सड़क पर आया 'आप' के टिकट का झगड़ा, पार्टी दफ्तर के बाहर पांच दिन से अनशन पर हैं कार्यकर्ता

By: | Last Updated: Wednesday, 26 February 2014 5:46 AM
सड़क पर आया ‘आप’ के टिकट का झगड़ा, पार्टी दफ्तर के बाहर पांच दिन से अनशन पर हैं कार्यकर्ता

नई दिल्ली: आम आदमी पार्टी में टिकट बंटवारे का विवाद अब खुलकर सामने आने लगा है. दिल्ली में पार्टी दफ्तर के बाहर लोग टिकट बंटवारे के खिलाफ 5 दिनों से अनशन पर बैठे हैं. इन कार्यकर्ताओं का आरोप है कि पार्टी के बड़े नेता उनकी बात तक सुनने को तैयार नहीं है.

 

 

 

आम आदमी पार्टी के नेता गोपाल राय का कहना है कि हमने उन्हें समझाने की कोशिश की है, करीब एक घंटे तक हमारी चर्चा हुई. हमने उन्हें सारी प्रकिया उन्हें बताईं हैं. उम्मीदवारों का चयन प्रकिया के अनुसार ही हो रहा है. भ्रष्टाचारी, अपराधी को उम्मीदवार नहीं बनाएंगे. जो उम्मीदवार है वो गलत है तो ये लोग बताएं तो हम सुधार करेंगे.

 

क्यों अनशन पर बैठे-

हमारी कोई अपने लिए घऱ बंगले नौकरी की  डिमांड नहीं है. हम सच्चाई के लिए अनशन कर रहे हैं. केजरीवाल बार बार सच्चाई की बात कहते थे वो अब जनता के बीच लेकर आइए. इन्होंने कहा था कि सीटिंग एमएलए और मंत्री को टिकट नहीं देंगे तो आज  राखी बिड़ला को टिकट क्यों दे रहे हैं. क्या वो मंत्री नहीं हैं.

 

एक कार्यकर्ता का कहना है कि पार्टी के लिए जो चंदे आएं हैं वो हमने घर घर जाकर इकट्ठे करे हैं. हमने  लोगों की गालियां सुनी हैं और लोगों को विश्वास दिलाया है कि आम आदमी पार्टी और लोगों की तरह नहीं है. फैसले ये सुनाते हैं बाद में भुगतना हमें पड़ता है.

 

सिर्फ दिल्ली में ही नहीं आम आदमी पार्टी में आगामी लोकसभा चुनाव टिकट बंटवारे को लेकर विरोध के सुर दिल्ली, उत्तर प्रदेश के बाद महाराष्ट्र में भी उठ चुके हैं. नागपुर में अंजलि दमानिया को टिकट देने पर विरोध देखने को मिला था तो मुंबई में व्यापारियो के नेता और आप के सदस्य वीरेन शाह ने पार्टी कि कथनी और करनी में अंतर होने का आरोप लगा चुके हैं.

 

दिल्ली में चांदनी चौक लोकसभा सीट से आशुतोष की उम्मीदवारी को लेकर भी आप के सैकड़ों कार्यकर्ताओं ने कुछ दिनों पहले पार्टी दफ्तर पहुंचकर वहां प्रदर्शन किया था.