शिंदे की उपस्थिति में नीतीश और लालू के बीच हुई जुबानी जंग

By: | Last Updated: Saturday, 18 January 2014 1:25 PM

पटना. बिहार की राजनीति के दो धुर विरोधी एक साथ एक मंच पर आए. अखबार दैनिक भास्कर के लोकार्पण कार्यक्रम में राजनीतिक धुर विरोधी बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार और पूर्व मुख्यमंत्री लालू यादव एक साथ मंच पर आए.

 

केंद्रीय गृह मंत्री सुशील कुमार शिंदे की उपस्थिति में आज बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार और राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद के बीच लंबे समय के बाद आज जुबानी जंग हुई.

 

एक अखबार के उद्घाटन के कार्यक्रम में नीतीश और लालू के बीच में शिंदे बैठे हुए थे और इस अवसर पर नीतीश ने कहा कि मीडिया का विकास और विस्तार होने के साथ इन दिनों सोशल मीडिया का प्रभाव इतना बढा है कि अब पुराने लोग भी ट्विट करने लगे हैं.

 

नीतीश ने कहा कि ट्विट का मतलब चिडिया की चहचाहट है और शब्दकोष में इसका अर्थ ‘चीचीं’ लिखा है.

 

उन्होंने कहा कि नए लोग (युवा) चेचियाते हैं तो अच्छा लगता है पर आजकल पुराने लोग (लालू) भी देखा-देखी ऐसा करने लगे हैं.

 

उन्होंने लालू पर निशाना साधते हुए कहा कि अखबार में केवल वह ही छपे उनकी इस लालच तो समझते हैं और अगर कोई दूसरे के बारे में कुछ भी छपने पर उनका हाजमा बिगड जाता है.

 

नीतीश ने लालू के बारे में कहा कि जब ताकत (सत्ता में रहने पर) हो तो वे तय करें कि अखबार में कौन सी तस्वीर और खबर कहां छपेगी या नहीं.

 

उन्होंने कहा कि हम ऐसा बिहार बनायेंगे जिसमें बिहारी कहलाना मान और सम्मान का विषय होगा. बिहार अपनी गौरवमयी अतीत को प्राप्त करने में लगा हुआ है.

 

नीतीश ने अखबार में बिहार की विरासत और यहां छुपे पुरातत्व स्थलों के बारे में लिखे जाने का सुझाव देते हुए उसे भी स्थान देकर उन्हें उभारे जाने की आवश्यकता जतायी.

 

उन्होंने बिहार में हो रहे सामाजिक परिवर्तन महिलाओं की जागृति और हाशिये पर के लोगों के आगे आने को अखबारों में स्थान दिए जाने का सुझाव देते हुए कहा कि उनकी तस्वीर नहीं छापने के साथ सरकार की जितनी भी आलोचना हो सकती है, की जाए.

 

नीतीश के यह कहने पर कि उन्हें जहां पहुंचना था पहुंच चुके हैं और जो करना था कर चुके हैं लालू द्वारा टोके जाने पर उन्होंने कहा कि यह लालू जी कह रहे हैं कि अगर हमको दिखाना है और उनके बारे में लिखना बंद कर देंगे तो अखबार को बंद कर दें लेकिन वे ऐसा दावा नहीं करते हैं. उन्होंने चुटकी लेते हुए कहा कि शायद लालू जी यह समझ रहे हैं कि हम है तो वह भी हैं. इससे पूर्व लालू ने प्रेस काउंसिल के अध्यक्ष मार्केडय काटजु द्वारा बिहार में पत्रकारों की स्वतंत्रता को लेकर नीतीश सरकार पर की गयी टिप्पणी का जिक्र करते हुए कहा कि यहां क्षमतावान पत्रकारों के होने के बावजूद विगत दिनों में उनकी पत्रकारिता में गिरावट आयी है और उनकी स्थिति भाग्य बताने वाले ज्योतिषि के तोते जैसे हो गयी है.

 

लालू ने कहा कि उनके और उनकी पत्नी राबडी देवी के कार्यकाल के दौरान उनकी जितनी आलोचनाएं हुई हैं पर उस दौरान किसी भी अखबार या पत्रकार पर खतरा भी आया है तो वे सबसे आगे खडे रहे हैं.

 

उन्होंने नीतीश पर निशाना साधते हुए कहा कि कुछ लोग इतिहास बनाने में लगे हुए हैं और इसके लिए आतुर और बेचैन रहते हैं कि अखबारों में कैसे उनका नाम छपता रहे.

 

लालू ने कहा कि अगर कोई अखबार अपने खर्च की भरपायी और अन्य आवश्यक्ता की पूर्ति के लिए केवल व्यवसाय के दृष्टिकोण से सरकारी विज्ञापन पाने के लिए उसके पक्ष में खबरे छापता है तो वह जनमानस के लिए हितकारी नहीं है तथा वह अखबार टिकता नहीं.

