समंदर में शान से उतरा आईएनएस विक्रांत

By: | Last Updated: Monday, 12 August 2013 3:29 AM
समंदर में शान से उतरा आईएनएस विक्रांत

कोच्चि: विमानवाही जंगी
जहाज आईएनएस विक्रांत को आज
समारोह के साथ समंदर में उतार
दिया गया. दक्षिणी नौसैनिक
कमान में आयोजित एक समारोह
में विक्रांत को समंदर में
उतारने की रस्म रक्षामंत्री
ए.के.एंटनी की पत्नी एलिजाबेथ
एंटनी ने निभाई.

16 हजार टन फौलाद से बने समंदर
में तैरते इस 40 हजार टन के
अत्याधुनिक जंगी एयरपोर्ट
विक्रांत का निर्माण पूरी
तरह से भारत में हुआ है. इसे
नौसेना और कोचीन शिपयार्ड ने
मिलकर बनाया है.

आईएनएस विक्रांत एकसाथ 35
लड़ाकू विमान अपने साथ लेकर
चल सकता है और 50 किलोमीटर
प्रतिघंटे की रफ्तार से एक
बार में 7,500 नॉटिकल मील की दूरी
तय कर सकता है.

विक्रांत के समंदर में
प्रवेश के साथ ही अमेरिका,
ब्रिटेन, रूस और फ्रांस के
बाद भारत इस तरह का युद्धपोत
रखने वाला पांचवां देश बन गया
है.विक्रांत पर दो रन-वे हैं,
जिनसे हर तीसरे मिनट एक फाइटर
जेट उड़ान भर सकता है. इसका
सबसे घातक हथियार मिग-29 है.

विक्रांत के डेक पर करीब 30
लड़ाकू विमानों को बेड़ा हर
वक्त तैनात रहेगा. इनमें 12
मिग-29, 8 तेजस विमान और 10
एंटी-सबमरीन हेलीकॉप्टर
होंगे. हेलीकॉप्टर
अर्लीवॉर्निंग सिस्टम से
लैस रहेंगे, जिससे दुश्मन की
कोई भी पनडुब्बी विक्रांत के
पास फटक नहीं पाएगी.विक्रांत
पर सतह से हवा में मार करने
वाली लंबी दूरी की एलआर सैम
मिसाइलें भी तैनात की जाएंगी.

खास बात ये कि हमारी नौसेना
के लिए आईएनएस विक्रांत का
नाम कोई अजनबी नहीं है. भारत
ने 1957 में ब्रिटेन से एक रनवे
वाला विमानवाही पोत एचएमएस
हरक्यूलिस खरीदा था और इसका
नाम रखा था आईएनएस विक्रांत.
आईएनएस विक्रांत भारत का
पहला विमानवाही जंगी जहाज था
और 1971 में पाकिस्तान के साथ
हुई जंग में इसने दुश्मनों के
छक्के छुड़ा दिए थे.

4 मार्च 1961 को आईएनएस विक्रांत
सेवा मुक्त हो गया, तब से देश
का ये पहला विमानवाही जंगी
जहाज मुंबई तट पर म्यूजियम की
शक्ल में खड़ा है. इसी पुराने
जहाज को सम्मान देने के लिए
देश ने अपने पहले स्वदेशी
विमानवाही पोत का नाम भी
आईएनएस विक्रांत ही रखा है.

India News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: समंदर में शान से उतरा आईएनएस विक्रांत
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
First Published:

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017