सपा का घोषणा पत्र जनता के लिए छलावा: भाजपा

सपा का घोषणा पत्र जनता के लिए छलावा: भाजपा

By: | Updated: 02 Apr 2014 03:19 PM
लखनऊ: भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) ने समाजवादी पार्टी (सपा) के घोषणा पत्र को जनता के साथ धोखा करार देते हुए कहा है कि काठ की हांडी बार-बार नहीं चढ़ती. भाजपा ने आरोप लगाया है कि सपा ने यही वादे जनता से विधानसभा चुनाव के दौरान भी किए थे लेकिन अभी तक वह पूरे नहीं हुए.

 

राजधानी में मीडियाकर्मियों से बातचीत करते हुए भाजपा के प्रदेश प्रवक्ता विजय बहदुर पाठक ने कहा कि वर्ष 2012 में हुए विधानसभा चुनाव के दौरान भी सपा ने लगभग यही वादे किए थे, जिनमें से अधिकांश वादे आज तक पूरे नही हुए हैं.

 

पाठक ने कहा, "सपा ने किसानों का कर्ज माफ करने की बात की थी लेकिन बाद में सरकार ने शर्ते लागू कर दीं कि भूमि विकास बैंक से कर्ज लेने वालों का ही कर्ज माफ किया जाएगा. इससे हजारों किसानों को निराशा हाथ लगी."

 

उन्होंने कहा, "सपा ने पिछले चुनावी घोषणा पत्र में किसान आयोग बनाने का वादा किया था, जो आज तक पूरा नहीं हुआ. अल्पसंख्यक बेटियों के लिए योजना चलाई गई लेकिन इसमें अन्य जातियों की महिलाओं को शामिल नही किया गया. सरकार की योजनाओं से केवल अल्पसंख्यक वर्ग की महिलाएं ही लाभान्वित हुई हैं."

 

पाठक ने कहा कि अखिलेश सरकार ने पिछले घोषणा पत्र में भी कहा था कि जेल में बंद बेकसूर मुस्लिम युवकों को सरकार रिहा कराएगी, लेकिन सरकार यह क्यों नही बताती कि जेल में बंद समाज के अन्य तबकों के बेकसूर लोगों के लिए वह क्या कदम उठाएगी?

 

उन्होंने अंतत: सपा के घोषणा पत्र को जनता के साथ धोखा बताया. पाठक ने कहा, "पिछली बार तो जनता ने विश्वास कर अखिलेश यादव को जिता दिया लेकिन इस बार जनता झूठे वादों के झांसे में नही आने वाली है."

फटाफट ख़बरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर और डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App
Web Title:
Read all latest India News headlines in Hindi. Also don’t miss today’s Hindi News.

First Published:
Next Story राजस्थान विधानसभा भवन में 'बुरी आत्माओं' का साया, हवन कराने की मांग