शिंदे ने संसद में भंडारा रेप पीड़ितों का नाम लिया

By: | Last Updated: Friday, 1 March 2013 5:22 AM

नई
दिल्ली:
केंद्रीय गृह
मंत्री सुशील कुमार शिंदे ने
शुक्रवार को राज्यसभा में
महाराष्ट्र के भंडारा जिले
में रेप के बाद हत्या की
शिकार तीन नाबालिग लड़कियों
के नाम जाहिर कर दिए, जिस पर
विपक्ष ने कड़ी आपत्ति जताई.

बाद में हालांकि इसे सदन
की कार्यवाही से बाहर कर दिया
गया. महाराष्ट्र में महीने
तीन नाबालिग बहनों के अपहरण
के बाद उनके साथ बलात्कार और
फिर हत्या के मामले पर बयान
देते हुए शिंदे ने उनके
वास्तविक नाम जाहिर कर दिया,
जबकि कानूनन ऐसा करना निषेध
है. तीनों बहनों का शव कुएं से
बरामद किया गया था.

यह
मामला उठाते हुए राज्यसभा
में विपक्ष के नेता अरुण
जेटली ने कहा, “अपराध कानून
अध्यादेश 2013 के अनुसार रेप
पीड़िताओं की पहचान का
खुलासा कभी नहीं किया जाना
है, लेकिन गृह मंत्री ने सभी
तीन पीड़िताओं की पहचान
जाहिर कर दी.”

उन्होंने
कहा, “पूरा सदन इस पर चर्चा कर
रहा है. गृह मंत्री को इसे
समझना चाहिए और बयान वापस
लेकर इसे दुरुस्त कर फिर से
सदन के समक्ष रखना चाहिए.”

इसके
बाद राज्यसभा के उपसभापति पी.
जे. कुरियन ने पीड़िताओं के
नाम को सदन की कार्यवाही से
बाहर निकाल दिया.

उन्होंने
कहा, “यह बहुत महत्वपूर्ण
मुद्दा है और पीड़िताओं के
नाम को सदन की कार्यवाही से
बाहर समझा जाना चाहिए और
मीडिया को अपनी किसी भी
रिपोर्ट में इस नाम का जिक्र
नहीं करना चाहिए, अन्यथा
कार्रवाई की जाएगी.”

India News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: शिंदे ने संसद में भंडारा रेप पीड़ितों का नाम लिया
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
First Published:

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017