगा ताकि
बातचीत तेज़ी से बढ़े तो….
शिवशंकर मेनन ने कहा.. लचक यह
आपकी समझ है…

08.55 PM: दोनों देश अच्छे रिश्तों
की उम्मीद करते हैं.

08.53 PM: नवाज़ ने मुंबई हमले के
दोषियों के खिलाफ कार्रवाई
का भरोसा दिया.

08.50 PM: शिवशंकर मेनन: सियाचीन के
मुद्दे पर बात हुई…

08.49 PM: नवाज़ ने बलूचिस्तान और
सरक्रिक का मुद्दा उठाया.

08.48 PM: मनमोहन ने आतंकवाद, मुंबई
हमलों का मुद्दा उठाया. मांग
की मुबई हमले के दोषियों को
सजा मिले.

08.47 PM: मुलाकात के बाद
राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार
शिवशंकर मेनन प्रेस
कॉन्फ्रेंस कर रहे हैं.

08.46 PM: मनमोहन-नवाज़ मुलाकात
खत्म, बातचीत के ब्योरे का
इंतज़ार.

08.40 PM: नवाज़ शरीफ ने कश्मीर के
मुद्दे पर जनमत संग्रह की
मांग की.

08.34 PM: अब पेश है एबीपी न्यूज़
और जियो न्यूज़ का साझा
कार्यक्रम.

08.31 PM: मनमोहन सिंह ने नवाज़
शरीफ को भारत आने का न्योता
दिया है.

08.16 PM: पीटीआई के हवाले से खबर आ
रही है कि पीएम ने अपनी
मुलाकात में नवाज़ से साफ कहा
है कि वह आतंकवाद रोकने के
खिलाफ कदम उठाए.

08.06 PM: अबसार आलम ने एबीपी
न्यूज़ से कहा कि दोनों देशों
की अपनी-अपनी शिकायतें हैं.

08.06 PM: न्यूयॉर्क में
पाकिस्तान के टीवी न्यूज़
चैनल आज के डायरेक्टर अबसार
आलम का कहना है कि नवाज़ शरीफ
ने मनमोहन सिंह के लिए
‘देहाती औरत’ शब्द इस्तेमाल
नहीं किया है.  हालांकि, अबसार
आलम ने यह जरूर कहा कि नवाज़
शरीफ ने एक कहानी बयान की थी,
जिसमें उन्होंने भारत से
नाराज़गी जाहिर की थी. अबसाल
आलम उस मीटिंग में मौजूद थे
जिसमें नवाज़ के बारे में कहा
जा रहा है कि उन्होंने भारत
के पीएम के बारे में अपशब्द
कहे थे.

07.41 PM: एबीपी न्यूज़ संवाददाता
आशीष कुमार का कहना है कि अब
साफ है कि मुलाकात के बाद
साझा प्रेस कॉन्फ्रेंस नहीं
होगी.

07.41 PM: रक्षा विशेष भरत वर्मा का
कहना है कि नवाज़ से बातचीत
का कोई मतलब नहीं है.

07.38 PM: इस मुलाकात पर रक्षा
विशेष विवेक काटजू का कहना है
कि नवाज़ शरीफ के विचार
अलग-अलग हैं.. वे भारत से
व्यापार चाहते हैं.. लेकिन
दूसरी तरफ उनकी राजनीति
दक्षिणपंथी होहती है.  यह
समझना गलत है कि कश्मीर पर
उनका रुख वहां की सेना और
आईएसआई से अलग है.

07.34 PM: कांग्रेस नेता मीम अफजल
का कहना है कि हमने पॉजिटिव
उम्मीद के साथ बातचीत की है.
हमें अच्छी उम्मीद है.

07.33 PM: दोनों प्रधानमंत्रियों
के बीच साझा प्रेस कॉन्फेंस
नहीं होगी.

07.31 PM: मनमोहन और नवाज़ शरीफ ने
हाथ मिलया.

न्यूयॉर्क:  अमेरिका में
भारत और पाकिस्तान के
प्रधानमंत्री के बीच
मुलाकात शुरू हो गई है. नवाज
शरीफ प्रधानमंत्री मनमोहन
सिंह से मिलने उस होटल में
पहुंचें हैं जहां मनमोहन
सिंह ठहरे हुए हैं.

मुलाकात से पहले कल संयुक्त
राष्ट्र महासभा में मनमोहन
सिंह ने साफ साफ कहा कि
पाकिस्तान अपनी जमीन से
आतंकवाद को बढ़ावा देना बंद
करे.

इससे पहले,  प्रधानमंत्री
मनमोहन सिंह ने शुक्रवार को
अमेरिकी राष्ट्रपति बराक
ओबामा के साथ मुलाकात के
दौरान “आतंकवादियों के
सुरक्षित पनाहगाहों और
ढांचों और उनके तंत्र” को
ध्वस्त करने के लिए ओबामा का
समर्थन हासिल किया था.

मनमोहन सिंह ने शनिवार को
संयुक्त राष्ट्र महासभा में
स्पष्ट कर दिया कि पाकिस्तान
ही आतंकवाद की धुरी है और
पाकिस्तान की आतंकवाद
मशीनरी को बंद किए बिना शांति
वार्ता की दिशा में बहुत कम
प्रगति हो सकती है.

महासभा में शरीफ के नई शुरुआत
करने के बयान का उल्लेख करते
हुए मनमोहन ने कहा कि वह उनकी
भावनाओं से सहमति रखते हैं और
रविवार को वार्ता के लिए
उत्सुक हैं.

मनमोहन ने कहा, “प्रगति के लिए
आवश्यक है कि पाकिस्तान अपने
क्षेत्र और जो क्षेत्र उसके
नियंत्रण में हैं, उनका भारत
के खिलाफ आतंकवाद के लिए
उपयोग नहीं होने दे. यह भी
समान रूप से महत्वपूर्ण है कि
पाकिस्तान के समर्थन से
संचालित आतंकवाद के तंत्र को
भी बंद किया जाए.”

बहरहाल, रविवार को होने जा
रही मुलाकात के पहले
पाकिस्तान के प्रधानमंत्री
नवाज शरीफ ने एक भारतीय टीवी
चैनल से कहा कि गुरुवार को
जम्मू में हुए
दुर्भाग्यशाली हमले के कारण
दोनों पड़ोसियों के बीच
संवाद की प्रक्रिया बंद नहीं
होनी चाहिए.

शरीफ ने कहा कि नियंत्रण रेखा
पर तनाव पाकिस्तान के लिए भी
उतना ही चिंताजनक है. इसके
लिए वह एक संयुक्त निगरानी
तंत्र का प्रस्ताव रखेंगे.

शरीफ ने कहा कि दोनों देशों
को 1999 में जहां से शांति
वार्ता भंग हुई थी, वहीं से
फिर नई शुरुआत करने की जरूरत
है.

India News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: शरीफ का मनमोहन को भरोसा, मुंबई हमले के दोषियों के खिलाफ होगी कार्रवाई
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
First Published:

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017