सू ची चाहती हैं भारतीय संसद से बेहतर रिश्ते

सू ची चाहती हैं भारतीय संसद से बेहतर रिश्ते

By: | Updated: 15 Nov 2012 10:34 PM


नई दिल्ली:
म्यांमार की विपक्षी नेता
एवं लोकतंत्र के समर्थन की
प्रतिमूर्ति आंग सान सू ची ने
गुरुवार को उम्मीद जताई कि
दोनों देशों की संसदों के बीच
आपसी रिश्ते और गहरे होंगे.

उन्होंने
रेखांकित किया कि उनका देश
'धीरे-धीरे और अविरल गति से'
लोकतंत्र के पथ पर अग्रसर है.
नेशनल लीग फॉर डेमोक्रेसी की
अध्यक्ष सू ची इस समय छह
दिवसीय भारत दौरे पर हैं.

गुरुवार
को दोपहर बाद उन्होंने
लोकसभा अध्यक्ष मीरा कुमार
से मुलाकात की. बातचीत के
दौरान सू ची ने कहा कि उनका
देश धीरे-धीरे और अविरल गति
से लोकतंत्र के पथ पर आगे बढ़
रहा है.

उन्होंने कहा,
"म्यांमार को अपने मूल्यवान
पड़ोसियों से सहयोग की जरूरत
पड़ेगी, खासकर भारत से."

उन्होंने
उम्मीद जताई कि उनके देश के
लोगों में लोकतंत्र और कानून
के शासन की भावना और गहरी
होगी तथा दोनों देशों के
संसदों के बीच कामकाज के
तरीकों का आदान-प्रदान
द्विपक्षीय संबंधों को और
ऊंचाई तक ले जाएगा.

प्रधानमंत्री
मनमोहन सिंह से मुलाकात करने
के अगले दिन सू ची
उपराष्ट्रपति हामिद अंसारी
और विदेश मंत्री सलमान
खुर्शीद से मिलीं.





फटाफट ख़बरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर और डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App
Web Title:
Read all latest India News headlines in Hindi. Also don’t miss today’s Hindi News.

First Published:
Next Story 4 साल बाद डीजीएमओ स्तर की बातचीत पर विचार कर रहा पाकिस्तान: मीडिया रिपोर्ट