शाजिया इल्मी ने आम आदमी पार्टी से इस्तीफा दिया

By: | Last Updated: Friday, 23 May 2014 8:40 PM
शाजिया इल्मी ने आम आदमी पार्टी से इस्तीफा दिया

नई दिल्ली: लोकसभा चुनाव में करारी हार के बाद आम आदमी पार्टी को एक और बड़ा झटका लगा है. एक तरफ आम आदमी पार्टी के संयोजक अरविंद केजरीवाल तिहाड़ जेल में बंद है और दूसरी तरफ पार्टी की नेता शाजिया इल्मी ने पार्टी के सभी पदों से इस्तीफा दे दिया है. शाजिया इल्मी ने अपने घर पर प्रेस कॉंफ्रेंस करके अपने इस्तीफे का ऐलान किया. साथ ही शाजिया ने कहा कि वह किसी पार्टी को नहीं ज्वाइन करने जा रही हैं.

इस्तीफा देते हुए शाजिया ने कहा, “आम आदमी पार्टी के भीतर आंतरिक लोकतंत्र का अभाव है. पार्टी जिस स्वराज की बात करती है, वह स्वराज पार्टी के अंदर ही लागू नहीं हो पाया है.” शाजिया ने उन खबरों का खंडन किया जिसमें कहा जा रहा था कि उनकी पसंदीदा सीट पर चुनाव लड़ने के लिए टिकट नहीं मिला इसलिए उन्होंने पार्टी छोड़ दी.
 

शाजिया ने इस्तीफे का कारण बताते हुए कहा, “चुनिंदा लोग ही पार्टी के अहम फैसले ले रहे हैं. पार्टी में लोकतंत्र नहीं है. पार्टी को कुछ लोग जकड़े हुए हैं.  पार्टी में अरविंद केजरीवाल लोकतंत्र लागू नहीं कर पा रहे हैं.”

नितिन गडकरी मामले में अरविंद केजरीवाल के जेल जाने के फैसले से शाजिया सहमत नहीं है. शाजिया का कहना है कि अरविंद को जेल जाने की बजाय बांड भर देना चाहिए था. अरविंद केजरीवाल को राय देते हुए शाजिया ने कहा, “ये वक्त आत्म मंथन का है. जेल में आत्म मंथन करने से बेहतर है कि अरविंद लोगों के बीच जाकर आत्म मंथन करें. अरविंद बेल के पैसे भरें और राज्यों में जाकर लोगों से बातचीत करें. मैं अरविंद के इस फैसले से सहमत नहीं हूं.”
 

इस्तीफा देने के बाद शाजिया इल्मी ने कहा  कि वह लोकसभा चुनावों से पहले ही इस्तीफा देने की सोच रही थीं लेकिन वह समय उन्हें सही नहीं लगा. फिर उन्होंने चुनावों के परिणाम का इंतजार किया उसके बाद इस्तीफा दिया.

 

शाजिया के इस्तीफा देने के बाद आम आदमी के प्रवक्ता योगेंद्र यादव ने कहा, “शाजिया इल्मी आम आमदी पार्टी के संस्थापक सदस्यों में से एक हैं. वह हमारी महत्वपुर्ण सहयोगी रही हैं. शाजिया पिछले कुछ वक्त से नाराज चल रही हैं. उन्होंने हमें लेटर भी लिखा था. हमने उनसे बार बार कहा कि हम बैठकर इन बातों पर विचार करेंगे. हमने उनसे कहा कि आज पीएएसी की बैठक हो रही है उसमें आकर अपनी बात रखें. अभी इस वक्त अरविंद जेल में हैं और चुनाव के तुरंत बाद ही इस्तीफा देना सही नहीं है. हमें अफसोस है कि उन्होंने ये फैसला लिया, हमें उम्मीद है कि वह दुबारा अपने घर वापस लौटकर जरूर आएंगी.”

आम आदमी पार्टी के नेता डॉ. कुमार विश्वास ने शाजिया इल्मी के इस्तीफे के बाद ट्विट किया है, उन्होंने लिखा है- धीरज धरम मित्र अरु नारी ! आपद् काल परखिए चारी !
 

आपको बता दें कि इससे पहले भी आम आदमी पार्टी से अलग हो चुके विनोद कुमार बिन्नी ने कहा था कि पार्टी के फैसले कुछ ही लोग लेते हैं.

शाजिया इल्मी के इस्तीफा देने से पहले उनके घर आम आदमी पार्टी के नेता और दिल्ली के पूर्व कानून मंत्री सोमनाथ भारती पहुंचे. सोमनाथ ने मुलाकात के बाद दावा किया था कि सब कुछ ठीक है.

 

दिल्ली विधानसभा के चुनाव में शाजिया इल्मी दक्षिणी दिल्ली के आर के पुरम से मैदान में उतरी थीं और महज 326 वोट से चुनाव हार गईं.

 

शाजिया के इस्तीफे पर नेताओं की प्रतिक्रिया-

  • बीजेपी नेता डॉ. हर्षवर्धन- आम आमदी पार्टी के सदस्य जिन्हें 10 प्रतिशत भी आप का असली चेहरा दिख गया है, वे पार्टी छोड़ देंगे.
     

  • आम आदमी पार्टी के पूर्व सदस्य अश्विनी उपाध्याय- जल्द ही आम आदमी पार्टी में केजरीवाल, सिसौदियास यादव, संजय सिंह और उनके चमचों के अलावा कोई भी नहीं बचेगा.
     

  • आम आदमी पार्टी नेता, आशुतोष गुप्ता- मुझे नहीं पता कि शाजिया खुश नहीं हैं, उन्होंने पार्टी से अभी तक कोई संपर्क नहीं किया है इसलिए मैं कोई कमेंट नहीं कर  सकता.