सुशील शिंदे हो सकते हैं लोकसभा में नए नेता

सुशील शिंदे हो सकते हैं लोकसभा में नए नेता

By: | Updated: 17 Jul 2012 10:04 PM


नई दिल्ली: केंद्रीय
ऊर्जा मंत्री सुशील कुमार
शिंदे लोकसभा में नए नेता
बनाए जा सकते हैं. प्रणब
मुखर्जी के राष्ट्रपति
चुनाव में संयुक्त
प्रगतिशील गठबंधन का
उम्मीदवार बनने के बाद से यह
पद खाली है.




सूत्रों के मुताबिक शिंदे को
पद मिल सकता है. हालांकि
प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह
द्वारा तय किए नामों की सूची
में उनका नाम केंद्रीय गृह
मंत्री पी. चिदम्बरम और पूर्व
केंद्रीय मंत्री वीरभद्र
सिंह के बाद तीसरे नंबर पर है.




सरकार में इस बात को लेकर
चिंता है कि अगर चिदम्बरम को
नेता बनाया जाता है तो विपक्ष
2जी घोटाले में उनकी कथित
संलिप्तता को लेकर सरकार के
खिलाफ एकजुट हो सकता है. इसी
तरह शिमला की एक अदालत द्वारा
भ्रष्टाचार के एक मामले में
वीरभद्र सिंह के खिलाफ आरोप
तय किया जा चुका है और इसके
बाद उन्हें केंद्रीय मंत्री
पद छोड़ना पड़ा है.




सूची में शिंदे के बाद
कारपोरेट मामलों के मंत्री
एम. वीरप्पा मोइली और शहरी
विकास मंत्री कमलनाथ का नाम
आता है. शिंदे एक दलित नेता
हैं और वह महाराष्ट्र के
मुख्यमंत्री भी रह चुके हैं.
इसके साथ ही उनका संसदीय
अनुभव भी व्यापक है.




नेता का चुनाव आठ अगस्त से
पहले कर लेना होगा क्योंकि इस
दिन से संसद का मानसून सत्र
शुरू होने वाला है. नियमों के
मुताबिक सदन का नेता
प्रधानमंत्री को होना चाहिए
अगर वह उस सदन का सदस्य हो
अथवा उसके द्वारा नियुक्त
मंत्री हो सकता है.




फटाफट ख़बरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर और डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App
Web Title:
Read all latest India News headlines in Hindi. Also don’t miss today’s Hindi News.

First Published:
Next Story 4 साल बाद डीजीएमओ स्तर की बातचीत पर विचार कर रहा पाकिस्तान: मीडिया रिपोर्ट