सहजीवन का सफल नहीं होना बलात्कार के मामलों में वृद्धि का बड़ा कारण: उच्च न्यायालय

By: | Last Updated: Thursday, 19 June 2014 1:01 PM

नई दिल्ली: दिल्ली उच्च न्यायालय ने कहा है कि सहजीवन का सफल नहीं होना या युवाओं का एक..दूसरे के लिए असमय प्रतिबद्धता जताना, जिसके बाद संबंध विच्छेद हो जाता है, बलात्कार के मामलों में बढ़ोतरी का एक बड़ा कारण है .

 

अदालत ने युवा युगलों के अभिभावकों से कहा कि ऐसे मामलों में ‘‘ज्यादा संवेदनशीलता’’ का परिचय दें .

 

न्यायमूर्ति कैलाश गंभीर और न्यायमूर्ति सुनीता गुप्ता की पीठ ने दिल्ली निवासी लड़की के पिता सहित परिवार के चार सदस्यों को आजीवन कारावास की सजा बरकरार रखते हुये यह टिप्पणी की. न्यायालय ने लड़की से संबंधों से खफा होने के कारण प्रेमी की हत्या के जुर्म में उसके पिता और दूसरे परिजनों को यह सजा सुनाई गई .

 

इस मामले में 24 वर्षीय युवक की हत्या से क्षुब्ध पीठ ने कहा कि युवा वयस्कों, खासकर लड़कियों, को ज्यादा जिम्मेदार होने की जरूरत है और शादी या सहजीवन संबंधों जैसे महत्वपूर्ण निर्णय लेने में परिपक्वता दर्शाने की आवश्यकता है .

 

अदालत ने कहा, ‘‘समय की जरूरत है कि लड़के और लड़कियों को शादी या सहजीवन संबंध जैसे महत्वपूर्ण निर्णय करने से पहले काफी सजग रहने की आवश्यकता है .’’ अदालत ने कहा, ‘‘बलात्कार के मामलों में बढ़ोतरी के बड़े कारणों में सहजीवन संबंध या युवा वयस्कों की तरफ से अपरिपक्व निर्णय लेना भी है जिसके बाद संबंध अक्सर टूट जाते हैं लेकिन कई बार शारीरिक संबंध में संलिप्त होने के बाद भी ऐसा होता है .’’

 

अदालत ने कहा, ‘‘अभिभावकों से उम्मीद की जाती है कि उन्हें ज्यादा संवेदनशीलता एवं परिपक्वता से काम करने की जरूरत है क्योंकि ऐसे मुद्दों में धर्य, आपसी समझ एवं सहनशीलता की आवश्यकता होती है न कि लापरवाही बरतने की .’’

India News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: सहजीवन का सफल नहीं होना बलात्कार के मामलों में वृद्धि का बड़ा कारण: उच्च न्यायालय
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
First Published:

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017