 

उन्होंने सरकार और राजनेताओं के सकारात्मक आलोचना की वकालत करते हुए कहा कि चाहे वे हों जिनके पास अभी कोई काम नहीं :सत्ता में नहीं होने से: या फिर नीतीश जी हों सरकार की कुछ प्रशंसा हो पर उसके खिलाफ सही बात को छापा जाना चाहिए.

 

लालू ने कहा कि बिहार आगे बढे इसमें कोई मतभेद नहीं है पर यहां बिहार में काम क्या होता है कि लालू को कैसे रोकना है ऐसे में बिहार कैसे बढेगा.

 

India News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: शिंदे की उपस्थिति में नीतीश और लालू के बीच हुई जुबानी जंग
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
First Published:

Related Stories

गोरखपुर ट्रेजडी: इलाहाबाद HC ने योगी सरकार से पूछा सवाल, बच्चों की मौत कैसे हुई ?
गोरखपुर ट्रेजडी: इलाहाबाद HC ने योगी सरकार से पूछा सवाल, बच्चों की मौत कैसे...

इलाहाबाद: गोरखपुर के बीआरडी मेडिकल कॉलेज में बच्चों की मौत के मामले की न्यायिक जांच की मांग को...

योगी के बयान पर बोले अखिलेश- थानों में पहले भी मनती थी जन्माष्टमी, हमने रोक नहीं लगाई
योगी के बयान पर बोले अखिलेश- थानों में पहले भी मनती थी जन्माष्टमी, हमने रोक...

लखनऊ: उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री और समाजवादी पार्टी के नेता अखिलेश यादव ने मुख्यमंत्री...

ABP न्यूज़ का खुलासा: सृजन NGO में बाहर से सामान मंगाकर सिर्फ पैकिंग होती थी
ABP न्यूज़ का खुलासा: सृजन NGO में बाहर से सामान मंगाकर सिर्फ पैकिंग होती थी

भागलपुर:  बिहार में जिस सृजन घोटाले को लेकर राजनीति गरम है उसको लेकर बड़ा खुलासा किया है. एबीपी...

CCTV में कैद दिल्ली का 'दुशासन': 5 स्टार के सिक्योरिटी मैनेजर ने की महिला से छेड़खानी
CCTV में कैद दिल्ली का 'दुशासन': 5 स्टार के सिक्योरिटी मैनेजर ने की महिला से...

नई दिलली: राजधानी दिल्ली के एक फाइव स्टार होटल में महिला से छेड़खानी का एक सनसनीखेज मामला सामने...

आज हर कीमत पर चुनाव जीतना चाहती हैं राजनीतिक पार्टियां: चुनाव आयुक्त
आज हर कीमत पर चुनाव जीतना चाहती हैं राजनीतिक पार्टियां: चुनाव आयुक्त

गुरुवार को एडीआर के एक कार्यक्रम में चुनाव आयुक्त ने कहा, जब चुनाव निष्पक्ष और साफ सुथरे तरीके...

भारत को मिला जापान का साथ, डोकलाम में सेना की तैनाती को सही ठहराया
भारत को मिला जापान का साथ, डोकलाम में सेना की तैनाती को सही ठहराया

नई दिल्ली: डोकलाम को लेकर चीन से तनातनी के बीच भारत को जापान का समर्थन मिला है. जापान ने डोकलाम...

2015 से पहले के तेजाब हमला पीड़ितों को मिल सकता है मुआवजा
2015 से पहले के तेजाब हमला पीड़ितों को मिल सकता है मुआवजा

नई दिल्ली: दिल्ली की आप सरकार तेजाब हमलों के उन मामलों पर विचार करेगी, जो सरकार की 2015 में...

बलात्कार पीड़ित 10 साल की लड़की ने  बच्चे को जन्म दिया
बलात्कार पीड़ित 10 साल की लड़की ने बच्चे को जन्म दिया

चंडीगढ़: बलात्कार पीड़ित एक 10 साल की लड़की ने कल अस्पताल में एक बच्चे को जन्म दिया. लड़की के...

‘साझी विरासत’ को बचाने के लिए एकजुट होकर लड़ेंगी विपक्षी पार्टियां
‘साझी विरासत’ को बचाने के लिए एकजुट होकर लड़ेंगी विपक्षी पार्टियां

नई दिल्ली:  लगभग एक दर्जन से ज्यादा विपक्षी पार्टियों ने कल एक मंच पर आकर आरएसएस पर तीखा हमला...

गुजरात में स्वाइन फ्लू से अबतक 230 की मौत, राज्य ने केंद्र से मांगी मदद
गुजरात में स्वाइन फ्लू से अबतक 230 की मौत, राज्य ने केंद्र से मांगी मदद

अहमदाबाद: गुजरात के मुख्यमंत्री विजय रूपाणी ने राज्य में स्वाइन फ्लू की स्थिति के बारे में...

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017